विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

गढ़वा आश्रम में चाहकर भी क्यों नहीं बोल पाए पीएम मोदी?

पीएम मोदी गढ़वा आश्रम में बिना बोले मंच से उतर गए

FP Staff Updated On: Mar 06, 2017 06:22 PM IST

0
गढ़वा आश्रम में चाहकर भी क्यों नहीं बोल पाए पीएम मोदी?

गढ़वा के आश्रम में स्वामी शरणांनद बोल चुके थे. पीएम मोदी के बोलने की बारी थी. लेकिन ऐन वक्त पर पीएम मोदी के स्पीच पर किसी की नजर लग गई. लगातार तीसरे दिन बनारस की जनता को संबोधित करने वाले पीएम मोदी को बोलने का मौका ही नहीं मिला.

पता चला कि जिस साउंड सिस्टम के जरिए पीएम मोदी के बोलने की व्यवस्था की गई थी वो खराब हो गया है. साउंड सिस्टम शॉर्ट सर्किट की वजह से खराब हो गया. इस खराबी की वजह से पीएम मोदी बोल ही नहीं पाए.

पीएम मोदी को अपने व्यस्त चुनावी कार्यक्रम के मद्देनजर बिना बोले ही मंच से उतरना पड़ा. गढ़वा आश्रम में गौसेवा से शुरुआत करने वाले पीएम मोदी बिना बोले अपने रोड शो पर रवाना हो गए.

इसके बाद पीएम मोदी का आज का व्यस्त कार्यक्रम है. आश्रम से निकलते हुए वे पीएम शास्त्री चौक पहुंचेगे, वहां पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि देंगे. इसके बाद रोहनिया परिवर्तन संकल्प रैली के लिए जाएंगे.

वाराणसी में गढ़वा घाट आश्रम के बारे में कहा जाता है कि यादव वोट के लिए इनका इशारा ही काफी होता है. इस आश्रम में अनुयायियों की संख्या लगभग 1 करोड़ के आसपास है, जिनमें ज्यादातर दलित और पिछड़े समाज, खासकर यादवों में से हैं. यहां पहले भी बहुत से नेता आ चुके हैं.

हालांकि बनारस पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र है तो यहां की जीत 'नाक का सवाल' बन गई है. पिछले दो दिनों से वे बनारस में लगातार रोड शो और रैलियां कर रहे हैं. शनिवार के रोड शो का मंच उन्हें अपने विपक्षी पार्टियों के साथ साझा करना पड़ा था. पीएम के इस रोड शो को मायावती ने आचार संहिता का उल्लंघन बताया है.

उत्तर प्रदेश चुनाव के आठवें चरण यानि अंतिम मतदान के चुनाव प्रचार का सोमवार को आखिरी दिन है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi