S M L

नए कोच के सवाल को विराट ने टाला, कहा- सही तरीका अपना रहा है बोर्ड

'हार्दिक और केदार ने धोनी से दबाव कम कर दिया है'

Bhasha | Published On: May 25, 2017 09:28 PM IST | Updated On: May 25, 2017 09:28 PM IST

नए कोच के सवाल को विराट ने टाला, कहा- सही तरीका अपना रहा है बोर्ड

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि बीसीसीआई मुख्य कोच के पद के लिए आवेदन मंगवाकर उचित प्रक्रिया का पालन कर रहा है क्योंकि अनिल कुंबले का अनुबंध चैम्पियंस ट्राफी के खत्म होने के साथ ही समाप्त हो रहा है.

कोहली से जब कुंबले के अनुबंध के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘जब से मैं जानता हूं, तब से पिछले कई सालों से हर बार इसी तरह का प्रोसीजर अपनाया जा रहा है. पिछली बार भी इसी तरह की प्रक्रिया का पालन किया गया था. कार्यकाल एक साल का था निश्चित रूप से यह प्रक्रिया भी वैसी ही है.’

उन्होंने कहा, ‘इसलिए मुझे इसमें कुछ भी चीज अलग नहीं लगी. बोर्ड ने भी निश्चित रूप से यही प्रकिया अपनाई है. इसलिए मुझे इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है क्योंकि इसके लिए एक समिति है जो ये फैसले करती है और वे इस बार भी वही स्वरूप अपना रहे हैं जो बीते समय में अपनाया जाता था.’

धमाका परेशान करने वाला, लेकिन हमारे लिए चैंपियंस ट्रॉफी अहम

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मैनचेस्टर धमाके पर चिंता व्यक्त की. लेकिन इससे उनका क्रिकेट पर ध्यान कम नहीं हुआ है और चैम्पियंस ट्रॉफी उनके लिए काफी अहम है.

पिछली चैंपियन भारत चैंपियंस ट्रॉफी में अपने अभियान की शुरूआत चार जून को बर्मिंघम में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ शुरू करेगा, जो मैनचेस्टर से 100 मील से भी कम दूरी पर है.

उन्होंने कहा, ‘यहां कुछ दिन पहले जो कुछ हुआ, वह काफी दुखद और चिंताजनक था. खासतौर पर इंग्लैंड जैसी जगह पर, जहां कम से कम बीते समय में इस तरह की घटनाएं ज्यादा नहीं हुई हैं.’ कोहली ने कहा, ‘कुछ लोगों के लिए यह नर्वस करने वाला हो सकता है. लेकिन मुझे नहीं लगता कि बतौर टीम आपके पास इन चीजों के बारे में सोचने का समय है क्योंकि आप समझते हो कि आप यहां टूर्नामेंट में खेलने के लिये आए हैं.’ उन्होंने कहा कि खिलाड़ी चारों ओर कड़ी सुरक्षा के बावजूद नर्वस नहीं है.

हार्दिक और केदार ने धोनी से दबाव कम कर दिया है

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि उनकी टीम का निचला मध्यक्रम मजबूत हुआ है और इससे महेंद्र सिंह धोनी पर से मैच फिनिश करने का दबाव कम हुआ है. कोहली एंड टीम एक जून से शुरू होने वाली चैम्पियंस ट्रॉफी में भाग लेने के लिए सुबह यहां पहुंची.

कोहली ने कहा, ‘हम अपने निचले मध्यक्रम के योगदान को मजबूत करना चाहते थे. बीते दो साल में महेंद्र सिंह धोनी पर काफी दबाव आ गया था. हमें ऐसा ही लगा. वह खुद को इतना अभिव्यक्त नहीं कर पा रहे थे क्योंकि ऐसे ज्यादा खिलाड़ी नहीं थे जो उनके साथ मैच फिनिश करने का संयम दिखाते.’

उन्होंने यहां पहुंचने के बाद कहा, ‘लेकिन केदार जाधव और हार्दिक पांड्या के पारी के उस हिस्से में अच्छा करने से हमारी टीम सचमुच अच्छी तरह मजबूत हुई है. इससे हमें काफी संतुलन मिलेगा.’ कोहली ने कहा, ‘इसलिए हमें इस विभाग में सुधार की जरूरत थी. इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज ने हमारे लिए सचमुच इसे पक्का कर दिया. इसलिए हम इस टूर्नामेंट से पहले काफी अच्छी स्थिति में हैं.’ उन्होंने कहा कि भारतीय टीम काफी संतुलित टीम है लेकिन उन्हें आगामी टूर्नामेंट में रणनीति के हिसाब से अच्छी तरह से खेलना होगा जिससे उनके भाग्य का फैसला होगा.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi