S M L

जुलाई स्पेशल (पार्ट 4): सच्चाई से इतनी भी दूर नहीं है हैरी पॉटर की दुनिया

हैरी पॉटर ने जेके रॉलिंग को केवल तारीफ ही नहीं आलोचनाएं भी दी हैं

Tulika Kushwaha Updated On: Jul 29, 2017 12:40 PM IST

0
जुलाई स्पेशल (पार्ट 4): सच्चाई से इतनी भी दूर नहीं है हैरी पॉटर की दुनिया

(हैरी पॉटर सीरीज की पहली किताब को आए हुए 20 साल पूरे हो गए हैं. इसके साथ ही जेके रॉलिंग, हैरी पॉटर और डेनियल रैडक्लिफ के बर्थडे के लिए हमारी जुलाई स्पेशल सीरीज का ये चौथा लेख है. सीरीज लेख के पुराने लेख यहां पढ़ें)

जेके रॉलिंग इस वक्त की सबसे ज्यादा आलोचना झेलने वाली लेखकों में से हैं और उन्हें सबसे ज्यादा उनकी हैरी पॉटर सीरीज के लिए ही क्रिटिसाइज किया गया है.

रॉलिंग पर इस सीरीज के लिए इतने अजीबों-गरीब आरोप लगाए गए हैं और ऐसे-ऐसे तर्क दिए गए हैं कि हैरानी होती है कि लोगों ने ये एंगल कहां से ढूंढ लिया. जैसे, कुछ लोग इस सीरीज को सुपरनैचुरल शक्तियों को बढ़ावा देने वाला मानते हैं और इसे क्रिश्चियैनिटी से जोड़कर देखते हैं.

कुछ लोगों का मानना है कि रॉलिंग इससे विचक्राफ्ट और जादू-टोना करने की प्रवृत्ति को बढ़ावा देती है. कुछ लोग तो रॉलिंग के पॉलिटिकल समझ को भी घेरे में लेते हैं.

दरअसल, इस सीरीज में जादू भरी दुनिया के अलावा कुछ और भी यूनीक है. ये जादू की दुनिया बस फैंटेसी नहीं है, इसमें बहुत कुछ ऐसा है, जो असली दुनिया में बिल्कुल फिट बैठता है. वो है पॉलिटिक्स, नस्लवाद, सत्ता, फेक न्यूज, प्रोपेगैंडा, एजुकेशन सिस्टम की बुराइयां.

रॉलिंग ने असली दुनिया की इन 'खूबियों' पर बेबाक होकर लिखा है. कहानी में ये पहलू इस तरह गुंथे हुए हैं कि आप इन्हें अलग करके नहीं देख सकते और रॉलिंग आराम से इन बातों को कह गई हैं.

पॉलिटिक्स

पावर है तो कॉन्फ्लिक्ट्स भी होंगे. मिनिस्ट्री ऑफ मैजिक में भी है. कॉर्नेलियस फज़ और ल्यूसियस मेल्फॉय इस बात के सबूत हैं कि पावर आपको पागल और उदासीन बना देता है. फज़ को जब फैसले लेने होते हैं, तब वो नहीं लेते और ल्यूसियस को अपने पॉवर का इस्तेमाल कर लोगों को मैनिप्यूलेट करने में मजा आता है.

आखिरी किताब तक तो मिनिस्ट्री ऑफ मैजिक, मिनिस्ट्री ऑफ लॉर्ड वॉल्डमॉर्ट बन जाती है है और ये सब कॉर्नेलियस फज़ के फैसलों का नतीजा है.

डोलोरस अम्ब्रिज भी इसी कैटेगरी में आती हैं. पावर का खतरनाक इस्तेमाल करने में अम्ब्रिज का कोई सामना नहीं कर सकता. पांचवीं किताब 'ऑर्डर ऑफ द फीनिक्स' में तो अम्ब्रिज ने तबाही मचा रखी है.

डोलोरस अम्ब्रिज. ( फोटो: पॉटरमोर वेबसाइट से)

डोलोरस अम्ब्रिज. ( फोटो: पॉटरमोर वेबसाइट से)

एजुकेशन

एजुकेशन में पॉलिटिक्स शामिल हो जाए तो सारे फॉर्मूले उलट जाते हैं. पांचवे पार्ट में मिनिस्ट्री ऑफ मैजिक ने हॉगवर्ट्स हाई इनक्विजिटर के तौर पर डोलोरस अम्ब्रिज को हॉगवर्ट्स में भेजकर ये पक्का कर दिया कि हॉगवर्ट्स पर मिनिस्ट्री का पूरा कंट्रोल रहे. असली दुनिया से ज्यादा अलग तो नहीं है. क्यों?

हाई इन्क्विजिटर का काम है- स्कूल की गतिविधियों पर नजर रखना, ‘फालतू’ टीचरों को बाहर निकालना, बच्चों को बेमतलब की बातों पर सजा देना. और अम्ब्रिज पूरी शिद्दत से ये काम करती हैं.

इसके साथ ही मिनिस्ट्री ये भी तय करती है कि बच्चे क्या पढ़ेंगे क्या नहीं. क्या आप एक सोसाइटी को ऐसी एजुकेशन दे सकते हैं, जो किसी खास एजेंडे से प्रेरित हो?

ये भी पढ़ें: हैरी पॉटर की जादुई किताबों में क्या है जेके रॉलिंग का मैजिक?

लॉर्ड वॉर्ल्डमॉर्ट. ( फोटो: पॉटरमोर वेबसाइट से).

लॉर्ड वॉर्ल्डमॉर्ट. ( फोटो: पॉटरमोर वेबसाइट से).

रेसिज्म

हैरी पॉटर सीरीज में रेसिज्म जादू शब्द से ही शुरू हो जाता है. मगलू (जादू ना जानने वाले सामान्य इंसान), हाफ-ब्लड (जिनके माता-पिता में से एक जादूगर और एक मगलू हों), मगल-बॉर्न (मगलू माता-पिता से पैदा हुआ जादूगर) , स्क्विब (जादूगरों के परिवार में पैदा हुआ मगलू), ब्लड ट्रेटर (मगलूओं को पसंद करने वाले जादूगर), शब्द पूरी तरह से नस्लवाद से प्रेरित हैं.

और हां, लॉर्ड वॉर्ल्डमॉर्ट को मत भूल जाइए. इस बंदे की पूरी शख्सियत ही रेसिज्म से बनी हुई है. वॉर्ल्डमॉर्ट का एक ही लक्ष्य है- शुद्ध नस्ल वाले जादूगरों को छोड़कर इस दुनिया से सारी नस्लों को मिटा देना. वो नहीं चाहता कि शुद्ध खून वाले जादूगरों को छोड़कर मगलू माता-पिता से जन्मे जादूगर या हाफ-ब्लड जादूगर जादू की दुनिया का हिस्सा बनें. ये दूसरी बात है कि वो खुद एक हाफ ब्लड है.

ज्यादा दिन नहीं हुए जब दुनिया में नस्लवाद को लेकर बहसें चल रही थीं और दीवार बनाने की बातें की जा रही थीं. दूसरी राष्ट्रीयता वाले लोगों को हदों में बांधने का कॉन्सेप्ट हमारी दुनिया में बहुत ‘स्ट्रेंज’ नहीं है.

रीटा स्कीटर (पॉटरमोर वेबसाइट से).

रीटा स्कीटर (पॉटरमोर वेबसाइट से).

फेक न्यूज और प्रोपेगैंडा

ओह फेक न्यूज!....अगर फिलहाल बड़े-बड़ों की जुबान पर कोई एक फ्रेज है तो वो यही है. फेक न्यूज फिलहाल एक बड़ी प्रॉब्लम है. हॉगवर्ट्स के सामने भी है. और रीटा स्कीटर इस फेक न्यूज और प्रोपेगैंडा की टॉप क्लास की जर्नलिस्ट हैं. तथ्यों को तोड़ना-मरोड़ना, मिर्च-मसाला लगाने में रीटा आजकल के पत्रकारों से बीस ही निकलेंगी.

साथ ही मिनिस्ट्री भी मामलों को दबाने-छिपाने का काम अपनी सुविधानुसार करती है. वॉल्डमॉर्ट के वापस आने की खबर को दबाकर मिनिस्ट्री बेवकूफी करती है.

अब ये मत कहिए कि रॉलिंग को पॉलिटिक्स की समझ नहीं है या वो किसी खास एजेंडे के तहत ये सीरीज लिख रही थीं. उन्होंने वही लिखा है, जो हो रहा है.

ये भी पढ़ें: हैरी पॉटर के किरदार क्यों हैं करोड़ों लोगों के लिए खास?

मिथ

इनके अलावा सीरीज में माइथोलॉजिकल चीजें हैं, जिनका पुराने लिटरेचर और लोककथाओं में इस्तेमाल हो चुका है. रॉलिंग ने अपनी सीरीज में कई ऐसी चीजों और प्राणियों का जिक्र किया है जिनके बारे में अधिकतर लोगों ने नहीं सुना था या जिनका जिक्र पौराणिक कहानियों में ही था.

जैसे, यूनिकॉर्न, फीनिक्स, सेन्टॉर्स, मर्मेड्स, हिप्पोग्रिफ और थेस्ट्रल्स जैसे जानवरों और प्रजातियों का जिक्र 16वीं शताब्दी और उसके पहले की कविताओं और पेंटिग्स में मिलता है.

हिप्पोग्रिफ बकबीक (हैरी पॉटर विकिया. कॉम से).

हिप्पोग्रिफ बकबीक (हैरी पॉटर विकिया. कॉम से).

वहीं एक और खास बात है कि रॉलिंग ने किताब के कुछ किरदारों को आसमान के तारों और नक्षत्रों के नाम दिए हैं. जैसे- सीरीयस,  रीमस, मिनर्वा, और फेनरिर. इन सबका जिक्र आप नॉर्स मिथोलॉजी में देख सकते हैं.

अधिकतर नामों के पीछे कोई न कोई अर्थ छुपा है. रॉलिंग ने मिथ और दूसरी भाषाओं से रेफरेंस लिए हैं और उनमें अपनी जरूरत के हिसाब से थोड़े बदलाव किए हैं. जैसे- हरमाइनी का नाम संदेशवाहक ग्रीक देवता हरमीज से लिया गया है.

रॉलिंग कुछ शब्दों का इस्तेमाल करती हैं, जिनका पहली नजर में कोई मतलब नहीं लगता लेकिन थोड़ा पता लगाएं तो समझ आता है कि उन्होंने अधिकतर स्पैनिश और लैटिन शब्दों से मदद ली है. जैसे- सीरीज में इस्तेमाल किए गए मंत्र अधिकतर लैटिन और अरेमिक भाषा समूह से लिए गए हैं.

मृत्युदंश शाप अवाडा केडर्वा (avada kedarva) अरेमिक से लिया गया है. avada kedarva का मतलब है- मैं बोलता हूं और नष्ट करता हूं. अरेमिक में Abhadda kedhabhra शब्द है, जिसका मतलब है, शब्दों की तरह गायब हो जाओ.  अंग्रेजी का शब्द है- cadaver इसका मतलब है- corpse या लाश, ये शब्द लैटिन के cadere से निकला है, जिसका मतलब है- गिरने दो. और ये मृत्युदंश शाप यही करता है.

इसी तरह सीरीज में काफी कुछ ऐसा है, जो पहली नजर में बस एक सामान्य शब्द, फ्रेज या घटनाक्रम लगता है लेकिन गहराई में जाने पर रॉलिंग के प्रयोग दिखते हैं.

ये भी पढ़ें: बस 'हैरी पॉटर' नहीं रहना चाहते डैनियल रैडक्लिफ

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi