S M L

भारत- श्रीलंका पहला वनडे: जीत से शुरुआत करना चाहेगी टीम इंडिया

टेस्ट की तरह वनडे सीरीज में भी फेवरेट है टीम इंडिया, पिछली बार श्रीलंका को 5-0 से धोया था

FP Staff Updated On: Aug 19, 2017 05:27 PM IST

0
भारत- श्रीलंका पहला वनडे: जीत से शुरुआत करना चाहेगी टीम इंडिया

टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप करने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम रविवार से श्रीलंका के खिलाफ शुरू हो रही पांच मैचों की वनडे सीरीज में उतरेगी तो लक्ष्य 2019 विश्व कप के लिए संभावित खिलाड़ियों की तलाश भी होगा.

भारत ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 3- 0 से जीती और अब यह लय वनडे सीरीज में भी जारी रखना चाहेगा.

यह हालांकि किसी और सीरीज की तरह नहीं होगी क्योंकि मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद साफ तौर पर कह चुके हैं कि इंग्लैंड में 2019 में होने वाले विश्व कप के मद्देनजर फिटनेस पर विशेष जोर रहेगा.

भारतीय टीम प्रबंधन ने इस सिलसिले में काफी कदम उठाए हैं और केएल राहुल को पूरी सीरीज में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये उतारने का ऐलान इसमें शामिल है. चोटों से घिरे रहने वाले राहुल ने अभी तक सिर्फ छह वनडे खेले हैं और सभी में पारी का आगाज किया है.

उन्होंने जिम्बाब्वे के खिलाफ 2016 में पहले वनडे में शतक जमाया और बाद में उस सीरीज में अर्धशतक भी लगाया. अगले तीन वनडे उन्होंने जनवरी में इंग्लैंड के खिलाफ खेले जिसमें पारी की शुरूआत की लेकिन सिर्फ 24 रन बना सके.

फिट होने पर वह चैम्पियंस ट्राफी टीम का हिस्सा होते लेकिन युवराज सिंह के टीम में रहने से उन्हें पारी की शुरुआत के लिए ही कहा जाता.

राहुल चौथे नंबर पर उतरेंगे क्योंकि इस समय उन्हें अंतिम एकादश से बाहर नहीं रखा जा सकता जैसा कि प्रसाद ने कहा था. वैसे भी राहुल आईपीएल में मध्यक्रम में बल्लेबाजी कर चुके हैं. उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु के लिए निचले क्रम पर बल्लेबाजी करके 12 पारियों में 44 11 की औसत से 397 रन बनाए हैं.

पारी की शुरुआत शिखर धवन और रोहित शर्मा करेंगे. तीसरे नंबर पर विराट कोहली आएंगे. महेंद्र सिंह धोनी पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे और हार्दिक पांड्या सातवें नंबर पर उतरेंगे. छठे नंबर के लिये मनीष पांडे और केदार जाधव में मुकाबला होगा.

जाधव पिछली दो सीरीज में प्रभावित नहीं कर सके हैं और इंग्लैंड में उनकी फील्डिंग बहुत लचर थी. बल्लेबाजी में उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिले लेकिन चैम्पियंस ट्राफी और वेस्टइंडीज में उन्होंने कुछ ओवर फेंके.

भारत का गेंदबाजी संयोजन स्थिर लग रहा है. भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमरा नयी गेंद संभालेंगे जबकि कुलदीप यादव स्पिन की जिम्मेदारी लेंगे जिनका साथ देने के लिये अक्षर पटेल या युजवेंद्र चहल होंगे.

श्रीलंका के लिये यह सीरीज प्रतिष्ठा बचाने का मौका है. मेजबान टीम को 2019 विश्व कप में डारेक्ट क्वालीफिकेशन के लिए दो और वनडे जीतने होंगे. यदि भारत के खिलाफ वे ऐसा कर पाते हैं तो उनके 90 अंक होंगे.  ऐसे में वेस्टइंडीज उनसे ऊपर नहीं जा सकेगा भले ही वे 30 सितंबर की समयसीमा से पहले आयरलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ सभी छह मैच जीत जाए.

भारत ने पिछली बार नवंबर 2015 में हुई सीरीज में श्रीलंका को 5 -0 से हराया था. श्रीलंकाई टीम हाल ही में जिम्बाब्वे से 2 -3 से हार चुकी है जिसके बाद एंजेलो मैथ्यूज ने कप्तानी छोड़ दी. श्रीलंका की अनुभवहीन टीम ने हालांकि चैम्पियंस ट्राफी में भारत को हराया था. मंलिगा और तिसारा परेरा के टीम में शामिल होने के बाद श्रीलंका कुछ सुधरा हुआ प्रदर्शन कर सकते हैं.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi