विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

रणजी ट्रॉफी: 66 साल बाद फाइनल में पहुंचा गुजरात

दूसरे सेमीफाइनल में तमिलनाडु ने जीत के लिए खेला दांव

FP Staff Updated On: Jan 04, 2017 08:39 PM IST

0
रणजी ट्रॉफी: 66 साल बाद फाइनल में पहुंचा गुजरात

नागपुर. जसप्रीत बुमराह और आरपी सिंह. इस कॉम्बिनेश को क्या कहेंगे? एक के निशाने पर टीम इंडिया के लिए टेस्ट का हिस्सा होना है. दूसरे के लिए उम्मीदें बरकरार होंगी, इस पर भी संदेह है. लेकिन जब रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल की बात आई, तो इन दोनों ने अपनी टीम को फाइनल में पहुंचा दिया.

आरपी सिंह के लिए तो गुजरात अपनी टीम भी नहीं रही है. उत्तर प्रदेश में पले-बढ़े और खेले आरपी ने गुजरात का रुखकिया था. 31 साल के आरपी और 23 साल के बुमराह ने दूसरी बार गुजरात को रणजी ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचा दिया. इससे पहले 1950-51 में गुजरात ने फाइनल में जगह बनाई थी. तब होल्कर ने उसे हराया था.

नागपुर में खेले गए मुकाबले में बुमराह ने करियर का बेस्ट प्रदर्शन करते हुए 29 रन देकर छह विकेट लिए. पहली पारी में छह विकेट लेने वाले आरपी ने दूसरी पारी में तीन विकेट लिए. एक समय उन्होंने पांच ओवर में बगैर कोई रन दिए एक विकेट लिया था. 235 रन का पीछा करते हुए झारखंड की टीम 111 पर ढेर हो गई. पिच मुश्किल होती जा रही थी. ऐसे में 235 का स्कोर आसान नहीं था. चौथे दिन ही मैच का फैसला हो गया.

गुजरात ने तीसरे दिन के स्कोर चार पर 100 से आगे खेला शुरू किया. उसकी पारी 252 पर खत्म हुई. टीम यहां तक पहुंच पाई, इसमें बड़ा योगदान मनप्रीत जुनेजा (81) और चिराग गांधी (51) के बीच साझेदारी का रहा. दोनों ने सातवें विकेट के लिए 80 रन जोड़े.

झारखंड की दूसरी पारी में कोई भी 25 के स्कोर तक भी नहीं पहुंच सका. लगातार अंतराल पर विकेट गिरते रहे. कभी ऐसा नहीं लगा कि टीम लक्ष्य तक पहुंच पाएगी.

दूसरे सेमीफाइनल में मुंबई को जीत के लिए बनाने हैं 246 रन और

बाबा इंद्रजीत और कप्तान अभिनव मुकुंद के शतक की बदौलत तमिलनाडु ने दूसरे सेमीफाइनल में सीधी जीत दर्ज करने की कोशिश की है. मुंबई के खिलाफ मुकाबले के चौथे दिन तमिलनाडु ने छह विकेट पर 356 रन बनाकर पारी घोषित की. दिन का खेल खत्म होने तक मुंबई ने बगैर किसी नुकसान के पांच रन बनाए हैं. प्रफुल्ल वाघेला और पृथ्वी शॉ नॉट आउट हैं. मुंबई को जीत के लिए 246 रन और बनाने हैं.

मुंबई की पहली पारी इससे पहले 411 पर खत्म हुई थी और तमिलनाडु को 106 रन की बढ़त मिली थी. तमिलनाडु ने तीसरे दिन साढ़े चार के  आसपास की रन रेट से स्कोर किया. अभिनव मुकुंद ने 122 और इंद्रजीत ने 138 रन बनाए. इन दोनों के बीच 185 रन की साझेदारी हुई.

संक्षिप्त स्कोर : तमिलनाडु 305, 356/6 पारी घोषित (मुकुंद 122, इंद्रजीत 138, संधू 2/67), मुंबई 305 और बगैर किसी नुकसान के पांच.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi