S M L

भारतीय फुटबॉल टीम ने वो किया, जो 21 साल में नहीं किया

1996 के बाद पहली बार भारतीय फुटबॉल टीम विश्व रैंकिंग में टॉप 100 में पहुंची

Shailesh Chaturvedi | Published On: May 04, 2017 06:36 PM IST | Updated On: May 04, 2017 06:36 PM IST

भारतीय फुटबॉल टीम ने वो किया, जो 21 साल में नहीं किया

भारतीय फुटबॉल टीम ने 21 साल में पहली बार फीफा विश्व रैंकिंग में शीर्ष-100 में प्रवेश किया है. फीफा की गुरुवार को जारी ताजा रैकिंग में कोच स्टीफन कोंस्टेंटाइन वाली टीम ने 100वां स्थान हासिल किया है. वह इस स्थान पर निकारागुआ, लिथुआनिया और इस्टोनिया के साथ सुंयक्त रूप से काबिज है.

इससे पहले भारत फीफा रैंकिंग में शीर्ष 100 में 1996 में पहुंचा था. फरवरी 1996 में भारत को 94वां स्थान मिला था. उसके बाद यह भारत की सर्वश्रेष्ठ फीफा रैंकिंग है. भारत को हाल ही में कंबोडिया, म्यांमार के खिलाफ घर से बाहर मिली जीत का फायदा हुआ है.

भारत अपना अगला अंतरराष्ट्रीय दोस्ताना मैच सात जून को लेबनान के खिलाफ खेलेगा. इसके बाद वह एएफसी कप में 13 जून को किर्गिस्तान के खिलाफ खेलेगी.

भारत की फीफा रैंकिंग में सुधार से खुश हूं : विजयन

भारत के दिग्गज फुटबॉल खिलाड़ी आई.एम. विजयन भारत के शीर्ष-100 देशों में वापस आने को लेकर बेहद खुश हैं. उनका कहना है कि जो टीम लंबे समय से काफी नीचे चल रही थी, उसका इस स्तर पर आना बताता है कि उसने सुधार किया है.

विजयन ने कहा, ‘यह अच्छी खबर है. हम बड़े अरसे से काफी नीचे थे. यह कुछ करने का समय था और भारतीय कोच स्टीफन कोंस्टेंटाइन ने इसके लिए शानदार काम किया.’

उन्होंने कहा, ‘हमारे समय में सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग 95 थी। मैं इस बात से खुश हूं कि टीम जीत की राह पर आगे बढ़ रही है और उसकी रैंकिंग बेहतर हो रही है.’

अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) के महासचिव कुशल दास ने कहा है कि टीम का रैंकिंग में ऊपर आना आकंड़ों का खेल है और टीम को अपने दिमाग में सुधार करने और जीत की राह पर बने रहने की जरूरत है.

दास ने कहा, ‘यह कई बार आंकड़ों का खेल होता है. रैंकिंग हर बार आपको सच नहीं बताती. यह हमारे लिए अहम है क्योंकि इससे हम अच्छे विपक्षियों के साथ खेलेंगे. लेकिन हमें अपने दिमाग में सुधार करने की जरूरत है और खुद में विश्वास करना है कि हम लगातार मैच जीतते रहें.’

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi