S M L

सीओए का एक और बड़ा फैसला, राष्ट्रीय टीम से जुड़ना है तो 2 साल का होगा कार्यकाल

अब राष्ट्रीय टीम के कोच का कार्यकाल दो साल का होगा

FP Staff Updated On: Jun 13, 2017 10:52 AM IST

0
सीओए का एक और बड़ा फैसला, राष्ट्रीय टीम से जुड़ना है तो 2 साल का होगा कार्यकाल

सीओए लगातार बीसीसीआई और इंडियन क्रिकेट में सुधार की कोशिश कर रहा है. आपको याद होगा कुछ दिन पहले ही सीओए के सदस्य रामचंद्र गुहा इस कमेटी से इस्तीफा दे दिया था. इसके साथ ही उन्होंने कई क्रिकेटर पर भी आरोप लगाए थे. उन्होंने सुनील गावस्कर, राहुल द्रविड़ और धोनी पर निशाना साधा था. गुहा ने सीओए को जो पत्र लिखा था वह भी सामने आ गया था.

इसके बाद भारत की पूर्व क्रिकेटर और भारत ए और दिल्ली डेयरडेविल्स ने सीओए को पत्र लिखकर पूछा था कि आखिर हितो के टकराव का मुद्दा है क्या.

अब सीओए ने इस बारे में कोई जवाब तो नहीं दिया लेकिन एक बड़ा फैसला लेते हुए राहुल द्रविड़ और उन जैसे सभी खिलाड़ियों के झटका दे दिया जो राष्ट्रीय टीम के साथ आईपीएल में भी कोई भूमिका निभा रहे थे.

सीओए के नए फैसले में अब राष्ट्रीय टीम के कोच का कार्यकाल दो साल का होगा, जिस वजह से वह किसी आईपीएल टीम से नहीं जुड़ पाएगा. इस समय राहुल द्रविड़ भारत ए, भारतीय अंडर 19 टीम के कोच होने के साथ साथ आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के मेंटर भी है.

इस पहले राहुल द्रविड़ का राष्ट्रीय टीम के अनुबंध 10 महीनें का था, जिसकी वजह से वह दो महीनें आईपीएल में किसी भी टीम के साथ जुड़ सकते थे लेकिन अब सीओए के इस फैसले से राहुल द्रविड़, आर श्रीधर, संजय बांगर जैसे क्रिकेटर को बड़ा झटका लगा है. ये सभी राष्ट्रीय टीम के साथ साथ किसी ना किसी आईपीएल टीम से जुड़े हुए थे.

हालांकि खबर तो ये भी है कि सीओए टीम मैनेजर पर भी जल्दी ही फैसला ले सकती हैं. उनकें अनुसार मैनेजर का पद भी स्थिर होना चाहिए और टीम मैनेजर का भी निश्चित समय का कार्यकाल होना चाहिए. अब तक बीसीसीआई अपनी मर्जी के हिसाब से हर दौरे पर मैनेजर भेजा करती है.

सीओए के अध्यक्ष विनोद राय ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा कि हम लोढ़ा कमेटी की सभी सिफारिशों को जल्द से जल्द लागू करना चाहते हैं.

फैसले का होगा बुरा असर?

इस फैसले से राहुल द्रविड़ को तो झटका लगा ही है लेकिन उन युवाओं के लिए भी यह बुरी खबर है कि जो राहुल द्रविड़ जैसे दिग्गज से क्रिकेट के गुर सीखते हैं. आईपीएल में कई ऐसे खिलाड़ी आते हैं जो किसी कारण से राष्ट्रीय टीम तक नहीं पहुंच पाते लेकिन राहुल द्रविड़ से खेल के बारे में और सीख कर वह अपने आप में सुधार लाते थे.

इसके साथ ऐसा भी हो सकता है कि राहुल द्रविड़ राष्ट्रीय टीम की जिम्मेदारी ही छोड़ दे क्योंकि आईपीएल में वह कम समय में ज्यादा पैसा कमा सकते हैं. अब ये देखना दिलचस्प होगा कि इस फैसले के बाद क्य कोई तमाशा होता है या खिलाड़ी इस बात को आसानी से हजम कर लेंगे.

वेस्टइंडीज दौरे तक कोच रहेंगे अनिल कुंबले

अनिल कुंबले फिलहाल टीम इंडिया के कोच बने रहेंगे. सीओए के प्रमुख विनोद राय ने कहा है कि प्रस्ताव स्वीकर करने पर वेस्टइंडीज दौरे तक अनिल कुंबले टीम के कोच बने रहेंगे. इसका मतलब यह है कि अगर खुद कुंबले को कोई आपत्ति नहीं है, तो वो इस सीरीज के लिए कोच बने रहेंगे.

भारत का वेस्टइंडीज दौरा  23 जून से शुरू हो रहा है.भारत पांच एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला खेलने के लिए वेस्टइंडीज का दौरा करेगा. इसका पहला मैच 23 जून को खेला जाएगा. श्रृंखला का एकमात्र टी20 मैच नौ जुलाई को खेला जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi