S M L

भरतनाट्यम छोड़ क्रिकेट स्टार बनीं मिताली अब कौन सा रिकॉर्ड बनाएंगी

न्यूजीलैंड के खिलाफ शनिवार को होने वाले विश्व कप मुकाबले में मिताली की नजरें दो रिकॉर्ड पर

Bhasha | Published On: Jul 14, 2017 06:58 PM IST | Updated On: Jul 14, 2017 07:00 PM IST

0
भरतनाट्यम छोड़ क्रिकेट स्टार बनीं मिताली अब कौन सा रिकॉर्ड बनाएंगी

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में स्टार बनी भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज कभी अपने पांवों का कमाल क्लासिकल डांस ‘भरतनाट्यम’ में दिखाना चाहती थीं. लेकिन समय की बात देखिए अब वह महिला क्रिकेट इतिहास में 6000 रन पूरे करने वाली पहली खिलाड़ी बन गई हैं.

बुधवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आईसीसी विश्व कप मैच के दौरान हैदराबाद की 34 वर्षीय खिलाड़ी ने यह उपलब्धि हासिल की. हालांकि भारत को इस मैच में हार का मुंह देखना पड़ा. अब मिताली अगले मैच की तैयारी कर रही हैं.

उनके पिता दोराई राज ने शुरुआती दिनों की याद करते हुए कहा, ‘मिताली डांसर बनने की इच्छुक थी. हालांकि भाग्य में कुछ और ही लिखा था.’ मिताली के पिता भारतीय वायु सेना में अधिकारी थे और बाद में वह आंध्र बैंक से जुड़ गए. जब मिताली 10 साल की थीं तो वह सिकंदराबाद में सेंट जोंस के कोचिंग शिविर में अपनी बेटी को ले जाते थे.

आरएसआर मूर्ति ने भी मिताली की प्रतिभा की प्रशंसा की. जब से यह क्रिकेटर 2000 में रेलवे से जुड़ीं, तब से वह मिताली से जुड़े हुए हैं. उन्होंने कहा, ‘यह बड़ी उपलब्धि है. मैं बहुत खुश हूं. उसने अपनी कड़ी मेहनत और समर्पण के दम पर यह उपलब्धि हासिल की. मैं चाहूंगा कि वह अपने करियर में ऐसी ही और उपलब्धियां हासिल करे. वह आदर्श बन गई है, देश के लिए ही नहीं बल्कि दुनिया के लिए.’

उन्होंने कहा, ‘उसने कई त्याग किए हैं, वह अपने करियर की वजह से कई कार्यक्रमों में नहीं जाती थीं.’ मिताली 19 साल की उम्र में टॉन्टन में इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे और अंतिम टेस्ट में 214 रन की पारी खेलने वाली पहली भारतीय बल्लेबाज बनी थीं. 1999 में वह वनडे में शतक जड़ने वाली सबसे युवा खिलाड़ी बनी थीं. उन्होंने आयरलैंड के खिलाफ अपने पदार्पण मैच में 114 रन बनाए थे.

अब मिताली की जद में हैं दो नए रिकॉर्ड

मिताली जल्द ही अर्धशतकों का अर्धशतक पूरा करने वाली पहली महिला खिलाड़ी बन सकती हैं. जिसके लिए उन्हें केवल एक अर्धशतक की दरकार है. यही नहीं, वह आईसीसी महिला विश्व कप में 1000 रन पूरा करने वाली पांचवीं बल्लेबाज बनने से केवल 23 रन दूर हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ शनिवार को होने वाले मुकाबले में वह यह दोनों उपलब्धियां हासिल कर सकती हैं.

मिताली ने अब 183 वनडे मैचों की 164 पारियों में 49 अर्धशतक जमाये हैं जो विश्व रिकॉर्ड है. बेहतरीन फॉर्म में चल रही भारतीय कप्तान को अब अर्धशतकों का पचासा पूरा करने के लिये केवल एक अर्धशतक की जरूरत है. मिताली के बाद महिला क्रिकेट में सर्वाधिक अर्धशतक बनाने के मामले में इंग्लैंड के चार्लोट एडवर्ड्स (46) दूसरे स्थान पर हैं.

Cricket-women-world,PREVIEW Cricket: Women seek their place in sun at World Cup by Rachel O'Brien India women's cricket team captain Mithali Raj (on ground) gets some help to stretch after a training session ahead of the ICC Women's World Cup 2013 in Mumbai on January 22, 2013. The women's World Cup opens in Mumbai on January 30, 2013 with the cricketers hoping to put aside memories of an unsettling build-up and gain recognition in a country where the men's game reigns supreme. Barely a week before the start, the International Cricket Council was forced to revise the schedule because of security concerns surrounding Pakistan's participation in Mumbai where the entire tournament was to be played. AFP PHOTO/ Indranil MUKHERJEE / AFP PHOTO / INDRANIL MUKHERJEE

चार्लोट के नाम पर हालांकि 50 से अधिक के सर्वाधिक स्कोर बनाने का रिकॉर्ड है. एक अर्धशतक बनाने पर मिताली उनकी भी बराबरी कर लेंगी. मिताली के नाम पर पांच शतक भी दर्ज हैं. इस तरह से उन्होंने 54 बार 50 या इससे अधिक का स्कोर बनाया है. चार्लोट ने नौ शतक लगाए हैं और वह 55 बार ऐसा कारनामा कर चुकी हैं.

मिताली इसके साथ ही विश्व कप में 1000 रन पूरा करने की दहलीज पर भी हैं. उन्होंने अब तक इस टूर्नामेंट में 28 मैचों में 54.27 की औसत से 977 रन बनाए हैं. अब तक केवल चार बल्लेबाज ही महिला विश्व कप में 1000 रन का आंकड़ा छू पायी हैं जिसमें न्यूजीलैंड की डेबी हेकले (1501), इंग्लैंड की जेनेट ब्रिटिन (1299), चार्लोट एडवर्ड्स (1231) और ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क (1151) शामिल हैं.

न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले मैच में भारतीय गेंदबाजी की अगुवाई करने वाली झूलन गोस्वामी भी एक विकेट लेने पर विश्व कप में सर्वाधिक विकेट के डायना एडुल्जी के भारतीय रिकॉर्ड की बराबरी कर देंगी. एडुल्जी के नाम पर 31 विकेट दर्ज हैं. झूलन के अलावा पूर्णिमा राव और नीतू डेविड ने भी 30-30 विकेट लिए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi