S M L

क्रिकेट विश्व कप से पहले दो अभ्यास मैच खेलेगी भारतीय महिला टीम

विश्व कप इंग्लैंड में 24 जून से 23 जुलाई के बीच खेला जाएगा

IANS | Published On: Apr 21, 2017 07:02 PM IST | Updated On: Apr 21, 2017 07:02 PM IST

0
क्रिकेट विश्व कप से पहले दो अभ्यास मैच खेलेगी भारतीय महिला टीम

भारतीय महिला क्रिकेट टीम जून में होने वाले आईसीसी विश्व कप से पहले दो अभ्यास मैच खेलेगी. विश्व कप इंग्लैंड में 24 जून से 23 जुलाई के बीच खेला जाएगा. अभ्यास मैच टूर्नामेंट से पहले 19 से 22 जून के बीच चार स्थानों पर खेले जाएंगे.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के जारी किए गए बयान के मुताबिक भारतीय टीम अपना पहला अभ्यास मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ 19 जून को डर्बीशायर में खेलेगी. इसी दिन इंग्लैंड और श्रीलंका भी अपना पहला अभ्यास मैच खेलेंगी.

भारतीय टीम अपना दूसरा अभ्यास मैच एक दिन बाद 21 जून को श्रीलंका के खिलाफ चेस्टरफील्ड में खेलेंगी. इस दिन न्यूजीलैंड की टीम इंग्लैंड के खिलाफ अभ्यास मैच खेलेंगी.

वेस्टइंडीज और पाकिस्तान के बीच अभ्यास मैच 20 जून को खेला जाएगा. इसी दिन ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका की टीमें ओखम में अभ्यास मैच खेलेंगी. 22 जून को ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान तथा वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका की टीमें अपना दूसरा अभ्यास मैच खेलेंगी.

आईसीसी की वेबसाइट पर भारतीय टीम की कप्तान मिताली राज का बयान है, ‘हम आईसीसी महिला विश्व कप के लिए उत्साहित हैं. हमने इसी साल फरवरी में खेले गए विश्व कप क्वालिफायर के फाइनल में दक्षिण अफ्रीका को मात दी थी. जिसके बाद हमारा आत्मविश्वास ऊंचा है. अभ्यास मैच खेलने से टीमों को अपनी कमजोरी के बारे में पता चलता है. हम इन अभ्यास मैचों से ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाना चाहेंगे.

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच बने तुषार अरोठे

इंग्लैंड में होने वाले महिला क्रिकेट विश्व कप से दो महीने पहले पूर्णिमा राव को भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच पद से हटा दिया गया है. बड़ौदा के पूर्व बल्लेबाज तुषार अरोठे, पूर्णिमा का स्थान लेंगे. अरोठे इससे पहले 2008 से 2012 के बीच भरतीय महिला क्रिकेट टीम के फील्डिंग व मुख्य कोच रह चुके हैं. अरोठे को जून-जुलाई में होने विश्व कप तक के लिए नियुक्त किया गया है. वह शनिवार से मुंबई में लगने वाले कंडीशनिग कैम्प से टीम के साथ जुड़ेंगे.

वेबसाइट इएसपीएनक्रिकइंफो ने अरोठे की तरफ से लिखा है, ‘मुझे बीसीसीआई से फोन आया. उन्होंने मुझसे इस पद को लेकर मेरी दिलचस्पी के बारे में पूछा. राष्ट्रीय टीम का कोच बनने का मौका मैं अपने हाथ से जाने नहीं देना चाहता था.’

उन्होंने कहा, ‘मेरे पास भारतीय टीम के साथ कोचिंग का अनुभव है. इसलिए मेल-जोल की समस्या, खासकर सीनियर खिलाड़ियों के साथ नहीं आएगी. जब मैंने टीम का साथ छोड़ा था तब से कई युवा खिलाड़ी आई हैं. मेरे लिए सबसे बड़ी चुनौती विश्व कप से पहले टीम को तैयार करने की होगी. हमारी बल्लेबाजी और गेंदबाजी काफी अच्छी है. लेकिन, फील्डिंग और फिटनेस पर हमें ध्यान देना है. मुंबई के शिविर में यह हमारी प्राथमिकता रहेगी.’

राष्ट्रीय टीम का कोच रहने के अलावा अरोठे बड़ौदा की महिला टीम के साथ भी जुड़े रहे हैं. पिछले साल उन्हें 2016-17 सत्र के लिए बड़ौदा की पुरुष टीम का मुख्य कोच बनाया गया था, लेकिन हितों के टकराव के कारण उन्हें पद से इस्तीफा देना पड़ा था. क्योंकि उनका बेटा ऋषि टीम में मौजूद था. वह छत्तीसगढ़ और बड़ौदा की अंडर-16 टीमों के मुख्य कोच भी रह चुके हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi