S M L

अच्छे इंसान के तौर पर याद किया जाना चाहता हूं: मुस्तफिजुर

मुस्तफिजुर आईपीएल में मौजूदा विजेता सनराइजर्स हैदराबाद के साथ खेल रहे हैं

IANS Updated On: Apr 18, 2017 10:35 PM IST

0
अच्छे इंसान के तौर पर याद किया जाना चाहता हूं: मुस्तफिजुर

बांग्लादेश के तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान सफलता को अपने सिर चढ़ने देना नहीं चाहते. उनकी चाहत है कि अगर वह अच्छे खिलाड़ी नहीं बने पाए तो दुनिया उन्हें एक बेहतर इंसान के तौर पर याद रखें.

मुस्तफिजुर ने 2015 में भारत के खिलाफ बांग्लादेश में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था. उस समय 19 साल के मुस्तफिजुर ने अपनी शानदार ऑफ कटर के जरिए विराट कोहली, रोहित शर्मा, एम.एस धोनी, अजिंक्य रहाणे जैसे खिलाड़ियों से सजे भारतीय बल्लेबाजी क्रम को परेशान किया था.

पहले दो एकदिवसीय मैच में मुस्तफिजुर ने 5-50 और 6-43 का बेहतरीन प्रदर्शन किया था और तीन मैचों की श्रृंखला में भारत के खिलाफ बांग्लादेश को जीत दिलाई थी.

मुस्तफिजुर के अलावा सिर्फ जिम्बाब्वे के ब्रायन विटोरी के नाम ही पहले दो एकदिवसीय मैचों में पांच से ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड है.

आईपीएल में मौजूदा विजेता सनराइजर्स हैदराबाद के साथ खेल रहे मुस्तफिजुर ने कहा,  ‘मैं कभी सफलता को अपने सिर चढ़ने नहीं देता. आप सभी हमेशा मुझसे पूछते रहते हैं कुछ बड़ी चीजों के बारे में पूछते, मुझे महान प्रतिभा बताते हैं और भी बहुत कुछ. लेकिन मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता.’

उन्होंने कहा, ‘अगर मैं एक अच्छा क्रिकेट खिलाड़ी नहीं बन सका तो मैं एक अच्छे इंसान के तौर पर याद रहना चाहूंगा.’

पिछले साल भारत की मेजबानी में खेले गए टी-20 विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ ईडन गार्डन स्टेडियम में खेले गए मैच में मुस्तफिजुर ने 22 रन देकर पांच विकेट लिए थे.

उन्होंने कहा,  ‘टी-20 में आपको विविधता की जरूरत पड़ती है. हर गेंदबाज के पास अपनी गेंदें होती हैं. लेकिन आपको सफल होने के लिए अलग-अलग गेंद करनी होती हैं.’

अपनी विविधता और रणनीति के लिए मशहूर मस्तफिजुर की पिछले साल अगस्त में कंधे की सर्जरी हुई थी, जिसके बाद वह उनकी गेंदबाजी में कुछ गिरावट देखने को मिली है.

न्यूजीलैंड दौर पर भी वह ज्यादा प्रभावी नहीं रहे थे. उन्हें सिर्फ एक विकेट मिला था. इसके बाद उन्हें भारत के खिलाफ फरवरी में हुए इकलौते टेस्ट मैच में ब्रेक दिया गया था.

मुस्तफिजुर से जब पूछा कि उन्हें भारत के खिलाफ मैच में न खेलने का अफसोस है? इसके जवाब में उन्होंने कहा, ‘मैं इस श्रृंखला के लिए फिट नहीं था.’

बांग्लादेश ने हाल ही में श्रीलंका का दौरा किया था, जिसमें उन्होंने दो टेस्ट मैचों में आठ विकेट, तीन एकदिवसीय मैचों में छह और दो टी-20 मैचों में चार विकेट लिए थे.

उन्होंने कहा, ‘मैं श्रीलंका के खिलाफ एकदिवसीय में अपनी गेंदबाजी से खुश हूं. जो मैं चाहता था वह हो नहीं रहा था. मैं गेंद को सही क्षेत्र में भी नहीं डाल पा रहा था. लेंथ भी सही नहीं थी. आखिरी एकदिवसीय में मैं अपनी लय में आया और इसके बाद टी-20 श्रृंखला अच्छी रही.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi