S M L

फ्रेंच ओपन टेनिस 2017 : बोपन्ना ने जीता मिक्स्ड डबल्स खिताब

कनाडा की गैब्रिएला डाब्रोस्की के साथ मिलकर मिक्स्ड डबल्स खिताब जीता

FP Staff | Published On: Jun 08, 2017 05:33 PM IST | Updated On: Jun 08, 2017 06:25 PM IST

फ्रेंच ओपन टेनिस 2017 :  बोपन्ना ने जीता मिक्स्ड डबल्स खिताब

भारतीय टेनिस स्टार रोहन बोपन्ना और उनकी कनाडा की पार्टनर गैब्रिएला डाब्रोस्की ने फ्रेंच ओपन टेनिस में मिक्स्ड डबल्स खिताब जीत लिया है. बोपन्ना-डाब्रोस्की ने जर्मन-कोलंबियाई जोड़ी एना लीना ग्रोएनफेल्ड और रॉबर्ट फराह को फाइनल में हराया. पेरिस में इस जीत के साथ बोपन्ना ने अपना पहला ग्रैंड स्लैम खिताब जीता.

भारत-कनाडा की सातवीं सीड जोड़ी ने ग्रोएनफेल्ड और फराह को 2-6, 6-2, 12-10 से मात दी. ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने वाले बोपन्ना सिर्फ चौथे भारतीय हैं. उनके अलावा लिएंडर पेस, महेश भूपति और सानिया मिर्जा ने ही ग्रैंड स्लैम खिताब जीते हैं. बोपन्ना सात साल के बाद किसी ग्रैंड स्लैम फाइनल में पहुंचे.

इससे पहले बोपन्ना और पाकिस्तान के ऐसाम उल हक कुरैशी 2010 के यूएस ओपन में फाइनल तक पहुंचे थे. तब इस जोड़ी को 16वीं वरीयता मिली थी. फाइनल में वे बॉब और माइक ब्रायन के हाथों हारे थे.

भारत की ओर से ग्रैंड स्लैम पर कब्जा जमाने वालों में लिएंडर पेस, महेश भूपति, सानिया मिर्जा के बाद 37 वर्षीय रोहन बोपन्ना का नाम जुड़ गया है. मौजूदा फ्रेंच ओपन में लिएंडर पेस और सानिया मिर्जा के बाहर होने के बाद बोपन्ना ही अकेले भारतीय बचे थे. बोपन्ना दूसरी बार किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पहुंचे थे.

बोपन्ना और डाब्रोस्की एक समय दो अंकों से पीछे थे. लेकिन फराह और ग्रोएनफील्ड ने मौके गंवा दिए. बोपन्ना और कनाडाई खिलाड़ी की जोड़ी के पास उसके बाद दो मैच पॉइंट थे. जर्मन खिलाड़ी के डबल फॉल्ट की वजह से बोपन्ना-डाब्रोस्की ने मैच अपने नाम कर लिया.

पहले सेट में 2-4 के स्कोर पर डाब्रोस्की की सर्विस लव पर ब्रेक हुई. उन्होंने बैकहैंड बाहर मार दिया. इसके बाद ग्रोएनफील्ड ने अपनी सर्विस बचाते हुए सेट जीत लिया.

 

बोपन्ना ने दूसरे सेट की शुरुआत डबल फॉल्ट से की. लेकिन किसी तरह सर्विस बचाने में सफल रहे. उन्होंने इस गेम में चेयर अंपायर से लाइन कॉल को लेकर बहस भी की. इसके बाद डाब्रोस्की एक बार फिर अपनी सर्विस बचाने में नाकाम रहीं.

हालांकि बोपन्ना और उनकी कनाडाई पार्टनर को तब मौका मिला, जब ग्रोएनफेल्ड की सर्विस अगले गेम में लव पर टूट गई. इसके बाद फराह की सर्विस भी छठे गेम में ब्रेक हुई. इससे बोपन्ना और डाब्रोस्की 4-2 से आगे हो गए. डाब्रोस्की ने इसके बाद मैच में पहली बार सर्विस बचाई. इसके बाद सेट जीतकर बोपन्ना-डाब्रोस्की एक-एक सेट की बराबरी पर आ गए.

मैच टाई ब्रेकर में बोपन्ना और डाब्रोस्की ने शुरू में ही 3-0 की बढ़त बनाई. लेकिन इसके बाद लगातार पांच अंक गंवाकर 3-5 से पीछे हो गए. 5-5 पर फराह ने हाफ वॉली उठाने की कोशिश की, रिबाउंड पर गेंद उनकी आंख पर लगी. इसके बाद दोनों जोड़ियों के बीच संघर्ष चला, जिसके आखिर में बोपन्ना और डाब्रोस्की ने बाजी मारी.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi