S M L

कुंबले का बयान - विराट की वजह से छोड़ा पद

'मुझे बीसीसीआई ने बताया कि कप्तान को मेरे स्टाइल पर कुछ आपत्ति है'

FP Staff | Published On: Jun 21, 2017 12:12 AM IST | Updated On: Jun 21, 2017 12:59 AM IST

0
कुंबले का बयान - विराट की वजह से छोड़ा पद

आखिर कुंबले ने वही किया, जो वो पूरी जिंदगी करते आए हैं. क्रिकेट की भाषा में कहा जाए तो उन्हें सीधे बल्ले से खेलने का फैसला किया. कुंबले के स्टाइल के हिसाब से बात की जाए, तो उन्होंने फ्लिपर का इस्तेमाल किया, जो पड़ने के बाद सीधी आती है. उन्होंने सीएसी से बात की. सीएसी यानी सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण की तिकड़ी, जो कोच चुनने के लिए है. उन्होंने अपनी बात साफ की. कोच पद से हटने का फैसला किया. उसके बाद अपना बयान जारी किया.

कहा जा रहा है कि कुंबले ने इसके लिए अपने कुछ करीबी लोगों से बात की. उन्होंने एक बयान तैयार किया. बयान कैसा होना चाहिए, इसे लेकर उन्हें कुछ सुझाव मिले. लेकिन कहा यही जा रहा है कि आखिर में कुंबले ने वैसा ही बयान दिया, जैसा वो देना चाहते थे.

उन्होंने लिखा है कि मैं सीएसी के कदम से गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं. उन्होंने मुझसे हेड कोच के तौर पर काम जारी रखने के लिए कहा. पिछले एक साल में टीम का जो भी प्रदर्शन रहा, उसका श्रेय कप्तान, पूरी टीम, कोचिंग और सपोर्ट स्टाफ को जाता है.

 

कुंबले आगे लिखते हैं कि मुझसे बात करने के दौरान पहली बार बीसीसीआई ने जानकारी दी कप्तान मेरे स्टाइल को लेकर नाखुश हैं. स्टाइल पर उनके कुछ ‘रिजर्वेशन’ हैं. वो हेड कोच के तौर पर मेरे काम जारी रखने पर भी सहमत नहीं हैं. मुझे ताज्जुब हुआ. मैंने हमेशा कप्तान और कोच के रोल की सीमाओं का सम्मान किया है. हालांकि बीसीसीआई ने मेरे और कप्तान के बीच गलतफहमियों को दूर करने की कोशिश की. लेकिन साफ हो गया कि ये साझेदारी अब नहीं चल सकती. इसीलिए मेरे लिए अच्छा था कि आगे बढ़ जाऊं.

कुंबले ने आगे लिखा है, ‘पेशेवर रवैया, कमिटमेंट, ईमानदारी, एक-दूसरे को सराहने की क्षमता और अलग विचार ऐसे कुछ पहलू हैं, जो मैं लेकर आया. अगर कोई पार्टनरशिप मजबूत होनी है, तो इनका होना जरूरी है. मुझे लगता है कि कोच का काम आईना पकड़ने का है, ताकि टीम की बेहतरी के लिए लगातार सुधार हो.’

कुंबले इसके बाद विराट पर हल्का कटाक्ष करते हुए लिखते हैं कि इन रिजर्वेशन के मद्देनजर मुझे लगता है कि बेहतर होगा कि बीसीसीआई और सीएसी किसी और को ये काम सौंप दे. इसके बाद कुंबले ने बीसीसीआई, सीएसी से लेकर क्रिकेट प्रशंसकों का शुक्रिया अदा किया है.

कुंबले के बयान ने कयासों के लिए कोई जगह नहीं छोड़ी थी. हालांकि विराट कोहली भी इस बात को स्वीकार कर चुके थे कि मतभेद हैं. लेकिन उन्होंने कहा था कि परिवार में भी दो लोगों के बीच किसी बात पर असहमति हो सकती है. लेकिन अब कुंबले के बयान ने साफ कर दिया कि मामला असहमति से कहीं ज्यादा का है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi