S M L

केरल के CM ने योगी को चिट्ठी लिखी- जानवरों पर प्रतिबंध के नतीजे गंभीर होंगे

सोमवार को उन्होंने इस संबंध में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी चिट्ठी लिखी है

FP Staff | Published On: May 30, 2017 09:40 AM IST | Updated On: May 30, 2017 09:40 AM IST

0
केरल के CM ने योगी को चिट्ठी लिखी- जानवरों पर प्रतिबंध के नतीजे गंभीर होंगे

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन मांस कारोबार के लिए मवेशियों (कैटल) की हत्या पर रोक के विरोध में खुलकर उतर गए हैं. इस मसले पर पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखने के बाद उन्होंने सोमवार को कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी चिट्ठी लिखी और कहा कि इसके नतीजे गंभीर होंगे.

सोमवार को उन्होंने इस संबंध में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी चिट्ठी लिखी है. इनमें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल हैं. चिट्ठी में विजयन ने इस प्रतिबंध का लाखों लोगों की आजीविका पर पड़ने वाले गंभीर परिणामों की चर्चा की है. उन्होंने इसका सबसे ज्यादा असर कृषि क्षेत्र से जुड़े लोगों पर होने की बात कही है.

इससे पहले शनिवार को विजयन ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर सरकार के कदम की निंदा की थी. उन्होंने कहा था, 'हम क्‍या खाएं क्या नहीं ये दिल्ली या नागपुर से जानने की जरूरत नहीं है. राज्य सरकार अपने राज्य की जनता को उनकी पसंद का हर खाना और सुविधाएं देगी.' बता दें कि नागपुर से उनका इशारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से है, जिसका मुख्यालय नागपुर में ही है.

राज्य की शक्तियों पर कब्जा

विजयन की ये चिट्ठी उस समय आई है जब केंद्र सरकार भैंसों को कैटल की सूची से हटाने की सोच रही है, जिनका मांस कारोबार के लिए हत्या पर रोक लगाई गई है. योगी आदित्यनाथ को लिखी चिट्ठी में विजयन ने कहा है कि जिन तरीकों से ये नियम लागू किए जा रहे हैं वो और कुछ नहीं बस राज्य विधानमंडल की शक्तियों को छीनने का एक छुपा प्रयास है. उन्होंने इस मसले पर योगी आदित्यनाथ से समर्थन भी मांगा.

बता दें कि प्रतिबंध के खिलाफ केरल के अलावा तमिलनाडु में विरोध प्रदर्शन किया गया. विपक्षी दल डीएमके ने केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ 31 मई को आंदोलन की चेतवानी भी दी है.

हालांकि इस पूरे मसले पर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए संघ विचारक राकेश सिन्हा ने कहा था, 'ये लोग सउदी अरब और चीन से मार्गदर्शन ले रहे हैं. इनको नागपुर से सलाह की जरूरत नहीं है. बीफ फेस्टिवल हिंदुओं की भावनाओं को आघात पहुंचाता है.

( साभार: न्यूज 18 )

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi