S M L

भारत का सबसे बड़ा दुश्मन है चीन, हमले की कर ली है पूरी तैयारी : मुलायम

लोकसभा में मुलायम के निशाने पर केंद्र सरकार और चीन.

Bhasha Updated On: Jul 19, 2017 04:09 PM IST

0
भारत का सबसे बड़ा दुश्मन है चीन, हमले की कर ली है पूरी तैयारी : मुलायम

समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को लोकसभा में चीन को भारत का सबसे बड़ा दुश्मन बताते हुए दावा किया कि पड़ोसी देश भारत के खिलाफ षड्यंत्र रच रहा है और भारत पर हमले की पूरी तैयारी कर चुका है.

उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि सरकार इस विषय पर उनकी बात नहीं सुन रही और उठाए जाने वाले कदमों पर राय नहीं ले रही.

यादव ने लोकसभा में शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए कहा, ‘‘मैं 20 साल से सावधान करता आ रहा हूं और हर साल इस बारे में इस सदन में बोलता हूं कि चीन से भारत को बहुत खतरा है. चीन भारत के खिलाफ षड्यंत्र कर रहा है और हिंदुस्तान पर हमले की पूरी तैयारी कर चुका है.’

उन्होंने कहा कि हमें पाकिस्तान से नहीं चीन से खतरा है. उसने पाकिस्तान को भी अपने साथ मिला लिया है. नेपाल पर भी चीन की नजर है.

पाकिस्तान का कर रहा इस्तेमाल

यादव ने सरकार को आगाह करते हुए यह दावा भी किया, ‘सूचना मिली है कि चीन ने पाकिस्तान की जमीन में एटम बम गाड़ दिया है. हमें नहीं पता कि सरकार के पास यह सूचना है या नहीं.’

सपा नेता ने कहा कि तत्कालीन सरकारों की सबसे बड़ी भूल रही कि तिब्बत पर चीन का कब्जा होने दिया. तिब्बत के आध्यात्मिक नेता दलाई लामा पूरी तरह भारत के साथ रहे और आज भी भारत के साथ हैं, लेकिन हम उन्हें संरक्षण नहीं दे सके. उन्होंने कहा कि हमें अब भी तिब्बत की आजादी का समर्थन करना चाहिए.

कुछ नहीं कर रही है सरकार

उन्होंने सिक्किम सेक्टर के पास डोकलाम में चीन और भारत की सेनाओं के बीच हालिया गतिरोध की स्थिति के संदर्भ में कहा कि भूटान और सिक्किम की सीमा की रक्षा करना सरकार की जिम्मेदारी है.

यादव के अनुसार चीन के एक अखबार ने कल दावा किया कि उसकी सेना तिब्बत की सीमा पर युद्धाभ्यास कर रही है. उन्होंने कहा कि इसका कड़ा विरोध सरकार को दर्ज कराना चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि चीन और पाकिस्तान मिलकर कश्मीर में भी षड्यंत्र रच रहे हैं.

यादव ने कहा कि इतनी बार इस विषय को उठाये जाने के बाद भी और चीन के साथ इस तरह की गतिरोध की स्थिति के बावजूद सरकार सुन नहीं रही. अभी तक सरकार की ओर से कोई जवाब नहीं मिला और ना ही हमारी राय ली गई. सरकार को बताना चाहिए कि उसने क्या-क्या कदम उठाए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi