S M L

तलाक, तलाक, तलाक...कभी कुत्ते, कभी फ्रिज तो कभी लौंग की वजह से तलाक!

झटपट प्यार और शादी वाली पीढ़ी ने तलाक को भी झटपट बना दिया है

FP Staff Updated On: Mar 31, 2017 08:07 AM IST

0
तलाक, तलाक, तलाक...कभी कुत्ते, कभी फ्रिज तो कभी लौंग की वजह से तलाक!

भारत जैसे देश में शादी के लिए लड़का, लड़की, परिवार, समाज और कानून सभी तत्व बहुत संजीदा तौर पर मेहनत करते हैं, ताकि शादी सफलतापूर्वक पूरी जिंदगी चलती रहे.

इसी वजह से भारत में शादी जैसे बंधन की सफलता दर भी दूसरे देशो के मुकाबले बेहतर है, लेकिन इसके बावजूद अगर कोई शादी के बंधन को तोड़कर अपने पार्टनर से अलग होना चाहता है, तो उसकी इजाजत भी भारतीय कानून देता है.

भारतीय ससंद ने 1950 में हिंदू कोड बिल पास करते हुए महिलाओं को अपने पार्टनर से अलग होने और तलाक फाइल का अधिकार दिया है. इसके बाद इस बिल में संशोधन स्वरुप 1976 में दोनों पार्टनर्स को आपसी रजामंदी से तलाक लेने का कानून भी पास हो गया.

आज इसी बिल के हवाले से भारतीय शादियां छोटी-छोटी मिसअंडरस्टैंडिंग और प्रॉबलम्स की बलि चढ़ते हुए तलाक में तब्दील होती जा रही हैं.

ऐसे समय में जब भारत में शादियों का सीजन है ये फैसला कई लोगों के लिए गले की फांस बन गया है.

जी हां पिछले कुछ सालों के रिकार्ड्स देखें तो वकीलों और मैरिज कॉउंसिलर ने भी यही माना है कि आजकल छोटी- छोटी वजहों और मिसअंडरस्टैंडिंग से पार्टनर्स एक-दूसरे से अलग होने के लिए तलाक फाइल कर देते हैं और इन बेतुकी वजहों से तलाक के मामले करीब 90 फीसद तक बढ़ चुके हैं.

जब कुत्ता घर न आने पर पत्नी ने फाइल किया तलाक

दिल्ली में प्रैक्टिस कर रहे एडवोकेट कपिल गुप्ता की माने तो उनके पास पिछले एक साल में ही करीब 30 से 40 ऐसे मामले सामने आए हैं जिनमें पार्टनर्स की तलाक लेने की वजहें सरासर बेतुकी है.

कपिल गुप्ता बताते हैं कि गुड़गांव के एक कपल को सिर्फ इस वजह से तलाक चाहिए था कि उसके पति ने शादी के बाद पत्नी का कुत्ता घर लाने से मना कर दिया था. इसी मामले को लेकर पत्नी के घरवालों की दखलंदाज़ी बढ़ती गई , झगडे बढ़ते गए और बात तलाक तक जा पहुंची.

ज्यादा मैडिटेशन से परेशान होकर तलाक

कपिल गुप्ता ने अपने पास आए एक अन्य तलाक के मामले का जिक्र करते हुए बताया कि कपल इसलिए तलाक चाहता था क्योंकि पत्नी ज्यादातर समय मैडिटेशन करती रहती थी, जिसकी वजह से दोनों एक दूसरे के साथ समय नहीं बिता पाते थे.

इस बात पर पत्नी ने अपनी दलील देते हुए कहा कि मैडिटेशन के बिना उन्हें बीमार और नेगेटिव फीलिंग आती हैं और इसीलिए वो मैडिटेशन करना नहीं छोड़ सकती.

Young Indian Couple, Mumbai, Bombay, India

जेब में लौंग मिलने पर तलाक

वहीं वकील बलराज ने भी एक अजीबोगरीब तलाक का वाक्या बताते हुए कहा कि एक कपल इसलिए अलग होना चाहता था क्योंकि पति के जेब से रोज़ लौंग मिलते थे.

पत्नी को शक था कि पति उस पर कोई जादू टोना कर रहा है. जबकि पति ने दलील दी कि उसे खाने के बाद लौंग खाने की आदत है, इसलिए उनकी जेब में लौंग पड़े रहते हैं.

सासू मां के बार-बार घर आने से परेशान पति ने फाइल किया तलाक

ऐसा नहीं है कि इस तरह के तलाक सिर्फ अरेंज मैरिज में ही हो रहे हैं. वकीलों की मानें तो इस तरह के तलाक लव मैरिज में भी 50 फीसद तक देखने को मिल रहे हैं.

साउथ दिल्ली में रहने वाले एक कपल ने 6 महीने पहले ही एक दूसरे की रजामंदी से लव मैरिज की थी लेकिन अब एक दूसरे से अलग होने के लिए तलाक फाइल किया है, क्योंकि पत्नी की मां हर दूसरे दिन घर आती थी और पूरे घर में अपने हिसाब से बदलाव करती थी. जिसकी वजह से पति पत्नी में झगड़े बढ़ते गए और बात तालक तक जा पहुंची.

हनीमून पर अच्छा खाना न खिलाने पर तलाक

मैरिज कॉउंसिलर तृप्ति देसाई की माने तो एक कपल ने अपने हनीमून से लौटते ही तलाक फाइल कर दिया. पत्नी ने दलील दी कि पति ने हनीमून पर होटल में खाना नहीं खिलाया बल्कि पति की मां (सास) ने हनीमून पर घर से ही खाना पैक कर के दिया और होटल में खर्चा करने से  मना किया. यही बात तलाक की वजह बन गई.

A couple sits along the seafront promenade at dusk in Mumbai's suburbs

पासवर्ड न बताने पर तलाक

दिल्ली हाईकोर्ट के मैरिज काउंसिलर बलजीत सिंह धीर ने एक तलाक केस के बारे में बताते हुए कहा कि उनके पास एक ऐसा मामला भी आया था, जिसमें पत्नी ने पति को फेसबुक का पासवर्ड बताने से इंकार कर दिया तो पति ने तलाक फाइल कर दिया.

इसके अलावा घंटों चैटिंग की आदत भी कई बार तलाक की वजह बनी हैं और पति-पत्नी ने इस प्रॉब्लम को आपस में सुलझाने  के बजाए एक-दूसरे से तलाक लेना ही सही समझा.

पसंदीदा जगह पर बर्थडे न मनाने और फ्रिज की वजह से भी तलाक

दिल्ली  हाईकोर्ट की एक अन्य  मैरिज कॉउंसिलर ने भी एक केस का जिक्र करते हुए बताया कि इसके आलावा लग्जरी की कमी भी लोगों के बीच तलाक की वजह बन रही है. कानपुर  के एक तलाक केस के मुताबिक पति के फ्रिज न खरीदने की वजह से पत्नी तलाक के लिए कोर्ट पहुंच गई और पति से अलग होने की गुहार लगाई.

ज्यादा सफाई और तौलिया भी बना तलाक की वजह

नागपुर की मैरिज काउंसिलिर सीमा देशमुख ने बताया कि एक कपल हनीमून से लौटते ही एक-दूसरे से तलाक चाहते थे क्योंकि पत्नी को सफाई की कुछ ज्यादा ही आदत थी.

पत्नी ने दलील दी कि बार-बार समझाने पर भी पति गीला तौलिया बिस्तर पर रखने की आदत नही छोड़ते और दोनों की आदतें ही एक-दूसरे से तलाक की वजह बन गई.

हाई एक्सपेक्टशन्स बन रही है बेतुके तलाक की वजह

भारत में शादीशुदा आबादी का करीब 00.24% यानि करीब 1.36 मिलियन आबादी तलाकशुदा है. झटपट प्यार और शादी वाली पीढ़ी ने तलाक को भी झट पट बना दिया है.

डॉक्टर्स की माने तो पैरेंटल इंटेरफेरेंस और हाई एक्सपेक्सटेशन्स ने शादी की सवेंदनशीलता को दूर कर दिया है. जिसकी वजह से शादी को निभाने का डर और ड्यूटी खत्म हो गई है.

और यही वजह की इतने तामझाम और मेहनत से होने वाली भारतीय शादियां छोटी-छोटी बेतुकी वजहों से आसानी से तलाक तक पहुंच रही हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi