S M L

राष्ट्रपति विदाई समारोह: जब रामगोपाल यादव ने छुए मुलायम सिंह यादव के पैर

पैर छूने के बाद मुलायम सिंह यादव ने छोटे भाई रामगोपाल यादव को आशिर्वाद भी दिया

FP Staff Updated On: Jul 24, 2017 06:23 PM IST

0
राष्ट्रपति विदाई समारोह: जब रामगोपाल यादव ने छुए मुलायम सिंह यादव के पैर

रविवार को संसद के केंद्रीय कक्ष में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का विदाई कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें सांसदों समेत उपराष्ट्रपति और लोकसभा अध्यक्ष भी मौजूद रहीं. प्रधानमंत्री और कैबिनेट के तमाम सदस्यों सहित विपक्ष के नेता भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए.

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अपने विदाई भाषण में कहा कि सरकारों को बहुत जरूरी होने पर ही अध्यादेश जारी करना चाहिए. वित्तीय मामलों में तो अध्यादेश जारी ही नहीं करना चाहिए.

प्रणब दा ने संसद न चलने पर भी निराशा जताई. साथ ही उन्होंने संसद के कार्यदिवस में लगातार आ रही कमी को भी चिंताजनक बताया. दादा ने कहा कि संसद में व्यवधान सरकार से ज्यादा विपक्ष को नुकसान पहुंचाता है क्योंकि वो आम जनता का स्वर सदन में नहीं उठा पाते.

प्रधानमंत्री मोदी की भी दादा ने जमकर तारीफ की. पीएम के परामर्श और सहयोग को याद करते दादा ने कहा कि उनके सौम्य व्यवहार से वो खासे प्रभावित हैं. रिटायर होने के बाद संसद का हिस्सा नहीं रहने पर निराशा व्यक्त करते हुए प्रणब दा ने कहा कि वो भारी मन से संसद से जा रहे हैं.

केंद्रीय कक्ष में हुए इस कार्यक्रम में इन दृश्यों ने सबका ध्यान खींचा:

- समाजवादी पार्टी के महासचिव रामगोपाल यादव अपने बड़े भाई मुलायम सिंह के पैर छूते नजर आए. मुलायम ने उन्हें आशीर्वाद भी दिया. गौरतलब है कि दोनों की बीच समाजवादी कुनबे में मचे घमासान का बाद से ही बातचीत बंद है. यहां तक कि रामगोपाल के जन्मदिन के मौके पर भी मुलायम सैफई नहीं गए थे.

- समारोह में सपा के राज्यसभा में नेता होने की वजह से रामगोपाल को आगे की पंक्ति में जगह मिली, जबकि लोकसभा में संख्याबल कम होने की वजह से मुलायम सिंह दूसरी पंक्ति में बैठे.

- कभी मनमोहन सिंह को इतिहास का सबसे कमजोर पीएम बताने वाले आडवाणी को मनमोहन सिंह के बगल में सीट मिली. आडवाणी के दायीं तरफ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी बैठी थीं.

- कार्यक्रम में सांसदों की मौजूदगी काम रही जिसकी वजह से सेंट्रल हॉल में लोक सभा और राज्य सभा के कर्मचारियों को बैठाकर कुर्सियां भरी गईं.

- राष्ट्रपति को एक मोमेंटो और सांसदों के हस्ताक्षर वाली पुस्तिका भी दी गई.

साभार: न्यूज 18

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi