S M L

फीफा अंडर-17 फुटबॉल विश्वकप, भारत बनाम घाना, Highlights: 0-4 से हारा भारत

रात 8 बजे दिल्ली में खेला जाएगा मुकाबला

FP Staff | October 12, 2017, 09:56 PM IST

0

हाइलाइट

Oct 12, 2017

  • 21:53(IST)

    इसी के साथ भारत ने अपना तीसरा मुकाबला 0-4 से गंवा दिया, लगातार तीसरा मैच हारी टीम इंडिया, शायद टूर्नामेंट से भी बाहर हुआ भारत, पहले हाफ में भारत ने अच्छा गोल दिखाया लेकिन दूसरे हाफ में उसकी लय में बिगड़ती दिखी, भारत ने दूसरे हाफ में 3 गोल खाए

  • 21:48(IST)

    चौथा गोल, घाना ने कुछ ही मिनट में चौथा गोल किया, सैकेंड हाफ में घाना का तीसरा गोल, टोकू ने किया गोल

  • 21:47(IST)

    गोल, रिचर्ड डेनसो ने किया घाना की तरफ से तीसरा गोल. भारतीय पोस्ट में कोई डिफेंडर तक नहीं था, आसान सा गोल

  • 21:44(IST)

    भारत अब लगातार कोशिश कर रहा है लेकिन उसकी किस्मत साथ नहीं दे रही, जैक्सन ने फिर कोशिश की लेकिन असफल कोशिश

  • 21:41(IST)

    भारत ने काफी देर बाद शॉट खेला, लेकिन सीधा गोलकीपर के हाथ में

  • 21:38(IST)

    मैच में 13 मिनट का खेल बचा हुआ है, अब से मैच केवल औपचारिकता लग रहा है

  • 21:31(IST)

    दो गोल से बढ़त मिलने के बाद तो मानो घाना का आत्मविश्वास आसमान पर नजर आ रहा है. उसकी ओर से हमलों की मानों झड़ी लग गई. जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ता जा रहा है भारत खेल से बाहर होता जा रहा है. भारतीयों में टीम प्रयास की कमी. घाना की ओर से सभी खिलाड़ी सामूहिक प्रयास करते दिखे. भारत को अपने घर में खेलने का लाभ भी नहीं मिल सका. जिसकी उम्मीद जतायी जा रही थी.

  • 21:30(IST)

    घाना अपना खेल बदलने के मूड में नहीं है, वह लगातार भारतीय पोस्ट को निशाना बना रहे हैं

  • 21:27(IST)

    स्टेडियम में आज करीब 53000 दर्शक मैच देखने पहुंचे हैं

  • 21:26(IST)

    पोजिशन के मामले में भारत इस मैच में सुधार करता दिख रहा है, अब तक 58 प्रतिशत पोजिशन घाना और 42 प्रतिशत भारत के पास रही है

  • 21:24(IST)

    भारतीय टीम थोड़े दबाव में दिख रही है, घाना और आक्रामक हो चुका है, भारतीय टीम को जल्दी ही कुछ करना पड़ेगा नहीं तो उसके हाथ से मैच निकल जाएगा

  • 21:19(IST)

    नियोरम चोटिल होकर मैदान से बाहर गए

  • 21:14(IST)

    गोल, घाना ने किया दूसरा गोल, फिर से काईया भारतीय टीम पर भारी पड़े, धीरज के पास कोई मौका नहीं, भारतीय खिलाड़ियों ने थोड़ी लापरवाही भी दिखाई

  • 21:10(IST)

    हाफ टाइम के बाद खेल शुरू हो चुका है

  • 20:53(IST)

    पहले हाफ में भारत एक गोल से पिछड जरूर गया, लेकिन उसके पास अभी भी मौका है. दोनों टीमें लगातार ऑल आउट गेम खेल रही हैं. हालांकि उसका फायदा अभी तक घाना ने उठाया है. अगर दूसरे हाफ में भारतीय टीम दम खम में मात नहीं खाती है तो अगले 45 मिनट में काफी कुछ हो सकता है.

  • 20:50(IST)

    पहले हाफ का खेल खत्म, घाना 1-0 से आगे

  • 20:47(IST)

    धीरज को चोट लगी थी इसी कारण इतना लंबा अतिरिक्त समय मिला है

  • 20:46(IST)

    4 मिनट का अतिरिक्त समय दिया गया है

  • 20:44(IST)

    गोल, घाना ने किया पहला गोल, घाने के आईया ने किया पहला गोल, गोलकीपर धीरज के पास कोई मौका नहीं, 43वें मिनट में हुआ गोल

  • 20:43(IST)

    भारतीय टीम अच्छी तरह जानती है कि गति के मामले में उसका घाना से कोई मुकाबला नहीं है. इसलिए जब गेंद भारतीय पेनाल्टी एरिया में आती है तो मेजबान खिलाड़ियों की रणनीति उनके हमले को ऑफ साइड में बदल देने की रहती है. 

  • 20:42(IST)

    इस बीच आपको ये भी बता दें धीरज फिट है, अपनी जगह फिर संभाल ली

  • 20:42(IST)

    40 मिनट का खेल हो चुका है, अब तक काफी रोमांचक खेल हुआ है, दोनों ही टीमों ने कई मौके बनाए लेकिन सफलता किसी को नहींं मिली

  • 20:41(IST)
  • 20:40(IST)

    भारतीय गोलकीपर धीरज चोटिल हो गए हैं

  • 20:39(IST)

    भारत की मानसिकता आज काफी अच्छी लग रही है, भारतीय खिलाड़ी आज अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश में है

  • 20:38(IST)

    भारतीय खिलाड़ी जाधव लगातार घाना के गोल पोस्ट पर हमला कर रहे हैं

  • 20:35(IST)

    घाना को अच्छा मौका मिला था लेकिन उन्होंने मौका गंवा दिया, पोस्ट से बहुत ऊपर गेंद मारी

  • 20:34(IST)

    भारतीय खिलाड़ी बोरिस को मिला येलो कार्ड

  • 20:32(IST)

    भारतीय खिलाड़ी थोड़ी जल्दबाजी दिखा रहे है, उन्हे थोड़ा संयम होकर खेलना होगा

  • 20:31(IST)

    30 मिनट का खेल हो चुका है. दोनों टीमों का स्कोर 0-0, शुरुआत में भारत थोड़ा आक्रामक खेला लेकिन अब वह थोड़ा रक्षात्मक होकर खेल रहे है

फीफा अंडर-17 फुटबॉल विश्वकप, भारत बनाम घाना, Highlights: 0-4 से हारा भारत

भारतीय टीम के जुझारू प्रदर्शन की चारों ओर प्रशंसा हो रही है. अब गुरुवार को नई दिल्ली में फीफा अंडर-17 विश्व कप के ग्रुप ए के अंतिम मैच में पूर्व चैंपियन घाना के सामने फिर मेजबान खिलाड़ियों के जज्बे की परीक्षा होगी.

अमेरिका से शुरुआती मैच में मिली 0-3 की हार के बाद कोलंबिया के खिलाफ भारत से चुनौतीपूर्ण प्रदर्शन की उम्मीद नहीं थी, लेकिन घरेलू टीम ने प्रेरणादायी प्रदर्शन करके दिखा दिया कि वह दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ भी चुनौती पेश कर सकती है.

कोच लुई नोर्टन डि माटोस की डिफेंसिव रणनीति को उनके खिलाड़ियों ने कोलंबिया के खिलाफ बखूबी कार्यान्वित किया और टूर्नामेंट में पदार्पण कर रही टीम का भाग्य अगर साथ देता तो वो जीत भी दर्ज कर सकती थी. कोलंबिया ने मैच में दबदबा बनाए रखा, लेकिन डि माटोस ने बाद में माना कि अगर टीम पहले हाफ में बढ़त ले लेती तो नतीजा कुछ अलग हो सकता था. अगर राहुल कैनोली ने पहले हाफ के इंजुरी टाइम में गोल कर दिया होता तो ऐसा हो सकता था.

अब उम्मीदें भी बढ़ गई हैं तो डि माटोस और उनके खिलाड़ी यह साबित करना चाहेंगे कि कोलंबिया के खिलाफ उनका प्रदर्शन महज ‘तुक्का’ नहीं था और वे इस विश्व कप में प्रतिस्पर्धा के काबिल थे जिसमें उन्होंने मेजबान के तौर पर स्वत: क्वालीफाई किया. लेकिन यह उनके लिए आसान नहीं होगा, क्योंकि घाना ग्रुप में सबसे ज्यादा ताकतवर खिलाड़ियों वाली टीम है.

इसमें कोई शक नहीं कि दो बार की पूर्व चैंपियन घाना जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में होने वाले मुकाबले में प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगी. अमेरिका ने पहले ही दो मैच जीतकर ग्रुप ए से अंतिम-16 में जगह बना ली है, जबकि कोलंबिया और घाना के तीन-तीन अंक हैं,

भारत को जीत भी नॉकआउट चरण में नहीं पहुंचा सकती. अभी तक भारत ने कोई अंक हासिल नहीं किया है और पांच गोल गंवाए हैं और केवल एक गोल किया है और उसका गोल अंतर माइनस चार है जो ग्रुप की सभी चार टीमों से सबसे कम है.

अगर दो या ज्यादा टीमों के बराबर अंक होते हैं तो गोल अंतर से ग्रुप की रैंकिंग तय होगी. माटोस हालांकि शुरू से कह रहे हैं कि टीम के पास ग्रुप के तीन मैचों में जीतने का मौका कम ही है. इसलिए उन्हें डिफेंसिव रणनीति बनानी पड़ी और बीच में जवाबी हमलों पर ध्यान लगाना पड़ा. डि माटोस जानते हैं कि उनके खिलाड़ियों में टूर्नामेंट के अनुभव की कमी है.

वह अभी तक की रणनीति से खुश हैं और उन्होंने कहा कि टीम को हमले के पहलू पर काफी सुधार की जरूरत है. भारतीय टीम 4-4-1-1 की योजना से खेल रही है और उसने कोलंबिया के खिलाफ इसे अच्छी तरह कायम भी रखा. घाना के खिलाफ भी उनके इसी रणनीति के साथ चलने की उम्मीद है. अगर भारतीय टीम कोलंबिया की तरह पहले हाफ में बिना गोल खाए रहती है तो यह देखना दिलचस्प होगा कि वह गोल करने के लिए आक्रामकता बरतने के बारे में सोच विचार करते हैं या नहीं.

गोलकीपर धीरज सिंह भारत के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों में से एक हैं और उनसे ऐसा ही प्रदर्शन करने की उम्मीद होगी. अनवर अली ने भी भारतीय डिफेंस में नमित देशपांडे के साथ अच्छा खेल दिखाया है, जिनसे भी यह आशा होगी. अमेरिका और कोलंबिया के कोचों ने अनवर की तारीफों के पुल बांधे थे, वह बिना किसी परेशानी के मैच में पूरे 90 मिनट खेले.

घाना ने कोलंबिया को हराया था, लेकिन अमेरिका से टीम हार गई थी. अब टीम इस मैच में जीत से सीधे अंतिम 16 में प्रवेश करना चाहेगी

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi