S M L

कपिल मिश्रा और केजरीवाल: खुलकर तू तू मैं मैं करने का ले रहे हैं मजा

कपिल मिश्रा के ताजा आरोप 400 करोड़ के वॉटर टैंकर घोटाले से अलग हैं.

Debobrat Ghose Debobrat Ghose | Published On: May 09, 2017 05:06 PM IST | Updated On: May 09, 2017 10:24 PM IST

कपिल मिश्रा और केजरीवाल: खुलकर तू तू मैं मैं करने का ले रहे हैं मजा

दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर सोमवार को भी हमले जारी रखे. अब उन्होंने कहा है कि वो केजरीवाल सरकार में चल रहे भ्रष्टाचार, अनियमितताओं, वित्तीय गड़बड़ियों और भाई-भतीजावाद के सबूत सीबीआई को सौंपेंगे. वो इस बारे में एक एफआईआर भी दर्ज कराने को कह रहे हैं.

कपिल मिश्रा के ताजा आरोप 400 करोड़ के वॉटर टैंकर घोटाले से अलग हैं. उनके नए आरोप अब सीधे अरविंद केजरीवाल पर हमला करने वाले हैं. अब तक केजरीवाल के बारे में ये माना जाता था कि वो निजी तौर पर भ्रष्टाचार के किसी मामले में नहीं शामिल हैं.

रविवार को कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया था कि उन्होंने अरविंद केजरीवाल को सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपए की रिश्वत लेते हुए खुद देखा था. उस वक्त आम आदमी पार्टी के तमाम नेताओं ने केजरीवाल का बचाव किया था. उन्होंने कपिल मिश्रा के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था.

लेकिन अब कपिल मिश्रा ने टैंकर घोटाले से बात आगे बढ़ा दी है. अब कपिल मिश्रा ने आम आदमी पार्टी के नेताओं-कार्यकर्ताओं के अलावा अफसरों और आम आदमी से भ्रष्टाचार के सबूत देने की अपील की है. कपिल मिश्रा ने बताया कि उन्होंने इसके लिए एक नया ई-मेल अकाउंट (letscleanaap@gmail.com) भी बनाया है.

इस ई-मेल पर कोई भी भ्रष्टाचार क सबूत भेज सकता है. इसमें उसकी पहचान जाहिर नहीं की जाएगी. अपने पुराने आरोप दोहराते हुए अब कपिल मिश्रा ने केजरीवाल की साफ छवि पर सीधा हमला किया है. वो केजरीवाल की ही तरह आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्य रहे हैं.

सोमवार को कपिल मिश्रा ने कहा

मैं केजरीवाल के खिलाफ सारे सबूत सीलबंद लिफाफे में सीबीआई को मंगलवार को दूंगा. मैं एक एफआईआर भी करूंगा.

उन्होंने आरोप लगाया कि सत्येंद्र जैन ने केजरीवाल के साढ़ू के लिए छतरपुर फार्म्स में 60 एकड़ जमीन का सौदा कराने में मदद की थी. ये डील 50 करोड़ की थी.

आम आदमी पार्टी में सबको पता है कि बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मैंने सबसे ज्यादा आवाज उठाई.

कपिल मिश्रा ने कहा कि वो बीजेपी में नहीं जाएंगे. वो जिंदगी भर आम आदमी पार्टी में बने रहेंगे.

कपिल मिश्रा ने कहा कि मेरे खिलाफ न तो भ्रष्टाचार का कोई केस है और न ही कोई आरोप.

कपिल मिश्रा ने कहा कि शाम को आम आदमी पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी यानी पीएसी की बैठक में मुझे पार्टी से बाहर करने का फैसला लिया जाएगा.

कपिल मिश्रा ने कहा कि पंजाब में पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मुझे बताया कि वहां टिकट बांटने के लिए पैसे, शराब और औरतों का लेन-देन हुआ.

ये भी पढ़ें: चंदे के हेर-फेर के आरोप में आप को इनकम टैक्स विभाग का नोटिस 

केजरीवाल पर आरोप हैं कि उन्होंने अपनी पत्नी के जीजा को आर्थिक फायदा पहुंचाया है

केजरीवाल पर आरोप हैं कि उन्होंने अपनी पत्नी के जीजा को आर्थिक फायदा पहुंचाया है

 केजरीवाल पर आरोप 

कांग्रेस ने सोमवार को उप-राज्यपाल अनिल बैजल को चिट्ठी लिखी. पार्टी ने मांग की कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनके मंत्रियों पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच हो. पार्टी ने इसके लिए शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट का हवाला दिया.

शुंगलू कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में केजरीवाल सरकार में चल रहे भाई-भतीजावाद और गड़बड़ियों पर विस्तार से जानकारी दी थी. इस कमेटी के प्रमुख पूर्व सीएजी वी के शुंगलू थे.

अपनी रिपोर्ट तैयार करने के लिए कमेटी ने दिल्ली सरकार की 404 फाइलों की पड़ताल की थी. कमेटी ने कहा था कि केजरीवाल सरकार की कई नियुक्तियो में गड़बड़ियां हुईं.

कमेटी ने निकुंज अग्रवाल को स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का विशेष अधिकारी बनाने पर भी सवाल उठाए थे. निकुंज अग्रवाल केजरीवाल की पत्नी के रिश्तेदार हैं.

कपिल मिश्रा और मयंक गांधी का आरोप

दिल्ली नगर निगम चुनाव के वोटो की गिनती से एक दिन पहले मयंक गांधी ने केजरीवाल के खिलाफ खुला खत लिखा था. मयंक गांधी आम आदमी पार्टी के महाराष्ट्र में नेता थे. उन्होंने इस चिट्ठी में केजरीवाल पर करारा वार किया था.

मयंक गांधी ने लिखा था कि वो अन्ना के आंदोलन के दौरान केजरीवाल से मिले थे और दोनों में तुरंत दोस्ती हो गई थी.

मयंक ने लिखा कि, 'मैं पूरी विनम्रता से आपसे कह रहा हूं कि आप अपना अहंकार छोड़ दें. अपनी अान को छोड़ दें. इससे देश का भला होगा. याद रखें कि देश पहले है पार्टी उसके बाद आती है और कोई इंसान उसके भी बाद आता है. ये देश हीरो चाहता है. क्या आप वो हीरो बन पाएंगे?'

मयंक गांधी की तरह ही कपिल मिश्रा ने कहा कि आज जो केजरीवाल हैं वो पहले जैसे नहीं रहे. हम उस केजरीवाल की पूजा और सम्मान करते थे. आज वो केजरीवाल हैं जिन्हें मैने सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपए रिश्वत लेते देखा था.

ये भी पढ़ें: चौतरफ घिर गए हैं केजरीवाल,  विधायक कर सकते हैं खेल

केजरीवाल पर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को बचाने का आरोप है

केजरीवाल पर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को बचाने का आरोप है

टैंकर घोटाले का जिन्न

शनिवार को ही टैंकर घोटाले का जिन्न एक बार फिर जाग उठा था. केजरीवाल ने कपिल मिश्रा को मंत्रिपद के हटा दिया था. रविवार की सुबह मिश्रा ने आरोप लगाया कि उन्होंने केजरीवाल को दो करोड़ रुपए घूस लेते देखा था. वो ये पैसे अपने मंत्री सत्येंद्र जैन से ले रहे थे.

इसके बाद कपिल मिश्रा ने कई और आरोप लगाए. इसके जवाब में केजरीवाल के समर्थक नेताओ ने भी कई आरोप कपिल मिश्रा पर लगाए. जिस टैंकर घोटाले से आम आदमी पार्टी कांग्रेस को घेरना चाहती थी वो घोटाला उसी के गले पड़ गया.

एक तरह टैंकर घोटाले में ढिलाई के आरोप और दूसरी तरफ कपिल मिश्रा के आरोपों की वजह से केजरीवाल के लिए चुनौती काफी बढ़ गई है.

जब 2015 में आम आदमी पार्टी दूसरी बार सत्ता में आई तो उसने 400 करोड़ के टैंकर घोटाले की पड़ताल के लिए कमेटी बनाई. असल में 2012 में दिल्ली जल बोर्ड ने स्टील के 385 टैंकर किराए पर लिए थे. ये शीला दीक्षित के राज में हुआ था.

कपिल मिश्रा की बनाई पांच सदस्यों की कमेटी ने अपनी रिपोर्ट अगस्त 2015 में केजरीवाल को सौंप दी. रिपोर्ट में कहा गया था कि टैंकर घोटाला 400 करोड़ रुपए का था. टैंकर किराए पर लेने के बहाने सरकारी खजाने को 400 करोड़ का चूना लगाया गया था.

कमेटी ने सिफारिश की थी कि पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के खिलाफ सीबीआई को और एंटी करप्शन ब्यूरो को एफआईआर करनी चाहिए. कपिल मिश्रा ने इस बारे में प्रधानमंत्री मोदी और उस वक्त के उप राज्यपाल नजीब जंग को चिट्ठी लिखी थी. इसमें उन्होंने कहा था कि सीबीआई या एसीबी शीला दीक्षित पर लगे आरोपों की जांच करे.

इसी बीच बीजेपी विधायक विजेंद्र गुप्ता ने भी उप राज्यपाल नजीब जंग से शिकायत की थी कि अरविंद केजरीवाल..शीला दीक्षित के खिलाफ रिपोर्ट को दबा रहे हैं. जून 2016 में एंटी करप्शन ब्यूरो ने केजरीवाल और शीला दीक्षित के खिलाफ एफआईआर दर्ज की. केजरीवाल का नाम विजेंद्र गुप्ता की शिकायत के बाद जोड़ा गया था.

पॉपुलर

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi