S M L

सचिन तेंदुलकर को मिला एशियन ‘फेलोशिप अवार्ड’

सचिन ने कहा 'भारत के लिये 24 साल क्रिकेट खेलना यादगार यात्रा रहा. 2011 का वर्ल्ड कप जीतना सबसे महत्वपूर्ण.'

Bhasha | Published On: May 06, 2017 09:41 PM IST | Updated On: May 06, 2017 09:58 PM IST

सचिन तेंदुलकर को मिला एशियन ‘फेलोशिप अवार्ड’

महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को शुक्रवार रात लंदन में सातवें सालाना एशियाई पुरस्कार समारोह में ‘फेलोशिप’ अवार्ड से नवाजा गया.

एशियन अवॉर्ड का यह सातवां संस्करण है. इसमें ग्लोबल लेवल पर एशियाई समुदाय के अलग-अलग क्षेत्रों में हस्तियों को उनके अभूतपूर्व योगदान के लिए सम्मानित किया जाता है. अवॉर्ड के लिए आयोजकों ने कहा कि यह अवॉर्ड ग्लोबल आइकन को दिया जाता है जिन्होंने अपने करियर के दौरान जबरदस्त कामयाबी हासिल की है.

सचिन अपने जीवन की दूसरी पारी में गरीबों की मदद के लिये अलग तरह की शुरूआत करना चाहते हैं. उनकी योजना कई तरह की चैरिटी की मदद करने की है. उन्होंने कहा कि भारत के गरीब लोगों के सोलर एनर्जी से चलने वाली लाइट उपलब्ध कराना उनकी योजनाओं में से एक है.

देश के लिए 24 साल क्रिकेट खेलना यादगार यात्रा

इस खास मौके पर सचिन ने कहा 'भारत के लिये 24 साल क्रिकेट खेलना यादगार यात्रा रहा. इसमें 2011 का वर्ल्ड कप जीतना उनके लिए सबसे महत्वपूर्ण रहा.'

सचिन ने आठ साल के हालीवुड स्टार सन्नी पवार को मंच पर बुलाकर कहा, ‘जब मैं तुम्हारी उम्र का था तो मेरा सपना भारत के लिये क्रिकेट खेलना था.’

पवार को फिल्म ‘लायन’ में उनकी भूमिका के लिये ‘राइजिंग स्टार’ पुरस्कार मिला है.

सम्मान समारोह के मुख्य अतिथियों में लंदन के मेयर सादिक खान, मॉडल-एक्ट्रेस एमी जैकसन और टीवी प्रेजेंटर सायरा खान मौजूद थीं. एशियाई पुरस्कारों की शुरुआत 2010 में उद्यमी पॉल सागू ने की थी.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi