S M L

कोल ब्लॉक आवंटन घोटाले में पूर्व कोयला सचिव एच सी गुप्ता को दो साल की सजा

सीबीआई की विशेष अदालत ने कोयला मंत्रालय के दो और अधिकारियों को भी एक-एक लाख रुपए का जुर्माना और दो साल की सजा सुनाई है

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: May 22, 2017 07:36 PM IST

0
कोल ब्लॉक आवंटन घोटाले में पूर्व कोयला सचिव एच सी गुप्ता को दो साल की सजा

सीबीआई की विशेष अदालत ने कोल ब्लॉक आवंटन घोटाले में पूर्व कोयला सचिव एच सी गुप्ता को दो साल की सजा सुनाई है. सीबीआई की विशेष अदालत ने कोयला मंत्रालय के दो और अधिकारियों को भी एक-एक लाख रुपए का जुर्माना और दो साल की सजा सुनाई है.

सीबीआई की विशेष अदालत ने कमल स्पॉन्ज स्टील एंड पावर लिमिटेड (केएसएसपीएल) के मैनेजिंग डायरेक्टर पवन कुमार आहलूवालिया को भी तीन साल की सजा के साथ 30 लाख रुपए जुर्माना लगाया है. वहीं केएसएसपीएल कंपनी पर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है.

सीबीआई की विशेष अदालत से सभी आरोपियों को तुरंत जमानत भी मिल गई है. इस मामले में सुनवाई का सामना कर रहे सीए अमित गोयल को सभी आरोपों से मुक्त कर दिया गया.

हम आपको बता दें कि पिछले शुक्रवार को सीबीआई की विशेष अदालत ने पूर्व कोल सेक्रेटरी एच सी गुप्ता और अन्य पर आरोप तय किए थे.

सीबीआई की विशेष न्यायधीश भारत पराशर ने कोयला मंत्रालय के तात्कालीन सचिव एच सी गुप्ता, ज्वाइंट सेक्रेटरी के एस क्रोफा, तत्कालीन निदेशक के सी समारिया और अन्य को दोषी ठहराया था.

क्या था मामला?

अदालत ने सभी आरोपियों को मध्यप्रदेश के थेसगोड़ा रूद्रपुरी कोयला ब्लॉक आवंटन में की गई अनियमितता का दोषी पाया था. सीबीआई ने आरोप लगाया था कि कंपनी ने अपनी नेट वर्थ और मौजूदा क्षमता को गलत बताया था.

सीबीआई ने कहा कि राज्य सरकार ने भी कंपनी को कोई कोयला ब्लॉक आवंटित करने की कोई सिफारिश नहीं की थी. फिर भी ठेके दिए गए. हालांकि, सुनवाई के दौरान आरोपियों ने आरोपों को गलत बताया.

अदालत में सुनावई के दौरान सीबीआई ने कहा था कि केएसएसपीएल द्वारा कोल ब्लॉक के लिए दायर किए गए अवेदन अधूरा था. मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप नहीं होने के बावजूद मंत्रालय ने केएसएसपीएल को कोल ब्लॉक आवंटित किया.

कुछ महीने पहले ही सीबीआई की विशेष अदालत ने कहा था पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को उस समय के तात्कालीन कोयला सचिव एच सी गुप्ता ने अंधेरे में रखा. कोर्ट ने एच सी गुप्ता को विश्वास का उल्लंघन करने का भी दोषी पाया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi