S M L

एमसीडी चुनाव 2017: 'आप' की आरडब्ल्यूए को साधने की कोशिश कितनी कारगर?

मनीष सिसोदिया ने कहा, पैसा भ्रष्टाचार की भेंट न चढ़े, इसके ठोस कदम उठाए जाएंगे

Ravishankar Singh Ravishankar Singh | Published On: Apr 20, 2017 06:40 PM IST | Updated On: Apr 20, 2017 06:40 PM IST

एमसीडी चुनाव 2017: 'आप' की आरडब्ल्यूए को साधने की कोशिश कितनी कारगर?

दिल्ली एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी को एक बार फिर से आरडब्ल्यूए (रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन) की याद आई है. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि एमसीडी में आप की सरकार बनने पर आरडब्ल्यूए को साझीदार बनाया जाएगा.

दिल्ली में हुए पिछले एक-दो विधानसभा चुनावों में आरडब्ल्यूए का झुकाव आम आदमी पार्टी की तरफ देखा गया था. पर, दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद आरडब्ल्यूए का आम आदमी पार्टी से मोह भंग हो गया.

बीजेपी का परंपरागत वोट बैंक आरडब्ल्यूए

दिल्ली आरडब्ल्यूए बीजेपी का कभी परंपरागत वोट बैंक हुआ करता था, जो कि पिछले दो विधानसभा चुनावों में आप की तरफ खिसक गया.

पिछले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी की जीत के बावजूद आरडब्ल्यूए के लिए कोई विशेष सुविधा नहीं दी गई. जिससे, दिल्ली आरडब्ल्यूए आम आदमी पार्टी से नाराज हो गया. ऐसे में हाउस टैक्स माफ करने का मुद्दा उछाल कर आप ने एक बार फिर से इस वोट बैंक में सेंध लगाने की कोशिश की है.

दिल्ली के कॉस्टिट्यूशन क्लब में आयोजित आरडब्ल्यूए के एक कार्यक्रम में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली नगर निगम में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद साफ-सफाई और पार्कों के रखरखाव जैसे कामों में आरडब्ल्यूए की सक्रियता तय की जाएगी.

manishh

मनीष सिसोदिया ने कहा कि हम दिल्ली के आरडब्ल्यूए के साथ कानूनी साझीदारी करेंगे. आरडब्ल्यूए को सरकारी तंत्र में लेकर बाकायदा फंड जारी करेंगे, ताकि आरडब्ल्यूए सरकारी पैसे का सही इस्तेमाल कर सके.

आरडब्ल्यूए की कार्यप्रणाली को अच्छी तरह समझता हूं: मनीष

मनीष सिसोदिया ने कहा कि आज की तारीख में नगर निगम भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है. एमसीडी का पैसा भ्रष्टाचार की भेंट न चढ़कर नेताओं और अफसरों की जेब न जाए इसके लिए ठोस कदम उठाए जाएंगे. आरडब्ल्यूए को ज्यादा अधिकार देंगे ताकि दिल्ली स्वच्छ और सुंदर बन सके.

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि वह खुद भी आरडब्ल्यूए में काम कर चुके हैं, इसलिए आरडब्ल्यूए की कार्यप्रणाली को अच्छी तरह समझते हैं. उन्होंने कहा कि मोहल्ले, नालियों और पार्कों के सही रखरखाव के लिए एक ठोस पहल की जाएगी.

ये भी पढ़े: एमसीडी चुनाव 2017 : इस 'महाभारत' में भी 'विभीषण' हैं

जानकान मान रहे हैं कि दिल्ली नगर निगम में हाउस टैक्स माफी का मुद्दा आरडब्ल्यूए के लिए बहुत भा रहा है. ऐसे में दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में पूरी दिल्ली की आरडब्ल्यूए की बैठक बुला कर आप ने एक बड़े वोट बैंक को साधने का प्रयास किया है.

हाउस टैक्स के मुद्दे को भुनाना चाहती है आप

Former President Abdul Kalam And Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal At An Interaction Program With Principals And Teachers

आम आदमी पार्टी हाउस टैक्स मुद्दे को भुनाने की कोई भी कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती है. पार्टी के सीनियर नेताओं को लग रहा है कि यही एक मुद्दा है जो आम आदमी पार्टी को सत्ता के करीब ला सकता है.

इसी मुद्दे को और धार देते हुए पार्टी ने दिल्ली के सभी वार्ड़ों में पिछले दिनों हाउस टैक्स मुक्ति दिवस मनाया और अब दिल्ली के हर इलाके में आरडब्ल्यूए के साथ बैठक कर रही है.

आम आदमी पार्टी के मुताबिक हाउस टैक्स माफी को घोषणा के बाद कई आरडब्ल्यूए ने अपने-अपने इलाके में हाउस टैक्स जलाने शुरू कर दिए हैं. इसी से उत्साहित पार्टी ने आरडब्ल्यूए के साथ मिलकर जगह-जगह कार्यक्रम करने का फैसला लिया है.

आप नेताओं का कहना है कि हमने विधानसभा चुनाव से पहले बिजली हाफ और पानी माफ की घोषणा की थी. दिल्ली में आप सरकार बनते ही वादा पूरा किया. आज 12 लाख लोगों का पानी का बिल जीरो आता है. ऐसे ही दिल्ली नगर निगम में हमारी सरकार बनते ही हाउस टैक्स माफ कर दिया जाएगा.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi