S M L

विंबलडन ओपन 2017: सेमीफाइनल में पहुंचे फेडरर, 19वीं बार खिताब जीतने का सुनहरा मौका

फेडरर 12वीं बार विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंचे

FP Staff | Published On: Jul 13, 2017 12:29 PM IST | Updated On: Jul 13, 2017 06:04 PM IST

0
विंबलडन ओपन 2017: सेमीफाइनल में पहुंचे फेडरर, 19वीं बार खिताब जीतने का सुनहरा मौका

विंबलडन ओपन में जहां हर दिन बड़े स्टार खिलाड़ी उलटफेर का शिकार हो रहे हैं तो दूसरी तरफ स्विट्जरलैंड के स्टार खिलाड़ी और सात बार के चैंपियन रोजर फेडरर विंबलडन-2017 के सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं.

रोजर फेडरर साल के तीसरे ग्रैंड स्लैंम टूर्नामेंट के क्वॉर्टर फाइनल में कनाडा के मिलोस राओनिक को मात दी. विंबलडन में अपना 100वां मैच खेल रहे 35 साल के फेडरर 12वीं बार विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंचे हैं. फेडरर ने राओनिक को 6-4, 6-2, 7-6 (7-4) से मात दी.

फेडरर विंबलडन के इतिहास में सेमीफाइनल में पहुंचने वाले दूसरे सबसे उम्रदराज खिलाड़ी हैं. इससे पहले 1974 में ऑस्ट्रेलिया के केन रोसवाल 39 साल की उम्र में विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंचे थे. उस साल केन रनर-अप रहे थे.

अब रोजर फेडरर तो सेमीफाइनल में पहुंच गए. लेकिन एक सच बात ये भी है कि मरे, नडाल, जोकोविच के बाहर हो जाने के बाद विंबलडन से बाहर हो जाने के बाद फैंस इन बड़े खिलाड़ियों के बीच होने वाली टक्कर को मिस करेंगे.

दूसरी बात ये भी है कि क्या अब रोजर को टक्कर देने वाला खिलाड़ी इस टूर्नामेंट में बचा भी है या नहीं. रोजर के अलावा अमेरिका के सैम क्वेरी, चेक गणराज्य के टॉमस बर्डिख और क्रोएशिया के मारिन चिलिच सेमीफाइनल में पहुंचे हैं.

अब रैंकिंग और अनुभव दोनों के हिसाब से ये सभी खिलाड़ी फेडरर से कमजोर नजर आते हैं. फेडरर की मौजूदा रैंकिंग 3 है और इन सभी सेमीफाइनलिस्ट में कोई भी खिलाड़ी टॉप 5 में नहीं है. सबसे बेहतर रैंकिंग चिलिच की है जो 7वें नंबर पर काबिज है. बाकी दो खिलाड़ी तो टॉप 10 में भी नहीं है.

अब रैंकिंग और फेडरर की फॉर्म को देखते हुए तो यही लग रहा है कि क्या ये खिलाड़ी 18 ग्रैंड स्लैम जीतने वाले फेडरर को टक्कर दे पाएंगे. हालांकि दूसरा पक्ष देखे तो फेडरर के पास 19वीं बार खिताब जीतने का सुनहरा मौका है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi