S M L

चार गेंद में दिए थे 92 रन, लगा दस साल का बैन

नो बॉल और वाइड की लगी थी झड़ी, सिर्फ चार लीगल गेंदों में बने थे 92 रन

FP Staff Updated On: May 02, 2017 06:47 PM IST

0
चार गेंद में दिए थे 92 रन, लगा दस साल का बैन

एक ओवर में 92 रन देकर मैच हारने की वजह से बांग्लादेश के गेंदबाज पर दस साल का बैन लगा दिया गया है. अंपायरिंग फैसले के विरोध में गेंदबाज ने लगातार वाइड और नो बॉल किए. उन्होंने सिर्फ चार लीगल गेंदों में 92 रन बना दिए.

लालमटिया क्लब के सुजॉन महमूद को बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड यानी बीसीबी ने खेल की छवि को नुकसान पहुंचाने का दोषी पाया. एजेंसी की खबर के मुताबिक क्लब ने उन पर किसी भी स्पर्धा पर अनिश्चितकाल के लिए रोक लगा दी. उनके कोच, कप्तान और मैनेजर पर ढाका सेकेंड लीग मे खेलने से पांच साल का बैन लगा दिया गया है.

पिछले महीने 50 ओवर के मैच में लालमटिया क्लब की टीम सिर्फ 88 रन पर आउट हो गई. वे सिर्फ 14 ओवर खेल पाए. एक्सिओम क्रिकेटर्स की टीम सिर्फ चार लीगल गेंदों पर 92 रन बनाने में कामयाब हुई. सुजॉन ने पहले ओवर में 13 वाइड और एक के बाद एक नो बॉल की. ये सब गेंद बाउंड्री के बाहर गईं. इससे 80 रन बने.

सुजॉन ने जो चार लीगल गेंद कीं, उनमें तीन चौके लगाए. इन चार गेंदों पर ही टीम जीतने में कामयाब रही. क्रिकेट बोर्ड ने एक और गेंदबाज तस्नीम हसन पर भी बैन लगा दिया. उनके क्लब फीयर फाइटर्स पर भी बैन लगा दिया. इस गेंदबाज और क्लब ने भी इसी अंदाज में मैच गंवाया था.

बोर्ड की अनुशासन कमेटी के प्रमुख शेख सोहैल ने कहा, ‘हमने जांच में पाया कि गेंदबाज ने जानबूझकर वाइड और नो बॉल कीं. इससे क्रिकेट की छवि को नुकसान पहुंचा. दोनों मामले में टीम की हार या जीत का उनके क्लब पर टूर्नामेंट में कोई असर पड़ने वाला नहीं था.’

लालमटिया क्लब के सचिव अदनान रहमान ने माना कि सुजॉन ने वाइड और नो बॉल की थीं. उन्होंने कहा कि टॉस के वक्त अंपायर ने उनकी टीम के कप्तान को सिक्का नहीं देखने दिया था. इसके विरोध में ऐसा किया गया. बीसीबी ने दोनों मैच के अंपायरों को भी छह महीने के लिए निलंबित कर दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi