S M L

खेल पुरस्कारों में कोई नया नाम शामिल नहीं होगा, खेल मंत्री विजय गोयल ने किया फैसला

वेटलिफ्टर संजीता चानू और रोहन बोपन्ना के नाम को शामिल करने की हो रही थी मांग

Shailesh Chaturvedi Updated On: Aug 19, 2017 02:02 PM IST

0
खेल पुरस्कारों में कोई नया नाम शामिल नहीं होगा, खेल मंत्री विजय गोयल ने किया फैसला

इस साल के खेल पुरस्कारों की लिस्ट में अब कोई बदलाव नहीं होगा. खेल मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक खेल मंत्री विजय गोयल ने खेल पुरस्कार निर्धारित करने के लिए बना ठक्कर कमेटी की सिफारिशों को मंजूर कर कर लिया है और उसमें अब कोई भी नया नाम नहीं जोड़ा जाएगा. वहीं द्रोणाचार्य अवॉर्ड लिए की गई सिफारिशों में से पैरा कोच सत्यनारायण के नाम को हटा दिया गया है. सत्यनारायण के खिलाफ दिल्ली की साकेत अदालत में आपराधिक मामला दर्ज होने के चलते यह कदम उठाया गया है.

फर्स्टपोस्ट हिंदी से बात करते हुए खेल मंत्रालय के एक बड़े अधिकारी ने बताया है कि इन पुरस्कारों को दिए जाने के लिए ठक्कर कमेटी का गठन किया गया था और इस कमेटी के की सिफारिशों का सम्मान करते हुए खेल मंत्रालय ने उन्हे मंजूरी दे दी है. आपको बता दें कि वेटलिफ्टिंग फेडरेशन के अनुरोध पर खेल सचिव ने अपनी ओर से खेल मंत्री से वेटलिफ्टर संजीता चानू को अर्जुन पुरस्कार देने की सिफारिश की थी. जिसके बाद ठक्कर कमेटी के कुछ सदस्यों ने इस पर आपत्ति भी जताई थी.

वही दूसरी ओर टेनिस खिलाड़ी रोहन बोपन्ना के नाम की एंट्री भी टेनिस संघ वक्त रहते नहीं भेज पाया था. जिसके बाद बीते साल में रोहन के शानदार प्रदर्शन को द्खते हुए उन्हें राजीव गींधी खेल रत्न दिए जाने की मांग उठ रही थी. इसके अलावा पैरा एथलीट दीपा मलिक भी खुद को राजीव गांधी खेल रत्न से नवाजने की मांग कर रही थी और इसके लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी उनका समर्थन कर रहे थे.

ऐसे में इतनी सारी मांगों के बीच खेल मंत्रालय ने ठक्कर कमेटी की सिफारिशों के अनुकूल ही खेल पुरस्कार देने का फैसला किया है. यह पुरस्कार 29 अगस्त को यानी हॉकी के जादूगर ध्यान चंद के जन्मदिन के दिन राष्ट्रपति के हाथों प्रदान किया जाते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi