S M L

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017, भारत-पाकिस्तान मुकाबला: इन पाकिस्तानी खिलाड़ियों से सावधान टीम इंडिया!

पाकिस्तानी की टीम में कई अच्छे खिलाड़ी, जिससे भारतीय टीम को सावधान रहना होगा

Lakshya Sharma Updated On: Jun 03, 2017 10:24 AM IST

0
आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017, भारत-पाकिस्तान मुकाबला: इन पाकिस्तानी खिलाड़ियों से सावधान टीम इंडिया!

4 जून को चैंपियंस ट्रॉफी में भारत और पाकिस्तान के बीच महा मुकाबला खेला जाएगा. पिछली बार जब भारत और पाकिस्तान आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में आमने सामने आए थे तब भारत ने आठ विकेट से जीत हासिल की थी. मौजूदा दौर में भी पाकिस्तानी टीम भारत के आगे कमजोर ही नजर आ रही है. पाकिस्तान की वनडे रैंकिंग 8 है और पिछली कुछ सीरीज में उसका प्रदर्शन बेहद खराब रहा है लेकिन इसके बावजूद भारत के खिलाफ पाकिस्तान अच्छा प्रदर्शन कर सकता है.

इतिहास गवाह है कि जब-जब भारत और पाकिस्तान की टक्कर होती है मुकाबला हमेशा बेहद कड़ा होता है. इस बार चैंपियंस ट्रॉफी में भी कुछ ऐसा ही हो सकता है क्योंकि पाकिस्तानी टीम में कुछ ऐसे खिलाड़ी हैं जो भारत के लिए खतरा साबित हो सकते हैं. आइए एक नजर डालते हैं पाकिस्तान के उन खिलाड़ियों पर.

बाबर आजम: पाकिस्तान की मौजूदा टीम में बाबर आजम सबसे टैलेंटेड बल्लेबाज हैं. बाबर आजम की तुलना भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली से की जाती है. 22 साल के बाबर आजम ने 26 वनडे मैचों में 55.08 के औसत से कुल 1322 रन बनाए हैं. बाबर के नाम 5 शतक और 6 अर्धशतक भी हैं. उन्होंने पाकिस्तान के वेस्ट इंडीज दौरे पर 125 रनों की शानदार पारी खेली थी. वो इस समय बेहतरीन फॉर्म में हैं और इसे चैंपियंस ट्रॉफी में बरकरार रहना चाहेंगे. पिछली चैंपियंस ट्रॉफी में बाबर पाकिस्तानी टीम का हिस्सा नहीं थे लेकिन इस बार वह अपनी टीम को खिताबी टीम दिलाने के लिए पूरा जोर लगाना चाहेंगे.

मोहम्मद हफीज: टीम इंडिया को बाबर आजम के अलावा जिस खिलाड़ी से सावधान रहने की जरूरत है वो हैं मोहम्मद हफीज. पाकिस्तान का ये हरफनमौला खिलाड़ी 2013 चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान टीम का हिस्सा था. हफीज जिन्हें पाकिस्तान टीम में ‘प्रोफेसर’ के नाम से जाना जाता है अब तक कुल 185 वनडे मैच खेल चुके हैं. भारत के खिलाफ उनका प्रदर्शन भी शानदार रहा है.हफीज ने 185 मैचों में 32.73 की औसत से 5278 रन बनाए हैं. गेंदबाजी में भी उनका रिकॉर्ड अच्छा है वो अबतक 132 विकेट ले चुके हैं. हफीज बाएं हाथ के बल्लेबाजों को खासा परेशान करते हैं.

शोएब मलिक: पाकिस्तान टीम के पूर्व कप्तान और अऩुभवी खिलाड़ी शोएब मलिक भी चैंपियंस ट्रॉफी में भारत के लिए खतरा साबित हो सकते हैं. मलिक ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ तीसरे वनडे में शानदार शतक लगाया था. वह इस फॉर्म को चैंपियंस ट्रॉफी में भी बरकरार रखना चाहेंगे. साथ ही उन्हें भारत के खिलाफ खेलने का अच्छा खासा अनुभव है. मलिक ने 247 वनडे मैचों में 35.50 की औसत से 6711 रन बनाए हैं.

मोहम्मद आमिर: पाकिस्तान के तेज गेंदबाज टीम इंडिया के बल्लेबाजों को मुश्किल में डालने का दमखम रखते हैं. पाकिस्तानी तेज गेंदबाजों में से मोहम्मद आमिर भारत के लिए बड़ा खतरा बन सकते हैं. 25 साल का ये गेंदबाज टीम इंडिया के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन कर चुका है.

एशिया कप और 2016 में हुए टी-20 वर्ल्ड कप में मो. आमिर ने अपनी गेंदबाजी का लोहा मनवाया था. खुद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने मो. आमिर को दुनिया का सबसे बेहतरीन तेज गेंदबाज बताया था. आमिर ने 32 वनडे मैचों में 50 विकेट लिए हैं. वहीं वनडे में उनका इकॉनमी रेट भी 4.89 है. आमिर ने वेस्टइंडीज के साथ वनडे सीरीज में 5 विकेट लिए थे. आमिर टीम इंडिया के खिलाफ पाकिस्तान को शुरुआती ओवरों में बड़े विकेट दिला सकते हैं.

जुनैद खान: आमिर के साथ साथ पाकिस्तान टीम के पास एक और कमाल का गेंदबाज है जो भारतीय बल्लेबाजों को मुश्किल में डाल सकता है. 27 साल के मोहम्मद जुनैद खान पाकिस्तान के प्रमुख गेंदबाज हैं, उनके पास 50 से भी ज्यादा वनडे मैच खेलने का अनुभव है. जुनैद ने 58 वनडे मैचों में 5.40 की इकॉनामी रेट से 86 विकेट चटकाए हैं. इंग्लैंड की उछाल भरी पिचों पर जुनैद मोहम्मद आमिर के साथ मिलकर पाकिस्तान का गेंदबाजी अटैक संभालेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi