S M L

अखाड़े में बदली दिल्ली विधानसभा, कपिल मिश्रा बोले, 4-5 विधायकों ने मुझे मारा

कपिल मिश्रा रामलीला मैदान में विशेष सत्र कराने के लिए बैनर लहरा रहे थे

FP Staff | Published On: May 31, 2017 03:36 PM IST | Updated On: May 31, 2017 03:36 PM IST

अखाड़े में बदली दिल्ली विधानसभा, कपिल मिश्रा बोले, 4-5 विधायकों ने मुझे मारा

दिल्ली विधानसभा में बुधवार को अजीबो-गरीब नजारा देखने को मिला. देखते ही देखते सदन अखाड़े में कब तब्दील हो गया पता ही नहीं चला. आम आदमी पार्टी के विधायकों और कपिल मिश्रा के बीच हाथापाई हुई. मामले को बढ़ता देख स्पीकर ने कपिल मिश्रा को विधानसभा के विशेष सत्र से बाहर निकाल दिया. मिली जानकारी के अनुसार, कपिल मिश्रा रामलीला मैदान में विशेष सत्र कराने के लिए बैनर लहरा रहे थे. इसी दौरान आप विधायकों से उनकी हाथापाई हो गई.

कपिल ने कहा कि 300 करोड़ रुपए के घोटाले की बात हो रही थी, लेकिन केजरीवाल ठहाके लगा कर हंस रहे थे. मुझ पर विधायकों ने घेर कर हमला किया. ऐसा इस देश में पहले कभी नहीं होगा. ये देश के लोकतंत्र का सबसे शर्मनाक दिन है.

विधानसभा से बाहर निकल कपिल मिश्रा ने कहा, मैंने कल विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिख कर 5 मिनट का वक्त मांगा था. वहीं, अरविंद केजरीवाल और सत्येंद्र जैन के घोटालों पर रामलीला मैदान में खुला विशेष सत्र बुलाने की मांग की थी. इसी मुद्दे पर विधानसभा में अपना पक्ष रख रहा था. इस दौरान मदनलाल और अमानतुल्ला खान जैसे विधायक लात-घूसे से मारने लगे. आप विजुअल निकालेंगे तो मालूम पड़ेगा कि मनीष सिसोदिया के इशारे पर मारपीट हुई है.

बता दें कपिल मिश्रा ने दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को एक पत्र लिखा था. इसमें उन्होंने लिखा था, 'मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन के खिलाफ कुछ सबूत जनता के सामने रखना चाहते हूं. इसके लिए जरूरी है कि सदन का विशेष सत्र खुले में यानी की रामलीला मैदान में बुलाया जाए. अगर अरविन्द केजरीवाल और सतेन्द्र जैन को अपनी ईमानदारी पर जरा सा भी भरोसा होगा तो वह मेरी इस मांग का समर्थन करेंगे.

कपिल मिश्रा ने आरोप लगाते हुए कहा था, मेरे पास भ्रष्टाचार, हवाला लेन-देन, विदेश यात्राओं और दूसरे आरोपों से संबंधित सभी सबूत मौजूद हैं. जो में रामलीला मैदान में जनता के सामने रखूंगा.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi