S M L

भीम ऐप... असली और नकली में कैसे फर्क करें यूजर्स?

असली 'भीम' ऐप कैसे करें डाउनलोड ?

FP Staff | Published On: Jan 03, 2017 10:47 PM IST | Updated On: Jan 03, 2017 11:11 PM IST

भीम ऐप... असली और नकली में कैसे फर्क करें यूजर्स?

कैशलेस इकोनॉमी को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 दिसंबर को भारत इंटरफेस फॉर मनी (बीएचआईएम) ऐप लॉन्च किया था.

केवल दो दिन के अंदर ही ये गूगल प्ले स्टोर पर डाउनलोड किये जाने वाला टॉप ऐप बन गया. लोग अपने फोन में धड़ाधड़ इस ऐप को डाउनलोड कर रहे हैं. नकद रहित लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए तैयार भीम ऐप मुफ्त एंड्रॉयड एप कैटेगरी में है.

लेकिन, अब इस ऐप को लेकर कई तरह की दिक्कतें सामने आ रही हैं. ऐप को डाउनलोड करने वाले लोग इसे लेकर शिकायत कर रहे हैं.

भीम ऐप से कैसी-कैसी शिकायतें ?

ऐप इंस्टॉल नहीं हो रहा

इंस्टॉलेशन के बाद पैसे भेज या प्राप्त नहीं कर पा रहे

पैसे भेजने या प्राप्त करने की पुष्टि नहीं हो रही

भीम ऐप को मिल रही लोकप्रियता से अब ये डेवलपर्स और हैकर्स के निशाने पर आ गया है.

डेवलपर्स ने 'भीम' ऐप की नकल के कई ऐप बनाकर उन्हें प्ले स्टोर पर डाल दिया है. जिनमें मोदी भीम, भीम यूपीआई बैंक नो इंटरनेट नाम के ऐप शामिल हैं.

Modi BHIM App Launch

प्रधानमंत्री नरेंद्र दिल्ली में 'भीम' ऐप को लॉन्च करते हुए  (पीटीआई)

असली 'भीम' ऐप कैसे करें डाउनलोड ?

प्ले स्टोर पर सर्च ऑप्शन में BHIM App डालने पर असली BHIM App के साथ Modi BHIM, BHIM CASHLESS, BHIM BANKING, Modi BHIM App, BHIM 2017, BHIM Modi जैसी कई और ऐप दिखने लगती हैं. इनमें से कुछ ऐप को यूजर्स खोलेंगे तो उसमें असली भीम ऐप के इस्‍तेमाल और असली ऐप डाउनलोड करने का लिंक दिया गया है.

ऐसे में यूजर्स असली और नकली ऐप के बीच कंफ्यूज हो जा रहे हैं.

हम यूजर्स को भीम ऐप पहचानने का सही तरीका बताते हैं जिससे उन्हें असली ऐप डाउनलोड करने में मदद मिलेगी.

भीम ऐप को आधिकारिक गूगल प्‍ले स्‍टोर से ही डाउनलोड करें.

भीम को नेशनल पेमेंट्स कार्पोरेशन ऑप इंडिया (एनपीसीआई) ने बनाया है. बिना उसका सर्टिफिकेशन देखे उसे डाउनलोड नहीं करें.

बहुत से ऐसे ऐप मिलेंगे जिसके जीओवी.इन (गोव डॉट इन) वेरिफाइड होने की बात कही गई होगी. इन पर ध्यान मत दें. ऐसे ऐप पूरी तरह से फर्जी हैं. ऐसा कोई भी ऐप आपकी निजता में सेंध लगा सकता है.

मोदी सरकार ने यह ऐप कैशलेस या लेस-कैश इकॉनमी को बढ़ावा देने के लिए शुरू की है. यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) पर आधारित इस ऐप की खासियत है कि, ये सभी बैंकों के लिए कॉमन है.

भीम ऐप इस्तेमाल करने के लिए मोबाइल बैंकिंग की जरूरत नहीं है. केवल आपका मोबाइल नंबर बैंक खाते से लिंक होना चाहिए.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi