S M L

राष्ट्रपति चुनाव: नीतीश-लालू साथ होकर भी हैं कितने दूर!

नीतीश के एनडीए उम्मीदवार कोविंद को समर्थन के एलान से बिहार में महागठबंधन के लिए खतरा पैदा हो गया है

FP Staff | Published On: Jun 26, 2017 08:46 PM IST | Updated On: Jun 26, 2017 10:26 PM IST

0
राष्ट्रपति चुनाव: नीतीश-लालू साथ होकर भी हैं कितने दूर!

बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन की दो पार्टियों राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) और जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के बीच हाल के दिनों में आई दरार चौड़ी होती जा रही है. राज्य के डिप्टी सीएम और आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को पार्टी के प्रवक्ता अशोक कुमार सिन्हा को उनके पद से हटा दिया है.

तेजस्वी ने अपनी पार्टी के दूसरे नेताओं को सहयोगी जेडीयू पर किसी तरह की टिप्पणी नहीं करने की चेतावनी दी.

तेजस्वी ने आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव के आवास पर अपनी पार्टी के कई नेताओं को तलब कर उन्हें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और महागठबंधन के भविष्य को लेकर मीडिया में किसी भी तरह का बयान नहीं देने को कहा.

डिप्टी सीएम ने इस दौरान एक बयान जारी किया जिसके मुताबिक केवल पार्टी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को ही गठबंधन के बारे में बोलने का अधिकार है.

आरजेडी अपने रूख में बदलाव लाए वरना महागठबंधन टूट जाएगा

हाल के दिनों में जेडीयू के नेताओं के कड़े तेवर के बाद मजबूर होकर आरजेडी ने यह कदम उठाया है. जेडीयू नेताओं, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के सी त्यागी और बिहार के जेडीयू अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने चेतावनी देते हुए कहा था कि आरजेडी अपने रूख में बदलाव नहीं लाता है तो बिहार में बना यह गठबंधन टूट जाएगा.

मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार के एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन के एलान के बाद से दोनों पार्टियां एक-दूसरे के खिलाफ बयान दे रही हैं.

आरजेडी ने कांग्रेस की मीरा कुमार को विपक्ष के राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर समर्थन देने का फैसला किया है. लालू ने पिछले दिनों नीतीश कुमार के समर्थन के निर्णय को एतिहासिक भूल करार दिया था. लालू के ऐसा कहने से दोनों पार्टियों के बीच जारी गठबंधन के लिए खतरा पैदा हो गया था.

महागठबंधन के भविष्य के लिए तब और खतरा पैदा हो गया जब नीतीश कुमार ने लालू की अपील को ठुकराते हुए कोविंद को अपना समर्थन जारी रखने की बात कही.

नीतीश ने मीरा कुमार को यूपीए का राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने के लिए कांग्रेस और आरजेडी का यह कहते हुए मजाक उड़ाया कि उन्होंने जानबूझकर बिहार की बेटी को हराने के लिए खड़ा किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi