S M L

चैंपियंस ट्रॉफी 2017 : ‘क्वार्टर फाइनल’ से पहले कोहली बोले- हम अजेय नहीं

श्रीलंका के खिलाफ हार के बाद विराट ने कहा - हार के बाद बुरा दिन समझ के भूल जाना चाहिए

Bhasha | Published On: Jun 09, 2017 06:08 PM IST | Updated On: Jun 09, 2017 06:13 PM IST

चैंपियंस ट्रॉफी 2017 : ‘क्वार्टर फाइनल’ से पहले कोहली बोले- हम अजेय नहीं

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने चैंपियंस ट्रॉफी में दमदार स्कोर खड़ा करने के बावजूद श्रीलंका से मिली हार के बाद कहा कि उनकी टीम अजेय नहीं है. भारत ने श्रीलंका के सामने 322 रन का मुश्किल लक्ष्य रखा. लेकिन श्रीलंकाई टीम ने उसे तीन विकेट खोकर आसानी से हासिल कर लिया.

कोहली ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मेरी निजी राय है कि हमने अच्छा स्कोर खड़ा किया था. मैं यह भी मानता हूं कि हमारे गेंदबाजों ने अच्छी गेंदबाजी की. अगर श्रीलंकाई बल्लेबाज इस तरह की बल्लेबाजी करते हैं और हर कोई अच्छा खेल दिखाता है तो आपको विरोधी टीम को श्रेय देना होगा. हम अजेय नहीं हैं.’

उन्होंने कहा, ‘हम उन टीमों के खिलाफ खेल रहे हैं जो खुद चैंपियन टीमें हैं. मुझे लगता है कि हमने अच्छी गेंदबाजी की. यहां आपको दूसरी टीम को श्रेय देना होगा.’ कोहली ने कहा कि अपने साथियों की आलोचना करने के बजाय वह श्रीलंकाई बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन के लिए उनकी सराहना करना चाहेंगे.

उन्होंने कहा, ‘अगर कोई टीम इस तरह की मानसिकता से क्रिकेट खेलती है और अपने शॉट्स का अच्छा नमूना पेश करती है तो आपको उनकी प्रशंसा करनी पड़ेगी और कहना होगा कि बहुत अच्छा खेले.’ मौजूदा चैंपियन भारत अब करो या मरो वाली स्थिति में आ गया है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाला मैच अब वास्तविक क्वार्टर फाइनल बन गया है.

इसमें जीत दर्ज करने वाली टीम सेमीफाइनल में जगह बनाएगी. कोहली ने कहा, ‘हां, यह बेहद रोमांचक बन गया है. अब असल में हर मैच क्वार्टर फाइनल बन गया है. हमारे ग्रुप में हर टीम के दो-दो अंक हैं.  अगर आप अपना अगला मैच जीत जाते हो तो आगे बढ़ जाओगे जो कि मेरी नजर में सभी टीमों के लिए रोचक स्थिति है.’

कोहली ने कहा कि गेंदबाजों के नहीं चल पाने की वजह से अब जब टीम रविवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलने के लिए उतरेगी तो बल्लेबाजी में इसकी भरपाई करने की कोशिश करेगी. उन्होंने कहा, ‘बल्लेबाजी में हमने अच्छी तरह से पारी को आगे बढ़ाया. मेरा मानना है कि हमने पर्याप्त रन बनाए थे. हां जब आप पीछे मुड़कर देखते हो तो कुछ ऐसे दौर थे जबकि हम तेजी से रन बना सकते थे. लेकिन मुझे यह बड़ा मसला नहीं लगता.’

कोहली ने कहा, ‘हो सकता है कि अब हम अगले कुछ मैचों में इस पर ज्यादा जोर दें जिससे हमारे स्कोर में 20 रन अतिरिक्त जुड़ें. ऐसा इसलिए क्योंकि हमें अगला मैच इसी मैदान (ओवल) पर खेलना है.’ कोहली से पूछा गया कि इस हार के बाद वह टीम का मनोबल कैसे बढ़ाएंगे, उन्होंने कहा, ‘जब आप की बैटिंग यूनिट नहीं चल पाती है तो आप बैठकर यह नहीं सोचते कि सब कुछ यहीं पर समाप्त हो गया. आप यह सोचकर आगे बढ़ते हो कि यह एक बुरा दिन था. इसको भूल जाओ. टेस्ट मैच में आपके पास सोचने के लिए काफी समय होता है क्योंकि मैच पांच दिन तक चलता है.’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मुझे लगता है कि छोटे फॉरमेट में आपको इसे भूलकर आगे बढ़ना होता है. हम यहां नहीं बैठ सकते और यह नहीं सोच सकते कि लोगों की हमारे बारे में क्या धारणा होगी या टीम के रूप में लोगों ने हमसे क्या उम्मीद लगाई है.’

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi