S M L

सीमा पर बन रहे नेशनल हाइवे पर लैंड कर सकेंगे विमान

विमान के उड़ान भरते और उतरते वक्त यातायात को रोक दिया जाएगा

Bhasha | Published On: May 28, 2017 08:47 PM IST | Updated On: May 28, 2017 08:47 PM IST

0
सीमा पर बन रहे नेशनल हाइवे पर लैंड कर सकेंगे विमान

असम के तिनसुकिया में देश का सबसे बड़ा पुल बना है. भारत में बना यह पुल एशिया का दूसरा सबसे लंबा पुल है. इस पुल की लंबाई 9.15 किमी है. इस पुल की लागत 2056 करोड़ रुपए आई है. केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने सड़क परियोजनाओं पर खास बातचीत की.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि लंबे समय की अनदेखी के बाद भारत अपनी अंतरराष्ट्रीय सीमाओं में सड़क मार्ग सहित राजमार्ग के 17 हिस्सों का निर्माण कर रहा है जिनका इस्तेमाल हवाई पट्टी की तरह भी किया जा सकेगा.

गड़करी ने कहा, ‘सीमा क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को राजमार्ग नेटवर्क तथा बेहतर आधारभूत ढांचे की आवश्यकता है. हम 17 ऐसे राजमार्गों का निर्माण कर रहे हैं जिन्हें हवाई पट्टी में बदला जा सकता है.’ सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय रक्षा मंत्रालय के साथ मिल कर इस परियोजना पर काम कर रहा है.

सड़क और वायुमार्ग के बेहतर संपर्क से दूर दराज के इलाकों में पहुंच आसान होगी

इस परियोजना के तहत सड़कों को इस प्रकार से बनाया जाएगा कि इनका इस्तेमाल हवाई पट्टी की तरह भी किया जा सके और विमान के उड़ान भरते और उतरते वक्त यातायात को रोक दिया जाएगा. सड़क और वायु मार्ग के बेहतर संपर्क से इन दूर दराज के इलाकों में पहुंच आसान हो जाएगी.

Nitin_Gadkari_nw18india_240317

उन्होंने कहा, ‘इस तरह से सीमाई इलाकों में रहने वाले लोगों को बेहतर ढ़ांचागत सुविधा मिल सकेगी.’

इससे पहले इस तरह के हाईवे स्ट्रेच की विस्तार पूर्वक व्याख्या के लिए दोनों मंत्रालयों के अधिकारियों को मिला कर एक समिति बनाई गई थी. इस समिति ने अन्य मुद्दों के अलावा इस प्रकार के स्ट्रेच की व्यवहार्यता, इनकी लंबाई-चौड़ाई आदि विषयों पर विस्तार से तहकीकात की थी.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार की दुरूह क्षेत्रों और पूर्वोत्तर में ढांचागत सुविधाओं को बढ़ाने की योजना है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi