S M L

मुस्लिमों पर दिए बयान पर विपक्ष ने रविशंकर प्रसाद को घेरा

कांग्रेस, वाम मोर्चा और अन्य पार्टियों ने कानून मंत्री के बयान को समाज को बांटने वाला करार दिया

Bhasha Updated On: Apr 22, 2017 10:53 PM IST

0
मुस्लिमों पर दिए बयान पर विपक्ष ने रविशंकर प्रसाद को घेरा

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के मुसलमानों पर किए गए विवादित बयान पर राजनीति गर्मा गई है. प्रसाद के इस बारे में सफाई पेश करने के बावजूद विपक्ष ने उन्हें आड़े हाथ लिया है.

रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को हीरो मोटोकॉर्प माइंडमाइन समिट में कहा था, ‘हमने अपने दम पर 13 मुख्यमंत्री पाए हैं. हम देश पर शासन कर रहे हैं. क्या हमने उद्योग या सेवा में काम कर रहे किसी मुस्लिम व्यक्ति को परेशान किया है ? क्या हमने उन्हें बर्खास्त किया है ? हमें मुस्लिम वोट नहीं मिलते. मैं इसे साफ तौर पर स्वीकार करता हूं लेकिन उन्हें समुचित सम्मान दिया है कि नहीं?’

इसपर शनिवार को कांग्रेस, वाम मोर्चा और अन्य पार्टियों ने कहा कि, संविधान ने मुस्लिमों सहित सभी भारतीयों को कुछ मौलिक अधिकार दिए हैं. यह किसी मंत्री की ओर से किया जा रहा कोई ‘एहसान’ नहीं है.

इसे भी पढ़ें: रविशंकर प्रसाद बोले, मुस्लिम हमें वोट नहीं देते, फिर भी उनका सम्मान

वरिष्ठ कांग्रेस नेता एम वीरप्पा मोइली ने रविशंकर प्रसाद पर समाज को बांटने की कोशिश करने का आरोप लगाया.

उन्होंने कहा, ‘यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. वह बांटने की कोशिश कर रहे हैं. इस देश की जनसंख्या को बांटने की कोशिश कर रहे हैं. वह खुद को इस तरह सक्षम बनाने की कोशिश कर रहे हैं ताकि सर्टिफिकेट बांट सकें कि, कौन गरिमापूर्ण है और कौन नहीं है. मुझे लगता है उन्हें अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए, क्योंकि इससे बहुत गलत संदेश जा रहा है.’ अपने दिए बयान पर विवाद बढ़ने पर कानून मंत्री ने शनिवार को सफाई देते हुए माफी मांग ली. उन्होंने कहा कि, मोदी सरकार समावेशी समाज में यकीन रखती है और भारत की जीवंत सांस्कृतिक विविधता का सम्मान करती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi