S M L

बीसीसीआई की जिद की वजह से क्रिकेट नहीं हो पा रहा ओलिंपिक में शामिल

2024 ओलिंपिक में क्रिकेट को शामिल करने की योजना पर बीसीसीआई बन रही है बाधा

FP Staff Updated On: Jul 31, 2017 02:49 PM IST

0
बीसीसीआई की जिद की वजह से क्रिकेट नहीं हो पा रहा ओलिंपिक में शामिल

भारत में खेल के प्रति कितना जुनून है यह बात क्रिकेट की दीवानगी से जाहिर हो जाती है. लेकिन अपना देश की झोली ओलंपिक खेलों .के मेडल गिने चुने ही आ पाते हैं. ओलिंपिक में क्रिकेट को शामिल करने की मांग पहले भी होती रही है, लेकिन इसको कभी गंभीरता से नहीं लिया गया. इस बार जब आईसीसी खुद इसके लिए प्रयास कर रही है, ऐसे में दुनिया का सबसे अमीर बोर्ड बीसीसीआई क्रिकेट के ओलिंपिक में शामिल होने की राह में रोड़ा बनी हुआ है.

ओलिंपिक में क्रिकेट को शामिल करने के लिए सबकुछ ठीक चल रहा है, इंतजार है तो बस भारत की मंजूरी का. आईसीसी और आईओसी टी20 क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करना चाहते हैं. बीसीसीआई इसके लिए सहमत नहीं है. समाचार पत्र द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक बीसीसीआई के ओलंपिक में शामिल न होने का मुख्य कारण उसकी स्वायत्ता है. बीसीसीआई नहीं चाहती कि उसकी स्वायत्ता पर कोई खतरा पैदा हो.

बीसीसीआई के विरोध का दूसरा कारण राजस्व को लेकर है, अगर बीसीसीआई आईओए में शामिल होता है तो उसे अपना राजस्व बांटना होगा, जो बीसीसीआई बिल्कुल भी नहीं चाहता. आईसीसी, बीसीसीआई को राजी करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. बीसीसीआई जैसे धनी बोर्ड और भारत जैसी बड़ी टीम के बिना क्रिकेट के किसी बड़े टूर्नामेंट की कल्पना करना भी मुश्किल है.

आईसीसी के पास सितंबर तक का समय है, जिसके भीतर उसे आईओसी को अपना फैसला बताना है, ताकि इसके आगे की प्रक्रिया को पूरा किया जा सके.सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों की समिति ने बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी से क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करने संबंधित रिपोर्ट मांगी है.

बीसीसीआई अगर सहमत होती है तो 2024 के ओलंपिक में क्रिकेट को शामिल किया जा सकता है. ओलंपिक में क्रिकेट का आयोजन 1990 पेरिस ओलंपिक में किया गया था. 2024 पेरिस में होने वाला ओलंपिक एक बार फिर से ओलंपिक में क्रिकेट का वापसी स्थल बन सकता है. आईसीसी टी20 क्रिकेट को ओलंपिक में आयोजित करना चाहता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi