S M L

मानहानि मामले में बोले सुशील मोदी, आरजेडी प्रवक्ताओं को कड़ी सजा दे अदालत

सुशील कुमार मोदी ने मानहानि के एक मामले में आरजेडी प्रवक्ताओं के खिलाफ अदालत के समक्ष शनिवार को अपना बयान दर्ज कराया

Bhasha Updated On: May 20, 2017 08:34 PM IST

0
मानहानि मामले में बोले सुशील मोदी, आरजेडी प्रवक्ताओं को कड़ी सजा दे अदालत

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने एक स्थानीय अदालत में पटना और देश के भागों में कथित तौर पर ‘बेनामी संपत्ति’ को लेकर मानहानि के एक मामले में आरजेडी प्रवक्ताओं मनोज झा और चितरंज गगन के खिलाफ अदालत के समक्ष शनिवार को अपना बयान दर्ज कराया.

सुशील ने शनिवार को इस मामले में पटना के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ओम प्रकाश की अदालत में अपना बयान दर्ज कराया.

इस मामले की अगली सुनवाई की तारीख आगामी 23 मई निर्धारित की गयी है.

अदालत से बाहर आने के बाद पत्रकारों से सुशील मोदी ने कहा कि उन्होंने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी से लालू प्रसाद की पार्टी आरजेडी के इन दोनों प्रवक्ताओं को व्यक्तिगत तौर पर अदालत में पेश होने के लिए सम्मन जारी करने का निर्देश आग्रह है.

उन्होंने कहा कि मैंने अदालत से कहा कि उन पर आरजेडी के प्रवक्ताओं ने बिना किसी सबूत के आधारहीन बेबुनियाद और तथ्यहीन आरोप लगाकर उनकी प्रतिष्ठा को आघात पहुंचाया है.

उन्होंने न्यायालय से उन्होंने आग्रह किया कि वारंट जारी कर अभियुक्तों को अदालत में हाजिर कराया जाए तथा उन्हें कड़ी सजा दी जाए.

बिहार विधान परिषद में प्रतिपक्ष के नेता सुशील कुमार मोदी ने दो मई को राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा और प्रदेश प्रवक्ता चिरंजन गगन के खिलाफ आईपीसी की धारा 499 और 500 के तहत मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में मानहानि का मामला दर्ज कराया था.

आखिर क्या है यह मामला? 

मनोज झा और चितरंजन गगन ने पत्रकार सम्मेलनों के दौरान सुशील पर पटना के राजेंद्रनगर के रोड संख्या 13 पर आलीशान मकान और चर्च की 7.5 एकड़ जमीन पर कथित तौर पर कब्जा कर एक मॉल बनाने, दिल्ली में आरामदेह कार और दिल्ली और कोलकाता में कई कंपनियों में कालाधन निवेश करने का आरोप लगाया था.

सुशील मोदी ने अदालत के समक्ष दर्ज कराए अपने बयान में कहा कि प्रेमचंद गुप्ता, ओमप्रकाश कत्याल, विवेक नागपाल, अशोक बंथिया जैसे लोगों द्वारा लालू परिवार को दी गई अनेक बेनामी कंपनियां और करोड़ों की जमीन और पटना में बन रहे उनके 750 करोड़ रुपए के मॉल का उन्होंने खुलासा किया है.

सुशील मोदी ने कहा कि उनके इस आरोप से बौखलाकर आरजेडी के इन प्रवक्ताओं ने उन पर राष्ट्र कवि दिनकर का मकान कब्जा करने, पटना के लोदीपुर में चर्च की 7.5 एकड़ जमीन कब्जा कर मॉल बनाने और दिल्ली कोलकाता की कई कंपनियों में काला धन लगे होने का बेबुनियाद आरोप लगाकर उनकी छवि को जनता के बीच खराब करने का प्रयास किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi