S M L

आईपीएल 2017, Match 23: क्या हो सकती है गुजरात लायंस की प्लेइंग इलेवन?

कमजोर प्रदर्शन कर रहे गुजरात लायंस टीम में कुछ बदलाव दिखाई दे सकते हैं.

FP Staff Updated On: Apr 21, 2017 02:33 PM IST

0
आईपीएल 2017, Match 23: क्या हो सकती है गुजरात लायंस की प्लेइंग इलेवन?

गुजरात लायंस जब केकेआर के खिलाफ मैदान पर उतरेगी तो उसकी नजर जीत दर्ज कर पटरी पर लौटने की होगी. गुजरात चाहेगी कि वह केकेआर के साथ खेले गए पिछले मैच मे मिली 10 विकेट की करारी हार को भुलाकर अच्छा प्रदर्शन करे. हालांकि कोलकाता जिस तरह से फॉर्म मे है. उसे उसी के घर मे हराना आसान नही होगा.

अब तक नाकाम रहे ड्वेन स्मिथ की जगह जेम्स फॉकनर को मिल सकती है जगह. शिविल कौशिक को भी बाहर किया जा सकता है.

देखते हैं कि इस मैच में गुजरात लायंस की प्लेइंग इलेवन क्या हो सकती है –

सुरेश रैना - पांच मैचों में गुजरात टीम को सिर्फ एक जीत मिली है. इससे ही समझ आता है कि टीम का प्रदर्शन कितना कमजोर रहा है. ऐसे में सुरेश रैना उन गिने-चुने खिलाड़ियों में हैं, जिन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है. रैना पांच मैचों में सबसे अच्छी औसत वाले बल्लेबाज हैं.

ब्रैंडन मैक्कलम - टीम के लिए सबसे बड़ी पारी मैक्कलम ने खेली है. उन्होंने 72 रन बनाए. पांच मैचों में सबसे ज्यादा रन भी मैक्कलम के ही नाम हैं. पांच मैचों में 225 रन बनाए हैं. उनके बिना टीम के बारे में सोच भी नहीं सकते.

एरॉन फिंच - ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज का बल्ला उस तरह नहीं चला है, जैसी उम्मीद थी. लेकिन फिंच ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनसे सामने वाली टीम खौफ खाती है. ऐसे में संभव है कि उन्हें फिर मौका मिले.

दिनेश कार्तिक - टीम को जिन खिलाड़ियों से सबसे ज्यादा उम्मीद थी, उनमें कार्तिक भी हैं. जब आपके देश के खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करेंगे, तभी टीम का प्रदर्शन अच्छा होगा. उन्होंने टीम में बाकी खिलाड़ियों से अच्छा प्रदर्शन किया है. लेकिन इससे कहीं ज्यादा की उम्मीद दिनेश कार्तिक से है.

रवींद्र जडेजा - जडेजा अनफिट थे. वापसी की है, लेकिन वो उस तरह के फॉर्म में नहीं दिखे हैं. उनसे उम्मीद है बेहतर प्रदर्शन की. गुजरात लायंस को जीतना है, तो जडेजा को ऑलराउंड प्रदर्शन करना पड़ेगा.

जेम्स फॉकनर - चार ही विदेशी खिलाड़ी प्लेइंग इलेवन का हिस्सा हो सकते हैं. ऐसे में फॉकनर को अभी तक टीम में जगह नहीं मिल पाई है. इस मुकाबले में उन्हें टीम में जगह दी जा सकती है. शायद ड्वेन स्मिथ की जगह.

इशान किशन - झारखंड के इस विकेटकीपर-बल्लेबाज ने अब तक तीन ही मैच खेले हैं. दो में ही बल्लेबाजी की है. एक पारी अच्छी खेली है. युवाओं ने इस आईपीएल में काफी असर डाला है. यही उम्मीद उनसे है.

एंड्रयू टाइ - विकेट लेने के लिहाज से देखा जाए या इकॉनमी के, टाइ इस समय टीम के सबसे कामयाब गेंदबाज हैं. तीन मैचों में सात विकेट उनके नाम हैं.  इकॉनमी सात के करीब. जब टीम हार रही हो, तो अच्छा प्रदर्शन करने वाले चंद खिलाड़ियों को निकालने या आराम देने के बारे में सोचा भी नहीं जा सकता.

बासिल थंपी - केरल के इस गेंदबाज ने बहुत प्रभावित किया है. विकेट उन्हें ज्यादा नहीं मिले. लेकिन गेंदबाजी का अंदाज, दबाव में प्रदर्शन.. ये सब ऐसा है, जो उन्हें लंबी रेस का घोड़ा बनाता है.

शादाब जकाती - तीन मैच शिविल कौशिक ने खेले हैं. दो शादाब जकाती ने. दोनों को विकेट नहीं मिले हैं. दोनों प्रभावशाली नहीं रहे हैं. लेकिन जकाती ने पिछले सीजन में अच्छा खेल दिखाया था. ऐसे में संभव है कि उन्हें मौका दिया जाए.

धवल कुलकर्णी - मुंबई के इस तेज गेंदबाज ने भी आईपीएल 10 में कोई ज्यादा प्रभावित नहीं किया है. लेकिन उनसे उम्मीद हैं. पिछले सीजन का उनका रिकॉर्ड उन्हें टीम में जगह दिलवाएगा और रैना उम्मीद करेंगे कि उनकी गेंदबाजी हर मैच में पिछले से बेहतर हो.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi