S M L

2018 तक आईसीसी चेयरमैन बने रहेंगे शशांक मनोहर

व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए आईसीसी चेयरमैन पद से दिया था इस्तीफा

FP Staff | Published On: May 10, 2017 04:41 PM IST | Updated On: May 10, 2017 04:41 PM IST

2018 तक आईसीसी चेयरमैन बने रहेंगे शशांक मनोहर

शशांक मनोहर आईसीसी चेयरमैन कब तक रहेंगे, इस पर चल रही अटकलें अब खत्म हो गई हैं. उन्होंने साफ कर दिया है कि अब वो अपना टर्म पूरा करेंगे. शशांक मनोहर का टर्म जून 2018 तक है. आईसीसीसी की तरफ से जारी बयान के मुताबिक, ‘आईसीसी इस बात की पुष्टि करता है कि शशांक मनोहर आईसीसी चेयरमैन के तौर पर जून 2018 तक अपने पद पर बने रहेंगे.’

पिछले मार्च में मनोहर ने अपने पद से इस्तीफा देने का फैसला किया था. उन्होंने इस्तीफे के पीछे व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया था. उसके बाद उनसे आईसीसी के तमाम निदेशकों ने रुकने का आग्रह किया था. इसके बाद मनोहर तब तक रुकने को तैयार हो गए थे, जब तक आईसीसी में रेवेन्यू और बाकी सुधारों पर फैसला न हो जाए.

उसके बाद एक बार फिर सभी सदस्य देशों ने शशांक मनोहर से रुकने का आग्रह किया. मनोहर जून तक अपने पद पर रहना चाहते थे. उस समय आईसीसी की सालाना बैठक होनी है. लेकिन फिर उन्होंने कार्यकाल पूरा करने का फैसला लिया है.

आईसीसी में रेवेन्यू और गवर्नेंस मॉडल को भरपूर समर्थन मिला है. इसके बाद नागपुर के वकील शशांक मनोहर के लिए हालात बेहतर हुए हैं. रेवेन्यू मॉडल को लेकर हुई वोटिंग में बीसीसीआई के एक वोट के अलावा कोई भी वोट प्रस्ताव के खिलाफ नहीं पड़ा. 13-1 से वो प्रस्ताव पारित हुआ. गवर्नेंस मॉडल 12-2 से पास हुआ. इसमें भी बीसीसीआई का साथ सिर्फ एक और देश ने किया.

बीसीसीआई को छोड़कर लगभग सभी देश मनोहर को बनाए रखना चाहते हैं. बीसीसीआई को लगता है कि मनोहर की वजह से दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड को बहुत बड़ी राशि से हाथ धोना पड़ा है.

हालांकि सुप्रीम कोर्ट की तरफ से भारत में क्रिकेट प्रशासन के लिए बनी कमेटी (सीओए) को लगता है कि रेवन्यू के मुकाबले गवर्नेंस मॉडल भारत के लिए ज्यादा बड़ा मुद्दा है.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi

लाइव

Match 6: India 102/2Shikhar Dhawan on strike