विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

कैसे पहुंचाएगी बीजेपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को विधानपरिषद?

बीजेपी विधानपरिषद में अपनी संख्या भी बढ़ा रही है और साथ ही 4 नेताओं के लिए विधानपरिषद का रास्ता भी खोल चुकी है

FP Staff Updated On: Aug 06, 2017 08:44 PM IST

0
कैसे पहुंचाएगी बीजेपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को विधानपरिषद?

उपराष्ट्रपति चुनाव के साथ ही बीजेपी की यूपी की सियासत एक नई करवट लेने जा रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का उपराष्ट्रपति पद के लिए वोटिंग के बाद लोकसभा से इस्तीफा देने की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. इसके साथ ही पार्टी ने डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा सहित दो मंत्रियों के लिए भी सदन जाने का रास्ता खोल दिया है.

चौदह साल का बनवास के बाद सत्ता में लौटी बीजेपी को अब प्राथमिक उद्देश्य अपने मुख्यमंत्री सहित 5 महत्वपूर्ण नेताओं को सदन में पहुंचाना है. इसके लिए पार्टी ने अपनी रणनीति तैयार कर ली है. प्रदेश के 3 दिवसीय प्रवास के दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी इसका संकेत दे चुके हैं. बीजेपी प्रवक्ता शषलभमणि त्रिपाठी कहते हैं कि जल्द ही राष्ट्रीय नेतृत्व का निर्णय सबके सामने होगा.

दूसरी तरफ बीजेपी के नेता लगातार विपक्षियों को तोड़ने में जुटे हैं. अभी तक समाजवादी पार्टी से एमएलसी बुक्कल नवाब, यशवंत सिंह, डॉ. सरोजनी अग्रवाल और बीएसपी से ठाकुर जयवीर सिंह इस्तीफा देकर भगवा रंग में रंग चुके हैं और अभी 3 एमएलसी भाजपाई बनने के कतार में लगे हैं.

इस तरह बीजेपी विधानपरिषद में अपनी संख्या भी बढ़ा रही है और साथ ही 4 नेताओं के लिए विधानपरिषद का रास्ता भी खोल चुकी है लेकिन सीएम को लेकर कयास जारी है.

दूसरी तरफ सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए पार्टी का एक धड़ा इस पक्ष में है कि वो पश्चिम के किसी विधानसभा क्षेत्र से सदन पहुंचें ताकि एक अलग संदेश जाए, जबकि दूसरे धड़े की राय है कि योगी आदित्यनाथ गोरखपुर संसदीय क्षेत्र की सीट से चुनाव लड़ें और सदन पहुंचे. वैसे इन सभी अटकलों के बीच अंतिम निर्णय राष्ट्रीय नेतृत्व को करना है कि उन्हें किस तरह सदन में भेजा जाए.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi