S M L

कपिल मिश्रा ने धोई केजरीवाल की एंटी-करप्ट छवि, पढ़ें उनकी PC की 10 बड़ी बातें...

कपिल मिश्रा ने दिल्ली सरकार के टैंकर घोटाले का पर्दाफाश किया.

FP Staff | Published On: May 07, 2017 12:35 PM IST | Updated On: May 07, 2017 02:33 PM IST

कपिल मिश्रा ने धोई केजरीवाल की एंटी-करप्ट छवि, पढ़ें उनकी PC की 10 बड़ी बातें...

दिल्ली सरकार के जलमंत्री कपिल मिश्रा को बाहर किए जाने के बाद आम आदमी पार्टी में आपसी गुटबाजी खुलकर सामने आ गई है. आपको बता दें कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कपिल मिश्रा को अपने मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया था. जिसके बाद कपिल मिश्रा ने दिल्ली सरकार के टैंकर घोटाले का पर्दाफाश करने के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई चौंकाने वाले खुलासे किए. ये हैं वो 10 बड़ी बातें जो कपिल मिश्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही...

1. मैंने अपनी आंखों से देखा सत्येंद्र जैन ने अरविंद केजरीवाल को दो करोड़ रुपए नगद दिए. मैंने केजरीवाल से इस बारे में जानकारी देने को कहा.

2. सत्येंद्र जैन के पास नकद पैसा कहां से आया. सत्येंद्र जैन ने 2 करोड़ रुपए केजरीवाल को क्यों दिए. मेरे पूछने पर केजरीवाल ने कुछ बताने से मना कर दिया. उन्होंने कहा कि राजनीति में कुछ बातें बाद में बताई जाती हैं.

3. मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में सत्येंद्र जैन के बारे में ऐसी जानकारियां हैं जो सबको पता है.

4. सत्येंद्र जैन ने खुद मुझे बताया कि उन्होंने अरविंद केजरीवाल के किसी करीबी रिश्तेदार के लिए 50 करोड़ रुपए की डील कराई.

5. मैं मंत्रीपद से हटा नहीं था, ऐंटी करप्शन ब्यूरो को चिट्ठी लिखने के बाद केजरीवाल जी से मिलने गया, मुझे मेरे बोलने के बाद हटाया गया, न कि हटाने के बाद बोल रहा हूं.

6. आम कार्यकर्ता देखता रहा कि अरविंद केजरीवाल सब ठीक कर देंगे. लेकिन घोटाले होते रहे.

7. मंत्री बनने के एक महीने के अंदर मैंने शीला दीक्षित के खिलाफ टैंकर घोटाले की रिपोर्ट दी थी

8. पूरी की पूरी कैबिनेट का अकेला ऐसा मंत्री हूं जिस पर कोई भ्रष्टाचार का आरोप नहीं है. पिछले 2 साल से अपनी कैबिनेट का ऐसा अकेला मंत्री हूंं जिसपर कोई आरोप नहीं लगा है

9. आम आदमी पार्टी न मैं छोड़ूंगा न मुझे कोई पार्टी से निकाल सकता है.

10. मेरे खुलासे से आम आदमी पार्टी के कई बड़े नेताओं का भ्रष्टाचार सामने आएगा.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi