S M L

पंडित नेहरू और इंदिरा गांधी से की जा सकती है पीएम मोदी की तुलना- प्रणब मुखर्जी

राष्ट्रपति ने कहा कि अपनी बात को लोगों तक पहुंचाने में महारथी हैं पीएम मोदी

FP Staff | Published On: May 27, 2017 08:14 AM IST | Updated On: May 27, 2017 03:55 PM IST

0
पंडित नेहरू और इंदिरा गांधी से की जा सकती है पीएम मोदी की तुलना- प्रणब मुखर्जी

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी बात को बेहतरीन ढंग से कहने में दक्ष हैं. उन्होंने भारत की अर्थव्यवस्था को एक नई दिशा दी है. बीजेपी सरकार के तीन साल पूरा होने पर एक पुस्तक लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए मुखर्जी ने कहा कि मोदी ने कई पहल किए हैं. राष्ट्रपति के मुताबिक, उनके कुछ निर्णय तो युग प्रवर्तक हैं.

मुखर्जी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी अभी के समय में निस्संदेह अपनी बात बेहतरीन ढंग से कहने वाले लोगों में से एक हैं. उनकी तुलना पंडित जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी जैसे प्रधानमंत्री से की जा सकती है, जो सरकार के संसदीय स्वरूप के साथ पंथनिरपेक्ष संवाद को स्वीकार करते हुए अपने सिद्धांतों और अपने विचारों को बेहतरीन ढंग से रख पाते थे.

सरकार के बारे में चर्चा करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि विभिन्न दिशाओं में विकास की पहल की गई है. मुखर्जी ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूती से आगे बढ़ रही है. निस्संदेह इसे प्रधानमंत्री ने एक नयी दिशा दी है. उनके विभिन्न प्रयासों से भारत को आगे की ओर बढ़ने का एक निश्चित संकेत मिलता है.

राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने ‘‘मन की बात : ए सोशल रिवोल्युशन आन रेडियो’’ और ‘‘मार्चिंग विद ए बिलियन- एनालाइ़जिंग नरेन्द्र मोदी गवर्नमेंट एट मिडटर्म’’ पुस्तकों का विमोचन किया. इनकी पहली प्रति राष्ट्रपति को भेंट की गयी.

इस अवसर पर उप राष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी, केन्द्रीय वित्त एवं रक्षा मंत्री अरुण जेटली और कई अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे. राजेश जैन द्वारा लिखित पुस्तक ‘‘मन की बात : ए सोशल रिवोल्युशन आन रेडियो’’ प्रधानमंत्री मोदी द्वारा प्रत्येक महीने रेडियो के माध्यम से देश को सम्बोधित करने वाले कार्यक्रम मन की बात के सभी संस्करणों का संग्रह है.

इस किताब में बताया गया है कि किस तरह मन की बात कार्यक्रम न्यू इंडिया, खासतौर से युवाओं के साथ बेहद करीबी तरीके से जुड़ गया है.

पत्रकार उदय माहुरकर द्वारा लिखित ‘‘मार्चिग विद ए बिलियन- एनालाइज़िंग नरेन्द्र मोदी गवर्नमेंट एट मिडटर्म’’पुस्तक प्रधामंत्री के रूप में मोदी द्वारा विभिन्न मोर्चों पर लाए गए व्यापक परिवर्तनों का विश्लेषण प्रस्तुत करता है.

(साभार- न्यूज 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi