S M L

फ्रेंच ओपन टेनिस 2017 : ओस्तापेंको बनीं चैंपियन, रचा इतिहास

20 साल की ओस्तापेंको ने कड़े संघर्ष में सिमोना हालेप को दी मात

IANS | Published On: Jun 10, 2017 11:02 PM IST | Updated On: Jun 10, 2017 11:02 PM IST

फ्रेंच ओपन टेनिस 2017 : ओस्तापेंको बनीं चैंपियन, रचा इतिहास

ये तय था कि पेरिस में नया चैंपियन दिखेगा. लेकिन उम्मीदें तीसरी सीड सिमोना हालेप के साथ थीं. हालांकि लातविया की गैरवरीय खिलाड़ी येलेना ओस्तोपेंको ने अपना बेहतरीन प्रदर्शन जारी रखा. उन्होंने महिला सिंगल्स फाइनल में पहला सेट गंवाने के बाद शानदार वापसी की. तीसरी वरीय सिमोना हालेप को हराकर फ्रेंच ओपन खिताब जीत लिया.

बीस वर्षीय ओस्तापेंको ने यह कड़ा मुकाबला 4-6, 6-4, 6-3 से जीता. वह रोलां गैरो में खिताब जीतने वाली पहली गैर वरीय और सबसे कम रैंकिंग की खिलाड़ी बन गई हैं. लातविया की वह पहली खिलाड़ी हैं, जिसने कोई ग्रैंडस्लैम खिताब जीता.

यही नहीं, वह इवा मयोली (1997) के बाद सबसे कम उम्र की फ्रेंच ओपन विजेता हैं और गुस्तावो कुएर्तन के बाद पहली ऐसी खिलाड़ी हैं जिसने ग्रैंडस्लैम में पदार्पण टूर स्तरीय खिताब जीता. कुएर्तन ने 1997 में रोलां गैरो पर ही यह कमाल दिखाया था. हालेप इली नास्तासे और वर्जीनिया रूजिसी के बाद ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने वाली तीसरी रोमानियाई खिलाड़ी बनने की राह पर थीं लेकिन रोलां गैरां पर उन्हें चार साल में दूसरी बार फाइनल में हार झेलनी पड़ी.

अगर यह 25 वर्षीय खिलाड़ी खिताब जीत लेती तो एंजलिक कर्बर की जगह विश्व की नंबर एक खिलाड़ी बन जाती लेकिन ओस्तापेंको के सामने उनकी एक नहीं चली जिन्होंने 54 विनर्स लगाए. इसके जवाब में हालेप केवल दस विनर ही जमा पाई.

हालेप ने कहा, ‘मैं आहत हूं लेकिन उम्मीद है कि भविष्य में यह खिताब जीतने में सफल रहूंगी. मैं येलेना को बधाई देती हूं. इसका आनंद उठाओ और ऐसा ही अच्छा प्रदर्शन जारी रखो.’

दूसरे सेट के शुरू में दोनों खिलाड़ियों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला. उन्होंने एक दूसरे की सर्विस तोड़ी जिससे स्कोर 4-4 हो गया. इसके बाद हालांकि ओस्तापेंको ने शून्य पर हालेप की सर्विस तोड़ी और फिर यह सेट अपने नाम करके मैच को निर्णायक सेट तक खींच दिया. ओस्तापेंको इसके बाद भी हावी होकर खेली और उन्होंने 4-3 की बढ़त हासिल करके हालेप को परेशानी में डाल दिया.

क्वार्टर फाइनल में एलेना स्वितोलिना के खिलाफ मैच पॉइंट बचाने वाली हालेप इस बार ऐसा कोई कमाल नहीं दिखा पाईं और ओस्तापेंको ने एक और ब्रेक पॉइंट लेकर खिताब अपने नाम किया.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi