S M L

एपल ने क्यों दी थी उबर को ऐप हटाने की धमकी?

एपल फोन से उबर का ऐप डिलीट करने के बावजूद उबर ट्रैक कर रहा था फोन का लोकेशन

FP Staff | Published On: Apr 24, 2017 04:22 PM IST | Updated On: Apr 24, 2017 11:07 PM IST

0
एपल ने क्यों दी थी उबर को ऐप हटाने की धमकी?

बहुराष्ट्रीय कैब सेवा प्रदाता उबर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ट्रेविस कलानिक अपने जोखिम भरे फैसलों के लिए जाने जाते हैं.

लेकिन एपल के ऐप स्टोर के लिए निर्धारित नियमों का उल्लंघन करने के कारण वह थोड़ा परेशानी में पड़ सकते थे.

यह भी पढ़ें: वाट्सऐप लाया नए अपडेट्स, 'सीरी' पढ़ेगी आपके मैसेज

समाचार पत्र ‘न्यूयार्क टाइम्स’ में रविवार को प्रकाशित खबर के मुताबिक, एपल के सीईओ टिम कुक को 2015 में पता चला था कि कलानिक ने अपने कर्मचारियों को एपल द्वारा बनाए गए उबर ऐप की नकल करने के लिए कहा है तो उन्होंने कलानिक से मुलाकात की.

उबर कर रहा था प्राइवेसी नियमों का उल्लंघन 

कुक को पता चला था कि उबर किसी आईफोन से उबर का ऐप अनइंस्टाल करने और मोबाइल को रीस्टोर करने के बावजूद उबर गोपनीय तरीके से उन आईफोन की पहचान कर उन्हें टैग कर रही थी. ऐसा करना एपल की प्राइवेसी के नियमों का उल्लंघन था और कुक ऐसा नहीं चाहते थे.

खबर में कहा गया है कि कुक ने उस बैठक में कलानिक से चेतावनी के स्वर में कहा था, 'मुझे पता चला है कि आप हमारे कुछ नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं. यह चालाकी बंद कीजिए अन्यथा एपल के ऐप स्टोर से आपका ऐप पूरी तरह हटा दिया जाएगा.'

अगर उस समय एपल के ऐप स्टोर से उबर का ऐप हटा दिया गया होता तो उबर को आईफोन धारक लाखों ग्राहकों से वंचित होना पड़ता.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi