S M L

अलविदा 2016: टेक्नोलॉजी की दुनिया में क्या रहा यादगार

एक नजर साल 2016 में तकनीक की दुनिया की सबसे बड़ी खबरों पर...

Pawas Kumar | Published On: Dec 29, 2016 03:34 AM IST | Updated On: Dec 29, 2016 03:39 AM IST

अलविदा 2016: टेक्नोलॉजी की दुनिया में क्या रहा यादगार

इस साल तकनीक की दुनिया में बहुत कुछ हुआ. कुछ बड़े डिजास्टर भी हुए तो कुछ शानदार प्रॉडक्ट और तकनीक भी सामने आईं. जहां पोकेमॉन गो ने पूरी दुनिया को अपना दीवाना बनाया तो वहीं फेसबुक पर फेकिंग न्यूज के जंजाल ने तकनीक के राजनीतिक दुनिया पर भी असर डाला. एक नजर साल 2016 में तकनीक की दुनिया की सबसे बड़ी खबरों पर...

जियो ने बदली 4जी की दुनिया

Jio-06

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने सितंबर में अपनी 4जी सेवा जियो लॉन्च की. जियो ने पहले तीन महीने के लिए लोगों को फ्री डाटा, कॉलिंग, एसएमएस, जीरो रोमिंग जैसी सुविधाएं ऑफर कीं. नतीजा ये हुआ कि जियो का सिम लेने के लंबी-लंबी लाइनें लगने लगीं. हालांकि इसके ऑफर को लेकर दूसरी कंपनियों ने ट्राई का दरवाजा खटखटाया. बदले में रिलायंस ने इन टेलिकॉम कंपनियों पर उसके कॉल ब्लॉक करने का आरोप लगाया. जियो ने कुछ ही दिनों में 5 करोड़ ग्राहक जुटाए. जियो के कारण दूसरी कंपनियों को भी रेट कम करने पड़े. दिसंबर में मुकेश अंबानी ने नया फ्री ऑफर पेश किया. अब जियो मार्च तक पूरी तरह से मुफ्त है.

पोकेमॉन गो ने बनाया दीवाना

Pokemon-Go

ऑगमेटेड रियलिटी पर आधारित निंटेंडो के पोकेमॉन गो गेम लॉन्च के साथ ही तहलका मचा दिया. घरों में बैठकर खेलने वाले गेमर अचानक मोबाइल लिए सड़कों पर नजर आने लगे. दीवानगी ऐसी कि कभी-कभार तो दुर्घटनाएं भी हो गईं. हालांकि चीन जैसे कुछ देशों ने इस गेम पर पाबंदी भी लगाई. भारत में आधिकारिक रूप से गेम दिसंबर में आया लेकिन इसको काफी पहले खेला जाने लगा था. पोकेमॉन गो ने भविष्य के गेमों के लिए नया रास्ता खोला.

फेसबुक की फेकिंग न्यूज

Facebook-News

फेसबुक एक सोशल नेटवर्किंग साइट से आगे बढ़कर न्यूज का सबसे बड़ा माध्यम बन गया है. हालांकि इस ओपन-टु-ऑल माध्यम के खतरे भी नजर दिखाए दिए. फेक न्यूज ने यूजर्स को खूब भटकाया. हद तो तब हो गई जब कहा गया कि फेसबुक पर फेक न्यूज को अमेरिका के चुनाव में जीत-हार का जिम्मेदार ठहराया गया. आखिरकार फेसबुक ने भी माना कि उसे फेक न्यूज से लड़ने की जरूरत है. मार्क जकरबर्ग ने इसके लिए कई उपायों की घोषणा भी की है. नए साल में ये उपाय कितने कारगर साबित होते हैं, यह देखने वाली बात होगी.

ऐपल का नया आईफोन 7

iPhone 7 में 1960mAh और iPhone 7 Plus में 2900mAh का कैमरा है. ऐपल का दावा है कि नए आईफोन्स में पहले के मुकाबले ज्यादा बैकअप देने वाली बैटरी है. कंपनी का कहना है कि आईफोन 7 की बैटरी आईफोन 6s की बैटरी के मुकाबले 2 घंटे ज्यादा चलती है, जबकि आईफोन 7 प्लस की बैटरी आईफोन 6s प्लस की बैटरी से 1 घंटा ज्यादा बैकअप देती है.

मार्च में ऐपल ने अपना सस्ता और साइज में अपेक्षाकृत छोटा स्मार्टफोन आईफोन एसई लॉन्च किया. अब तक का सबसे सस्ता यह स्मार्टफोन 16 जीबी तथा 64 जीबी इंटरनल मेमोरी के साथ पेश किया गया. इसके बाद ऐपल ने सितंबर महीने में 'ऐपल वाच सीरीज 2' के साथ अपने आईफोन 7 तथा आईफोन 7 प्लस पर से पर्दा हटाया. अब तक के सबसे उन्नत (और महंगे) आईफोन को लोगों ने हाथोहाथ तो लिया लेकिन कुछ सवाल भी उठाए. आईफोन 7 के साथ वायरलेस एयरबड्स पर काफी प्रतिक्रिया हुई. कुछ ने इसे पसंद किया तो कुछ ने इसे बेकार बताया. इतना तो तय था कि ऐपल के नए आईफोन ने भविष्य के लिए नई दिशा तय कर दी.

सैमसंग गैलक्सी नोट7 का धमाका

Samsung-Galaxy-Note-7

जहां ऐपल ने आईफोन 7 के जरिए नई सफलता छूई वहीं उसकी सबसे बड़ी प्रद्वंद्वी सैमसंग के साल मिलाजुला रहा. गैलक्सी एस7 एज जैसे फोन काफी लोकप्रिय रहे. हालांकि सैमसंग सबसे ज्यादा चर्चा मिली नोट 7 को लेकर. फोन में आग लगने की घटनाओं के सामने आने से सैमसंग की साख को बड़ा झटका लगा. इस फोन को विमान यात्रा के दौरान प्रतिबंधित कर दिया गया. सैमसंग ने यह कहते हुए सैमसंग गैलेक्सी नोट-7 को दुनिया भर के बाजारों से वापस ले लिया कि ग्राहकों की सुरक्षा उसकी सर्वोच्च प्राथमिकता है. फ्रांस से गैलेक्सी जे5 के भी फटने की खबर आई.

अमेजन की ड्रोन डिलीवरी

Amazon boxes are seen stacked for delivery in

ई-कॉमर्स वेबसाइट अमेजन ने इस साल पहली बार ड्रोन से सामान पहुंचाया. अमेजन ने ब्रिटेन में अपना पहला ऑर्डर ड्रोन से डिलीवर किया.ऑर्डर बुक होने के महज 13 मिनट में ही सामान की डिलीवरी हो गई. वैसे अमेजन पहली कंपनी नहीं थी जिसने ड्रोन से सामान डिलीवर किया हो. गूगल की पेरेंट अल्फाबेट ने भी एयर डिलीवरी की थी, लेकिन अमेजन ड्रोन डिलीवरी के काम को बड़े स्तर पर चालू करने की तैयारी कर रहा है. वैसे इसको लेकर कई कानूनी अड़चनें आ सकती हैं लेकिन संभव है कि आने वाले दिनों में आपका पिज्जा ड्रोन से ही आए.

बिक गया याहू!

yahoo

दुनि‍या की बड़ी सर्च इंजन कंपनि‍यों में से एक याहू को वेरिजॉन कम्‍युनि‍केशंंस ने खरीदने की तैयारी कर ली है. वेरिजन ने याहू के कोर इंटरनेट बि‍जनेस को 483 करोड़ डॉलर (32 हजार करोड़ रुपए) में खरीदने का ऑफर दिया है. इंटरनेट की दुनिया में यह सबसे बड़ा सौदा है. वैसे उसके बाद याहू के हैकिंग को लेकर किए गए खुलासों से इस डील के पूरे होने पर सवाल भी उठ खड़े हुए हैं.

हैकिंग ने किया परेशान

LegionHacking

यह साल हैकिंग के भी नाम रहा. भारत में राहुल गांधी, कांग्रेस औऱ विजय माल्या के अलावा कई पत्रकार  हैकिंग का शिकार हुए. लीजन नाम के हैकर्स ने इसकी जिम्मेदारी ली. इससे पहले कुछ बैंकों के डाटा भी हैक किए गए थे.

अमेरिका में चुनाव से ऐन पहले हिलेरी क्लिंटन के ईमेल्स हैक किए गए. विकीलीक्स ने इन्हे्ं जारी भी किया. कुछ लोगों ने इसे हिलेरी के हारने का बड़ा कारण बताया. यह भी कहा गया कि इस हैकिंग के जरिए रूस ने ट्रंप की जीत सुनिश्चित की. याहू ने खुलासा कि कुछ साल पहले उसके करोड़ों अकाउंट हैक कर लिए गए थे.

जकरबर्ग ने बनाया 'जारविस'

Jarvis_shield_interface

फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने आयरन मैन फिल्म के जारविस की तरह एक एआई असिस्टेंट तैयार किया. इसके जरिए वह अपने घर को कंट्रोल करते हैं. यह एक होम ऑटोमेशन आर्टिफिशल इंटेलिजेंस सिस्टम है, जिसके जरिए घर के बिजली से चलने वाले उपकरणों और सिक्योरिटी सिस्टम को कंट्रोल किया जाता है. इसे खुद जकरबर्ग ने किसी की मदद लिए बिना फेसबुक के ही टूल्स से बनाया है, जिनमें डीप लर्निंग और मैसेंजर एपीआईज शामिल है. हालांकि फिलहाल जकरबर्ग ने इसे एक घरेलू प्रोजेक्ट के तौर पर रखा है लेकिन एआई विकास के दौर में यह बड़ा कदम रहा.

मस्क का मार्स मिशन

Elon-Musk

स्पेसएक्स कंपनी के प्रमुख एलॉन मस्क ने मंगल पर बस्ती बसाने की योजना पेश की. मस्क ने अपनी योजना को दुनिया के सामने पेश किया जिसमें बताया गया कि वह एक बार में 100 लोगों को मंगल पर ले जाएंगे. एक आदमी के मंगल पर जाने का खर्च भी एक लाख डॉलर से ज्यादा नहीं होगा. इंटरनेशनल एस्ट्रोनॉटिकल कांग्रेस में मस्क ने बताया कि वह हमारे जीवनकाल में ही एक ऐसा रॉकेट मंगल पर भेजने में कामयाब हो जाएंगे मस्क को उम्मीद है कि 2024 तक ऐसा पहला मानव मिशन मंगल की करोड़ों किलोमीटर की यात्रा पर रवाना हो जाएगा.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi