S M L

चैंपियंस ट्रॉफी जीती खिलाड़ियों ने, जीत को भुनाने में जुटी पाकिस्तानी सेना

भारत पर मिली जीत को दिया सियासी रंग, पाक क्रिकेटरों को बताया जंग के सिपाही

FP Staff Updated On: Jun 19, 2017 06:40 PM IST

0
चैंपियंस ट्रॉफी जीती खिलाड़ियों ने, जीत को भुनाने में जुटी पाकिस्तानी सेना

चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले के बाद भारत में पाकिस्तान के खेल को सराहा जा रहा है. लेकिन पाकिस्तानी की सेना इस जीत को भी सियासी रंग दे रही है. रविवार को ओवल में पाकिस्तानी की टीम के हाथों भारत की करारी हार के बाद पाकिस्तानी आर्मी की ओर से इस जीत को भुनाने की जबरदस्त कोशिश हो रही है.

पाकिस्तानी सेना अपने मुल्क में सरकार से भी ज्यादा रसूखदार है. एक तरह से समानांतर सरकार भी चलाती है. पाकिस्तानी आर्मी भारत के खिलाफ अभी तक एक भी जंग जीतने में नाकाम रही है. रविवार को खेले गए इस मुकाबले में पाकिस्तान के जीत दर्ज करने के बाद पाकिस्तानी आर्मी के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ऐसे कई ट्वीट किए गए जो दिखाते है जैसे पाकिस्तान ने कोई चैंपियनशिप नहीं बल्कि एक जंग जीत ली हो.

पाकिस्तानी सेना ने इस जीत को कई मोर्चों पर भुनाने की कोशिश की है. सेना के ट्विटर हैंडल से की गई ट्वीट्स में पाकिस्तान के खिलाड़ियों को फौजी करार दिया गया है.

 

यही नहीं पाकिस्तानी आर्मी ने क्रिकेट के इस खेल को मजहब के साथ भी जोड़ दिया. पाक आर्मी चीफ के हवाले से एक ट्वीट में ऐलान किया गया कि मिनी वर्ल्डकप जीतने वाले खिलाड़ियों को उमरा के लिए मक्का भेजा जाएगा. दरअसल इस्लाम में उमरा एक रिवाज है जो मक्का जाकर पूरी की जाती है.

 

 

 

इसके अलावा इस ट्विटर हैंडल से बलूचिस्तान में जश्न मनाते के फैंस की भी एक तथाकथिक तस्वीर शेयर की गई है . और इस तस्वीर के साथ बलूचिस्तान को पाकिस्तान अभिन्न हिस्सा बताते हुए भारत पर परोक्ष रूप से तंज भी कसा गया है. पाक आर्मी  ने इस जीत के जरिए बलूचिस्तान में हो रहे  मानवाधिकारों के हनन के मसले को भी दबाने की कोशिश  की.

 

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi