S M L

चैंपियंस ट्रॉफी 2017: बड़े शो से पहले वॉर्म-अप का आखिरी मौका

दूसरे वॉर्म-अप मैच में भारत का मुकाबला बांग्लादेश के खिलाफ मंगलवार को

Bhasha, FP Staff Updated On: May 29, 2017 05:25 PM IST

0
चैंपियंस ट्रॉफी 2017: बड़े शो से पहले वॉर्म-अप का आखिरी मौका

पहले मैच में गेंदबाजों ने अपना पूरा रंग दिखाया. बल्लेबाजों को कुछ खास करने की जरूरत नहीं पड़ी. बरसात और डकवर्थ-लुइस सिस्टम ने उसे पहले ही जीत दिला दी. अब सामना बांग्लादेश के खिलाफ है. उसमें टीम इंडिया के पास आखिरी मौका है मैच प्रैक्टिस का. उन दो खिलाड़ियों के पास भी, जो पहला मैच नहीं खेले थे. यानी रोहित शर्मा और युवराज सिंह.

रोहित शर्मा अपने चिर परिचित स्थान पर वापसी करेंगे. चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान के खिलाफ शुरुआती मुकाबले से पहले जब भारतीय टीम बांग्लादेश के खिलाफ उतरेगी तो उनकी निगाहें सलामी बल्लेबाज के तौर पर कुछ अच्छे अभ्यास पर लगी होंगी.

बारिश के कारण बाधित हुए शुरुआती अभ्यास मैच में न्यूजीलैंड पर 45 रन की जीत दर्ज करने के बाद विराट कोहली चाहेंगे कि उनके बल्लेबाजों को पिछले अभ्यास मैच की तुलना में 26 से ज्यादा ओवर खेलने को मिल जाएं.

रोहित इंडियन प्रीमियर लीग में अपनी टीम की बेहतरी के लिए बल्लेबाजी क्रम में नीचे खेलने उतरे थे. लेकिन अब वह पारी का आगाज करेंगे. परिवार मे शादी की वजह से पहले अभ्यास मैच में वो नहीं खेल सके थे.

महेंद्र सिंह धोनी ने 2013 में भारत के सफल चैंपियंस ट्रॉफी अभियान में उन्हें बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजने का फैसला लिया था. इसके बाद उनका सीमित ओवर का करियर पूरी तरह से बदल गया.

भारत की सफलता का सबसे बड़ा कारण रोहित और शिखर धवन की जोड़ी थी. यह जोड़ी फिर से उन्हीं हालात में नई गेंद का सामना करेगी जो चार साल के पिछले अभियान की तरह ही हैं. पहले अभ्यास मैच में अजिंक्य रहाणे बतौर सलामी बल्लेबाज विफल रहे.

कोहली ने पहले मैच में अर्धशतकीय पारी खेली और वह महेंद्र सिंह धोनी के साथ मैदान पर एक और अच्छी पारी खेलने चाहेंगे. धोनी ने भी क्रीज पर अपनी पारी के दौरान प्रभावित किया था.

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि युवराज सिंह वायरल बुखार से उबरे हैं कि नहीं और वह कल के मैच में उपलब्ध रहेंगे कि नहीं. इस अनुभवी बल्लेबाज को भी पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले बल्लेबाजी अभ्यास की जरूरत है. कप्तान कोहली केदार जाधव को भी मौका देना चाहेंगे.

बांग्लादेश की टीम 50 ओवर के क्रिकेट में काफी अच्छी रही है. ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड में हुए 2015 विश्व कप के दौरान टीम क्वार्टरफाइनल तक पहुंची थी.

मुस्तफिजुर रहमान, रूबेल हुसैन, तस्कीन अहमद और कप्तान मशरफे मुर्तजा की तेज गेंदबाजों की चौकड़ी किसी भी दिन किसी भी टीम के खिलाफ खतरनाक साबित हो सकती है. भारत ने 2015 में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे सीरीज गंवा दी थी जब मुस्तफिजुर अंतरराष्ट्रीय किकेट में नए ही थे.

उनके खिलाफ भिड़ंत से अगले रविवार को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मुकाबले से पहले टीम की अच्छी तैयारी हो सकती है. भारत का गेंदबाजी आक्रमण न्यूजीलैंड के खिलाफ अच्छा ही दिखा था, जिसमें उन्होंने विपक्षी टीम को 189 रन पर समेट दिया था.

कोहली के सामने हालांकि नई गेंद से गेंदबाजी करने के विकल्पों में भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव और मोहम्मद शमी मौजूद होंगे. डेथ ओवरों की ज्यादातर जिम्मेदारी यॉर्कर विशेषज्ञ जसप्रीत बुमराह के ऊपर होगी. रवींद्र जडेजा की छोटे प्रारूप में ऑलराउंडर की काबिलियत रविचंद्रन अश्विन से बेहतर है.

दूसरे अभ्यास मैच से हालांकि पता चल जाएगा कि शुरुआती मुकाबले में भारत की अंतिम एकादश के खिलाड़ी कौन होंगे. मैच भारतीय समयानुसार दोपहर तीन बजे शुरू होगा.

टीमें : भारत : शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, युवराज सिंह, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमरा, रविचंद्रन अश्विन, उमेश यादव, दिनेश कार्तिक, अजिंक्य रहाणे.

बांग्लादेश : तमीम इकबाल, इमरुल कैस, सौम्य सरकार, शब्बीर रहमान, महमूदुल्लाह रियाद, शकिब अल हसन, मुश्फिकुर रहीम, मशरफे मुर्तजा, रूबेल हुसैन, मुस्तफिजुर रहमान, तास्कीन अहमद, मेहदी हसन, मोसद्दिक हुसैन, सुनजामुल इस्लाम, शफीउल इस्लाम.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi