विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

'बिजली रानी' पर अखिलेश का दावा फेल, ऊर्जा मंत्री की पीसी में बत्ती गुल

यूपी चुनावों में बिजली अहम चुनावी मुद्दा है

FP Staff Updated On: Mar 01, 2017 12:46 PM IST

0
'बिजली रानी' पर अखिलेश का दावा फेल, ऊर्जा मंत्री की पीसी में बत्ती गुल

यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के वाराणसी में 24 घंटे बिजली सप्लाई वाले दावे की पोल मंगलवार को उस समय खुल गई, जब केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल की प्रेस कांफ्रेंस के दौरान करीब पौन घंटे के लिए बिजली गुल हो गई.

फिर क्या था पीयूष गोयल को अच्छा मौका मिल गया इस चुनावी बयार में अखिलेश यादव को घेरने का. बिजली कटने के बाद पीयूष गोयल ने पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 24 घंटे बिजली आपूर्ति मुद्दे पर अखिलेश यादव को चुनौती दे डाली.

गोयल ने बिजली के मुद्दे पर अखिलेश यादव को आइना दिखाते हुए जमकर पलटवार किया. उन्होंने कहा कि 22 से 24 फरवरी के बीच तीन दिन में शिवपुर क्षेत्र में 52 बार और सारंगनाथ, सारनाथ में 21 बार बिजली गुल हुई. शहर के बाकी हिस्सों में भी लोग बिजली कटौती से परेशान हैं. अखिलेश यादव और आजम खान बताएं, क्या इसी को 24 घंटे बिजली आपूर्ति कहते हैं?

ऊर्जा मंत्री ने बताया कि केंद्र सरकार की योजना है कि 15 अगस्त 2022 तक पूरे देश में सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे बिजली मिले. पॉवर ऑफ ऑल के तहत 28-29 राज्यों ने करार पर हस्ताक्षर किए, लेकिन यूपी ने कोई रूचि नहीं दिखाई. गोयल ने कहा कि केंद्र सरकार ने सस्ते दर पर बिजली देने के लिए कई बार लिखा भी, लेकिन यूपी सरकार की तरफ से कोई जवाब ही नहीं आया.

प्रेस कांफ्रेंस में बिजली गुल होने की जांच शुरू

इस बीच घोसाबाद स्थित बीजेपी के मीडिया सेंटर में बिजली गुल होने के बाद जब ऊर्जा मंत्री ने प्रदेश सरकार के जिम्मेदार अफसरों से बात की तो मुख्यमंत्री ऑफिस हरकत में आया और जांच शुरू की. तत्काल पॉवर कारपोरेशन के चेयरमैन से जवाब तलब किया गया. चेयरमैन ने पूर्वांचल विद्युत् वितरण निगम के एमडी से बात की.

यूपी चुनाव में बिजली बड़ा मुद्दा

इस बार विधानसभा चुनावों में बिजली की किल्लत का मुद्दा सबसे अहम है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और अखिलेश यादव दोनों ही अपने चुनावी जनसभाओं में इस मुद्दे को उठाते रहे हैं.

जहां एक ओर पीएम मोदी ने बिजली किल्लत को दूर करने का वादा किया है तो वहीं अखिलेश का कहना है कि शहरों में 22-24 घंटे बिजली की सप्लाई हो रही है जबकि गांवों में 16-18 घंटे बिजली पहुंच रही है. अखिलेश यादव यह भी कह रहे हैं कि सरकार बनने पर गांवों में भी 24 घंटे बिजली देंगे.

(साभार न्यूज 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi