विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

मेट्रो किराया: बीजेपी सांसदों के खिलाफ गांधीगीरी कर रही है आम आदमी पार्टी

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विरोध का नायाब तरीका खोज निकाला है वे बीजेपी सांसदों के आवास पर गुलाब का फूल लेकर पहुंच रहे हैं

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Oct 16, 2017 11:04 PM IST

0
मेट्रो किराया: बीजेपी सांसदों के खिलाफ गांधीगीरी कर रही है आम आदमी पार्टी

दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ाए जाने के विरोध में आम आदमी पार्टी लगातार विरोध-प्रदर्शन कर रही है. किराया बढ़ाए जाने के विरोध में पार्टी ने पिछले कुछ दिनों से दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में सत्याग्रह शुरू कर दिया है.

इसी कड़ी में सोमवार को आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता उत्तरी-पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी सांसद उदित राज के घर को घेरने पहुंचे. पर, दिल्ली पुलिस ने उदित राज के घर जाने से पहले ही आप कार्यकर्ताओं को रोक दिया.

विरोध का नायाब तरीका

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विरोध का नायाब तरीका खोज निकाला है. उन्होंने विरोध के लिए गांधीगीरी का रास्ता चुना था. दरअसल आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता उदित राज के आवास पर गुलाब का फूल लेकर पहुंचे थे.

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता उदित राज से यह अनुरोध करने पहुंचे थे कि मेट्रो किराया कम करवाने के लिए बीजेपी सांसद भी दिल्ली की जनता का साथ दें. वो भी दिल्ली की जनता द्वारा चुने हुए प्रतिनिधि हैं लिहाजा उन्हें भी जनता के हक में बोलना चाहिए.

लेकिन, दिल्ली पुलिस ने बैरिकेडिंग करके आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को सांसद उदित राज के आवास से पहले ही रोक लिया. आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता मेट्रो किराया सत्याग्रह के दूसरे चरण के तहत हर रोज दिल्ली से चुने हुए बीजेपी सांसदों के पास जा रहे हैं.

aap

क्या होगा असर?

शनिवार को जहां आप कार्यकर्ता डॉ हर्षवर्धन के पास गए थे तो वहीं रविवार को बीजेपी सांसद महेश गिरी से अनुरोध करने के लिए पहुंचे. सोमवार को वो उदित राज के पास पहुंचे थे.

आम आदमी पार्टी का कहना है कि मेट्रो का सफर महंगा होने से दिल्ली के आम नागरिक खासकर महिलाएं मुश्किल में हैं, क्योंकि सुरक्षा के लिहाज से मेट्रो सबसे अच्छा माध्यम है. पार्टी का कहना है कि बीजेपी मेट्रो किराए के मुद्दे पर जनता का साथ नहीं दे रही और पर्दे के पीछे जनता की जेब काटने का काम कर रही है.

किराए का बढ़ा बोझ

पिछले कुछ दिनों से केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार मेट्रो के किराए को लेकर एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप कर रही है. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का कहना है कि केंद्र सरकार नहीं चाहती है कि मेट्रो किराए बढ़ाए जाने की जांच हो. सिसोदिया के मुताबिक केंद्र सरकार ने दिल्ली के मुख्य सचिव को जो पत्र भेजा है उससे यह साफ हो गया है कि केंद्र सरकार किराया बढ़ोतरी की जांच नहीं करना चाहती है.

दूसरी तरफ बीजेपी का कहना है कि आम आदमी पार्टी सिर्फ राजनीतिक ड्रामा कर रही है. बीजेपी नेताओं का कहना है कि दिल्ली सरकार की डीएमआरसी में 50 फीसदी की हिस्सेदारी है और इसकी सहमति के बिना किराया में वृद्धि नहीं की जा सकती. यह सिर्फ दिल्ली की जनता को दिखाने के लिए किया जा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi