S M L

झूलन गोस्वामी का खुलासा, चाहती थी वर्ल्डकप में कोच मुझे बाहर कर दें

आईसीसी महिला वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल और फाइनल में झूलन ने किया था शानदार प्रदर्शन

FP Staff Updated On: Aug 09, 2017 08:42 AM IST

0
झूलन गोस्वामी का खुलासा, चाहती थी वर्ल्डकप में कोच मुझे बाहर कर दें

भारतीय महिला टीम की तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने खुलासा किया कि वह महिला वर्ल्ड कप के पहले दो मैचों में अपने खेल से इतना इतना ज्यादा नाखुश थी कि उन्होंने कोच तुषार अरोठे से उन्हें प्लेइंग-11 से बाहर करने के लिए कह दिया था.

अरोठे ने हालांकि न सिर्फ इस अनुभवी तेज गेंदबाज का समर्थन किया, बल्कि उन्हें कप्तान मिताली राज का भी पूरा समर्थन मिला और आखिर में भारत को फाइनल तक पहुंचाने में झूलन ने अहम भूमिका निभाई.

झूलन को नेताजी इंडोर स्टेडियम में बंगाल क्रिकेट संघ के सालाना पुरस्कार समोराह में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सम्मानित किया.

इस मौके पर झूलन ने कहा, ‘वर्ल्ड कप के शुरूआती चरण में अपने प्रदर्शन से मैं बेहद निराश थी. वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच के बाद मैंने कोच तुषार से कहा कि मैं अच्छी गेंदबाजी नहीं कर रही हूं और आप मुझे अगले मैच से बाहर कर सकते हो. लेकिन उन्होंने कहा, ‘नहीं, मैं तुम्हें टीम में चाहता हूं और तुम आक्रमण की अगुवाई करोगी.’

झूलन ने कहा कि कोच के प्रेरणादाई शब्दों से उन्हें मजबूती मिली और उन्होंने मिताली की मदद से अपने खेल पर खास ध्यान दिया और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेहतरीन गेंदबाजी करके एक खूबसूरत गेंद पर उसकी कप्तान मेग लैनिंग को शून्य पर आउट किया. भारत ने सेमीफाइनल का यह मैच 36 रनों से जीता था.

उन्होंने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया का मैच हमारे लिए महत्वपूर्ण था. वह दुनिया की सबसे अच्छी टीम है. लैनिंग सबसे अच्छे क्रिकेटरों में से एक हैं. मैं चाहती थी कि मैं उन्हें सही जगह पर गेंद कराऊं. मैंने मिताली से कहा कि मैं उन्हें वैसी ही गेंद करना चाहती हूं जैसे कि लैनिंग को करनी चाहिए और उसने मुझे फीडबैक दिया. सौभाग्य से सब कुछ हमारे हिसाब से हुआ.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi