S M L

आईसीसी महिला विश्वकप 2017 सेमीफाइनल: हरमनप्रीत के तूफान में उड़ा ऑस्ट्रेलिया, भारत ने 36 रनों से दी मात

23 जुलाई को खिताब के लिए इंग्लैंड से भिड़ेगी भारतीय टीम

FP Staff Updated On: Jul 21, 2017 04:29 PM IST

0
आईसीसी महिला विश्वकप 2017 सेमीफाइनल: हरमनप्रीत के तूफान में उड़ा ऑस्ट्रेलिया, भारत ने 36 रनों से दी मात

भारत ने महिला विश्वकप के दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराकर फाइनल में जगह बनाई. हरमनरप्रीत कौर की तूफानी पारी की बदौलत भारत ने विश्व चैंपियन को मात दी.

बारिश के कारण मैच देरी से शुरू हुआ इसलिए अंपायरों ने ओवरों की संख्या 50 से घटाकर 42 कर दिया.

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया के सामने 282 रनों का लक्ष्य रखा.

भारत को इस स्कोर तक पहुंचाने में हरमनप्रीत का अहम योगदान रहा. उन्होंने अपनी पारी में सिर्फ 115 गेंदों का सामना करते हुए 20 चौके और सात छक्के लगाए. उनकी तीन अहम साझेदारी की बदौलत भारत यह स्कोर खड़ा कर पाया.  यह हरमनप्रीत का वनडे में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर भी है.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को अच्छी शुरुआत नहीं मिली. स्मृति मंधाना एक बार फिर सस्ते में पवेलियन लौट गई. वह पहले ही ओवर की आखिरी गेंद पर छह रन बनाकर  आउट हो गईं.

पूनम राउत (14) भी कुछ खास नहीं कर पाईं और 35 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट गईं. इसके बाद हरमनप्रीत और कप्तान मिताली राज ने टीम को संभाला और तीसरे विकेट के लिए 66 रनों की साझेदारी करते हुए सौ का आंकड़ा पार कराया.

मिताली 101 के कुल स्कोर पर आउट होकर पवेलियन लौट गईं. दूसरे छोर पर खड़ी हरमनप्रीत को इसके बाद दीप्ति शर्मा का साथ मिला. दोनों ने मिलकर चौथे विकेट के लिए 137 रन जोड़े. हरमनप्रीत कौर ने मैदान में हर ओर छक्के और चौके लगाए.

इस जोड़ी ने धीमी शुरुआत के बाद लय पकड़ी और फिर टीम को मजबूत लक्ष्य प्रदान किया. हालांकि इस दौरान हरमनप्रीत तेजी से रन बनाती दिखीं जबकि दीप्ति ने उनका अच्छा साथ दिया और स्ट्राइक रोटेट करती रहीं. उन्होंने 35 गेंदों में 25 रन बनाए और सिर्फ एक चौका मारा. हरमनप्रीत 98 रन पर रनआउट होते होते बची. इसके बाद उनकी तुफानी पारी नहीं थमी. दर्शक एक के बाद शॉट से हैरान थे.

Womens World Cup 238 रन के कुल स्कोर के बाद दीप्ति शर्मा के विकेट गिरने से यह साझेदारी टूटी. एलिस विलानी ने इस साझेदारी  को कुल स्कोर पर तोड़ा. इसके बाद वेदा कृष्णामूर्ति ने हरमनप्रीत का अच्छा साथ दिया. इस जोड़ी ने आखिरी के चार ओवरों के बल्लेबाजी पावरप्ले में 57 रन जोड़ ऑस्ट्रेलिया को विशाल लक्ष्य दिया.

आस्ट्रेलिया की तरफ से मेगन शट, एशेल गार्डनर, कर्स्टन बीम्स, एलिस विलानी ने एक-एक विकेट लिया.

इसके बाद बल्लेबाजी के लिए उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही. ऑस्ट्रेलिया ने अपने शुरुआती 3 विकेट 21 रन के कुल स्कोर पर ही खो दिए. इसके बाद एलसी पेरी और एलसी विलानी ने पारी को संभाला को ऑस्ट्रेलिया को स्कोर 126 रन तक पहुंचया. इसके बाद तो मानोम विकेट की झड़ी लग गई. ऑस्ट्रेलिया का मिडिल ऑडर पूरी तरह फ्लॉप रहा.

170 तक पहुंचते पहुंचते ऑस्ट्रेलिया अपने नौ विकेट खो चुका था. इसके बाद मैच में एक बार फिर करवट बदली. एलेक्स ब्लैकवेल नाम का तुफान आया जिसके आगे भारत के गेंदबाज बेबस दिखाई पड़ रहे थे. अचानक से हाथ में जीत भारतीय टीम से दूर जाती नजर आने लगी. लेकिन आखिरकार दीप्ति शर्मा ने 90 रन के स्कोर पर एलेक्स को बोल्ड कर दिया और भारत को जीत दिलाई. रोमांचक मैच की जीत के साथ ही भारत ने सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया.

171 रनों की रिकॉर्ड पारी के लिए हरमनप्रीत कौर को ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi