S M L

बर्थडे स्पेशल: सचिन के वो दस शॉट, जो कभी नहीं भूल पाएंगे

वो दस शॉट जिसकी उम्मीद सिर्फ सचिन से की जा सकती है.

Lakshya Sharma | Published On: Apr 24, 2017 08:49 AM IST | Updated On: Apr 24, 2017 09:03 AM IST

बर्थडे स्पेशल: सचिन के वो दस शॉट, जो कभी नहीं भूल पाएंगे

सचिन के जन्मदिन का मौका है. हर साल क्रिकेट प्रेमी उनका जन्मदिन मनाते हैं. हालांकि सचिन को रिटायर हुए कई साल हो गए. लेकिन अब भी उनके एक-एक शॉट लोगों को याद है. हम आपको सचिन के दस ऐसे शॉट्स दिखा रहे हैं, जो हमेशा-हमेशा क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में रहेंगे.

सबसे पहले वो शॉट, जिसने क्रिकेट दुनिया को सचिन रमेश तेंदुलकर से परिचित कराया था. 1989 का पाकिस्तान दौरा था वो. सचिन का पहला दौरा. एक प्रदर्शनी मैच था. पाकिस्तान के महान लेग स्पिनर अब्दुल कादिर खेल रहे थे. उन्होंने सचिन को बच्चा ही समझा था. लेकिन चार छक्के लगाकर सचिन ने दिखा दिया था कि वो आगे क्या करने वाले हैं.

वैसे तो सचिन का बैकफुट पंच शॉट हम कई बार देख चुके हैं लेकिन साल 1990 मैनचेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ सचिन ने इस शॉट से अपना पहला इंटरनेशनल शतक लगाया तो वह काफी खास था.

साल 1998 शारजाह में कोका कोला कप. इस कप में सचिन अपनी जिंदगी की सबसे अच्छी फॉर्म में थे. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक मैच में उनके स्टेट ड्राइव से इनके जोड़ीदार सौरव गांगुली चोटिल होने से बाल बाल बचे थे.

उसी सीरीज के दौरान एक मैच में सचिन के छक्को ने वॉर्न सहित सभी गेंदबाजों की नींद उड़ा दी थी. सचिन ने इस मैच में शतक जड़ा था.

साल 2000. आईसीसी नॉकआउट ट्रॉफी. इस मैच में सचिन ने जिस तरह से दुनिया के बेस्ट तेज गेंजबाजों में शुमार ग्लेन मैक्ग्रा की धुनाई की है. इसे वह शायद कभी नहीं भूल पाएंगे. कदमों का इस्तेमाल कर मैक्ग्रा के सिर के ऊपर से छक्का...कुछ खास था.

साल 2002 नेटवेस्ट ट्रॉफी. अगर आप सोचते हैं कि हेलिकॉप्टर शॉट का इजाद महेंद्र सिंह धोनी ने किया है तो यह वीडियो जरूर देखे. धोनी ने जब इंटरनेशनल क्रिकेट खेला भी नहीं था, तब सचिन ने इंग्लैंड के खिलाफ इस शॉट से सबका दिल जीता था. इस मैच में सचिन ने शतक लगाया था.

कोई क्रिकेट का फैन है और वह इस शॉट का दीवना न हो. ऐसा हो नहीं सकता. साल 2003, साउथ अफ्रीका में वर्ल्डकप. पाकिस्तान के खिलाफ मैच में शोएब अख्तर की गेंद पर पॉंइट की दिशा में लगाया गया छक्का उन्हे आज भी याद है. इस महत्वपूर्ण मैच में सचिन ने 75 गेंद पर 98 रन बनाए थे.

साल 2003 का ही वर्ल्डकप. भारत का इंग्लैंड के खिलाफ मैच था. मैच से पहले इंग्लैंड के सीनियर गेंदबाज एंड्रयू कैडिक ने बयान दिया था कि सचिन भी केवल इंसान है औ मैं उन्हे शॉर्ट गेंद पर आउट करूंगा. उसके बाद क्या हुआ आप विडियो देख लें.

जब आप दुनिया के सबसे तेज गेंदबाज को खेलते हो तो आप पहले ही डरे होते हो लेकिन सचिन तो सचिन है ना. साल 2008 में भारत का ऑस्ट्रेलिया दौरा. पर्थ की पिच पर खेला गया ये शॉट ब्रेट ली को हमेशा याद रहेगा.

साल 2008. कॉमनवेल्थ बैंक सीरीज. इस सीरीज के एक मैच में सचिन ने ब्रेट ली के एक ओवर में दो स्टेट ड्राइव लगाकर सभी दर्शकों का दिल जीत लिया. हां लेकिन ब्रेट ली इससे खुश नहीं होंगे.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi