S M L

रात तक चली केजरीवाल से बात, लेकिन क्या मान गए कुमार विश्वास?

इससे पहले दोपहर में कुमार विश्वास के घर एक अहम बैठक हुई थी

FP Staff | Published On: May 03, 2017 07:20 AM IST | Updated On: May 03, 2017 08:59 AM IST

रात तक चली केजरीवाल से बात, लेकिन क्या मान गए कुमार विश्वास?

आम आदमी पार्टी के लिए मंगलवार का दिन सुबह से उठक-पटक वाला रहा है. सुबह से पार्टी में घमासान मची हुई है, जो देर रात तक चलती रही.

कुमार विश्वास के बगावती तेवर देखते हुए देर रात अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह, आशुतोष और कपिल मिश्रा उन्हें मनाने उनके घर पहुंचे. करीब 5 मिनट बाद केजरीवाल और सिसोदिया कुमार विश्वास को गाड़ी में बिठाकर अपने साथ ले गए. पीछे-पीछे कपिल मिश्रा भी एक दूसरी गाड़ी से निकले.

मुख्यमंत्री केजरीवाल के घर पर एक घंटे तक चली इस बैठक के बाद कुमार विश्वास अपनी पत्नी के साथ वहां से बाहर निकल गए. विश्वास ने मीडिया से बात नहीं की. इस बैठक में क्या हुआ और क्या फैसला लिया गया, इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है.

वहीं अरविंद केजरीवाल ने कहा कि विश्वास आंदोलन के अभिन्न अंग हैं. उनकी कुछ नाराजगियां हैं. केजरीवाल ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि विश्वास को मना लेंगे.

विश्वास के तेवर

मंगलवार सुबह कुमार विश्वास ने दो टूक कहा कि पार्टी में गलत होने पर वह चुप नहीं रहेंगे. कुमार के बयान पर मनीष सिसोदिया ने भी उन्हें नसीहत देते हुए बाहर बयानबाजी के लिए आड़े हाथ लिया.

इससे पहले दोपहर में कुमार विश्वास के घर एक अहम बैठक हुई. बैठक में करीब छह आप विधायक शामिल हुए. बैठक के दौरान अमानतुल्ला को पार्टी से बाहर किए जाने पर चर्चा हुई. सूत्रों के मुताबिक आप के एक बड़े नेता ने दावा किया है कि तीन दिनों के भीतर दिल्ली का मुख्यमंत्री बदल जाएगा.

इससे पहले कुमार विश्वास ने एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने लिखा है कि सॉरी बॉस, पुराने पैंतरे नहीं चलेंगे. बाद में कुमार मीडिया के सामने आए और रूंधते गले से बोले, 'मैं पार्टी की गलती पर चुप नहीं रहूंगा. लगातार 6 हार के बाद कार्यकर्ता हताश हुए हैं. मुझे सीएम बनने की चाहत नहीं है. कुमार ने कहा कि मेरे खिलाफ साजिश हुई है. मैं अपने वीडियो के लिए माफी नहीं मानूंगा. सत्यमेव जयते.'

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi

लाइव

3rd ODI: England 59/6Jonny Bairstow on strike