S M L

आईपीएल 2017: गोयनका ने धोनी की तारीफ में किया ट्वीट, फिर हुए ट्रोल

धोनी ने 34 गेंदों में 61 रनों की पारी खेलते हुए पुणे को छह विकेट से जीत दिलाई

IANS | Published On: Apr 22, 2017 10:36 PM IST | Updated On: Apr 22, 2017 11:29 PM IST

आईपीएल 2017: गोयनका ने धोनी की तारीफ में किया ट्वीट, फिर हुए ट्रोल

ज्यादा दिन पहले की बात नहीं है, जब राइजिंग पुणे सुपरजायंट के मालिक हर्ष गोयनका के ट्वीट ने बवाल कर दिया था. उन्होंने ट्वीट में कहा था कि साबित हो गया है कि जंगल का राजा कौन है. स्मिथ ने धोनी को पूरी तरह पीछे छोड़ दिया है. स्मिथ को कप्तान बनाया जाना वाकई महान फैसला था.

गोयनका के इस ट्वीट के बाद जैसे तूफान आ गया था. सोशल मीडिया पर उनकी इस कदर आलोचना हुई थी कि उन्होंने ट्वीट हटा दिया था. यहां तक कि उन्हें सीधे-सीधे न सही, लेकिन धोनी की पत्नी ने ट्वीट के जरिए जवाब दिया था.

अब हर्ष गोयनका ने धोनी के पक्ष में ट्वीट किया है. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि धोनी को फॉर्म में वापस देखकर वो बहुत खुश हैं. धोनी से बेहतर फिनिशर कोई नहीं हो सकता है. हालांकि अब भी उनके ट्वीट के बाद उन्हें ट्रोल किया जा रहा है.

 

 

सोशल मीडिया पर इस बवाल के बीच अपनी आतिशी पारी के दम पर शनिवार को राइजिंग पुणे सुपरजायंट को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जीत दिलाने के बाद भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि रनों का पीछा करते समय शांत रहना बेहद जरूरी है. पिछले सीजन में सुपरजायंट के कप्तान रहे धोनी ने अहम समय पर 34 गेंदों में 61 रनों की पारी खेलते हुए पुणे को छह विकेट से जीत दिलाई.  मैन ऑफ द मैच चुने गए धोनी ने कहा कि वह अपने ऊपर बढ़ते हुए रन रेट का दबाव नहीं लेते.

मैच के बाद धोनी ने कहा, ‘ऐसी कोई रन रेट नहीं जो ज्यादा हो. यह सिर्फ इस बात पर निर्भर करता है कि विपक्षी टीम के गेंदबाज किस तरह से गेंदबाजी करते हैं. इसलिए सात, आठ, नौ, दस की रन रेट मायने नहीं रखती. जो मायने रखता है वो यह है कि आप अपने आप को कितना शांत रखते हो.’

धोनी ने मनोज तिवारी की भी तारीफ की. तिवारी ने अंत में धोनी का बखूबी साथ दिया. धोनी ने कहा, ‘आप हमेशा इस तरह के मैच नहीं जीत सकते. हमने काफी अच्छा प्रदर्शन किया. मनोज ने अच्छा योगदान दिया जो महत्वपूर्ण था क्योंकि उसने ज्यादा गेंदें नहीं खाईं.’

धोनी ने माना की लक्ष्य का पीछा करना आसान नहीं था. उन्होंने साथ ही कहा कि पुणे की टीम इसलिए जीती क्योंकि उसके पास बड़े शॉट लगाने वाले बल्लेबाज हैं.

उन्होंने कहा, ‘यह मुश्किल था. लेकिन हमारे पास बड़े शॉट खेलने वाले बल्लेबाज हैं. हमारे लिए यह जरूरी था कि हम राशिद खान को आराम से खेलें और दूसरी तरफ से तेजी से रन बनाते रहें.’

धोनी की तारीफ करते हुए पुणे के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने कहा, ‘अंत में काफी करीबी मैच हो गया था. लेकिन, धोनी ने वही किया जो वो लंबे समय से करते आ रहे हैं. दबाव में वह एक बार फिर सफल साबित हुए.’

छह विकेट से मिली इस जीत के बाद पुणे की टीम आठ टीमों की अंक तालिका में सबसे निचले स्थान से चौथे स्थान पर आ गई है. स्मिथ को भरोसा है कि आगे चार मैच घर में होने के कारण टीम और ऊपर जाएगी.

स्मिथ ने कहा, ‘यह 160-165 का विकेट था. हमने अपनी रणनीति पर अमल नहीं किया. हमने अच्छी बल्लेबाजी की. राहुल त्रिपाठी ने टॉप ऑर्डर में अच्छी बल्लेबाजी की और फिर एमएस ने अच्छा किया. हमें घर में चार मैच खेलने हैं. एक मुंबई में खेलना है. उम्मीद है कि हम इन मैचों में अच्छा प्रदर्शन करेंगे.’

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi